पिछले कुछ समय से इंटरनेट ग्रोथ के साथ जब काम करने के लिए जगह ही दूरियां बैरियर नहीं बनतीं तो अब काम करने का कोई निश्चित समय नहीं रह गया है। जो लोग विदेशों के लिए काम करते हैं, उनकी अक्सर नाइट शिफ्ट होती है। इतना ही नहीं, कई ऐसी एमएनसी कंपनियां हैं, जहां पर लोगों को नाइट जॉब करनी पड़ती है। मसलन, कॉल सेंटर जॉब केवल डे टाइम में ही नहीं, बल्कि नाइट टाइम में भी होती है।

सुनने में यह भले की आकर्षक लगे, क्योंकि रात में जॉब करने के बाद आपका पूरा दिन फ्री होता है। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। नाइट शिफ्ट में काम करने की अपनी कुछ प्रॉब्लम्स होती है। मसलन, ऐसे लोगों को अक्सर नींद से जुड़ी समस्याएं होती हैं या फिर ऐसे लोग ओवरवेट की समस्या का भी सामना करते हैं। कभी-कभी उन्हें बेहतर तरीके से काम करने में भी परेशानी होती है। हो सकता है कि आप भी ऐसी ही किसी समस्या से जूझ रही हों, लेकिन आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे आसान टिप्स के बारे में बता रहे हैं, जो आपको नाइट शिफ्ट में काम करते हुए आपके बेहद काम आ सकते हैं-

जरूर बनाएं शेड्यूल

अगर आपकी नाइट शिफ्ट होती है, तो आप अपने टाइम से ऑफिस वर्क शुरू कर देते हैं। ठीक उसी तरह, कोशिश करें कि आप पूरे दिन के लिए एक शेड्यूल बनाएं और उसे फॉलो भी करें। शेड्यूल बनाने से आपको ना केवल ऑफिस के घंटों में बेहतर तरीके से काम करने की प्रेरणा मिलती है, बल्कि आप अन्य भी काम समय पर पूरा कर पाते हैं। जिससे आप अपने लिए भी समय निकाल पाते हैं और नाइट शिफ्ट का मेंटल प्रेशर आप पर हावी नहीं होता। 

night shift and rules 

इसे जरूर पढ़ें- वर्क फ्रॉम होम में भी जरूरी है खुद को आर्गेनाइज करना, जानिए कैसे करें इसे

खाने पर करें फोकस

जब आप नाइट शिफ्ट में काम कर रहे हैं तो यकीनन आपको बीच-बीच में कुछ ना कुछ खाने की इच्छा होती है। लेकिन इस दौरान चाय-कॉफी या अनहेल्दी स्नैक्स को ना खाएं। बल्कि आप कुछ फल या हेल्दी लाइट स्नैक्स को प्राथमिकता दें। यह आपकी बॉडी में एनर्जी लेवल को मेंटेन करने में मदद कर सकते हैं। आमतौर पर, नाइट शिफ्ट में काम करने वाले लोगों का एनर्जी लेवल लो होता है और अगर हैवी व अनहेल्दी स्नैक्स खाए जाएं तो इससे बॉडी पर विपरीत असर पड़ता है। इसके अलावा, नाइट शिफ्ट शुरू करने से पहले भी हैवी फूड खाना अवॉयड करें। इससे नींद आने लगती है।

rules for night shift

हाइड्रेटेड रहें

नाइट शिफ्ट में काम करते समय आपको सिर्फ अपने खाने पर ही ध्यान नहीं देना, बल्कि आपको यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि आप हाइड्रेटेड रहें। यह रात में काम के दौरान आपको अधिक ऊर्जावान और सतर्क रहने में मदद करेगा। हालांकि, पेयर पदार्थो के रूप में सोडा और फलों के रस से बचें, क्योंकि यह आपकी बॉडी में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाते हैं। इसकी जगह पानी पीएं। पर्याप्त पानी पीने से शरीर के तापमान को नियंत्रित करने, संक्रमण को रोकने, कोशिकाओं को पोषक तत्व पहुंचाने और अंगों को ठीक से काम करने में मदद मिलती है।

नींद के साथ समझौता नहीं

जो लोग नाइट शिफ्ट में काम करते हैं, उनके साथ यह समस्या बेहद ही कॉमन है। ऐसे लोगों को रातभर जागना पड़ता है, जिसके कारण उनका स्लीप साइकल डिस्टर्ब होता है और वह फिर दिन में केवल तीन-चार घंटे ही सोते हैं। ऐसा बिल्कुल भी ना करें। जब आपकी नाइट शिफ्ट कंप्लीट हो। आप लाइट ब्रेकफास्ट करें और फिर सो जाएं। भले ही आप अर्ली मार्निंग में सो रहे हैं, लेकिन यह सुनिश्चित करें कि आप दिन में कम से कम सात से आठ घंटे की नींद अवश्य लें। 

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- कोरोना वायरस के चलते घर से काम करने पर दिया जा रहा है जोर, जानिए इसके कई लाभ 

जरूर करें व्यायाम 

यूं तो एक्सरसाइज करना हर किसी के लिए आवश्यक है। लेकिन नाइट शिफ्ट में काम करने वाले लोगों को कई तरह ही हेल्थ प्रॉब्लम्स होने का रिस्क काफी बढ़ जाता है। ऐसे में आप व्यायाम को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। इसमें आप कार्डियो से लेकर स्ट्रेचिंग व अन्य एक्सरसाज को शामिल करें। इसके अलावा, योगाभ्यास भी करें। यह नाइट शिफ्ट के स्ट्रेस को काफी हद तक कम करता है और आपको हेल्दी बनाता है।

 अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit- freepik