दांतों की देखभाल करना जितना बड़ों के लिए जरूरी होता है उतना ही बच्चों के लिए भी होता है। लेकिन यह सच है कि बड़े तो जानते हैं कि दांत साफ करना कितना जरूरी होता है, लेकिन बच्चों को इस बारे में पता नहीं होता है। जिसके चलते वह या तो कोलगेट को खा जाते हैं या फिर दांत साफ करने से कामचोरी करते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि पेरेंट्स के पास यह देखने का समय ही नहीं होता है कि उनका बच्चा दांत साफ कर भी रहा है या नहीं! इसके अलावा सही तरीका न पता होने के अभाव में भी पेरेंट्स बच्चों तक दांत साफ करने के सही तरीके और फायदे की जानकारी नहीं दे पाते हैं। जिसका नतीजा यह होता है कि बच्चे दांतों से संबंधित रोगों से तो घिरते ही हैं साथ ही उनमें जिंदगीभर दांत साफ न करने की आदत लग जाती है। जबकि अगर पेरेंट्स बच्चों में बचपन से ही दांत साफ करने की आदत डाल दें तो डेंटल हाइजीन मेन्टेन रहती है। आज इस आर्टिकल में हम आपको बच्चों को डेंटल हाइजीन समझाने के तरीके बता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: सुबह बच्चे को जल्दी उठाने के लिए अपनाएं ये 5 आसान तरकीबें

ब्रश करने का सही तरीका बताएं

teach children the right way to take care of their teeth inside four

अगर बच्चों को ब्रश करने का सही तरीका पता हो तो वह अपने दांतों की काफी हद तक देखभाल कर सकते हैं। इसलिए दांत साफ करने के लिए जोर देने से पहले आपको बच्चों को इसका सही तरीका भी बताना चाहिए। बच्चों को बताएं कि अगर वह एक बार सुबह व एक बार रात में अपने दांत साफ करेंगे तो कीड़ा उनके दांत से चॉकलेट नहीं चुराएगा। इस लालच में बच्चे निश्चित तौर पर दिन में 2 बार ब्रश करेंगे। इस तरह धीरे धीरे उनकी यह आदत बन जाएगी।

टूथपेस्ट को थूकना सिखाएं

teach children the right way to take care of their teeth inside three

क्योंकि टूथपेस्ट का टेस्ट मीठा और नमकीन होता है इसलिए बच्चे इसे थूकने के बजाय इसे खा जाते हैं। लेकिन अगर आपको लगता है कि बच्चा लाख समझाने के बाद भी ऐसा नहीं कर रहा है तो उनके लिए फ्लोराइड मुक्त टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें। यह खासतौर पर छोटे बच्चों के लिए ही बनाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: चाइल्ड हेल्थ के साथ न करें किसी तरह का समझौता, चुनें कुछ इस तरह आहार

मीठा खाने के बाद ब्रश कराएं

teach children the right way to take care of their teeth inside two

बच्चे चॉकलेट के साथ मीठी चीजें खाना भी बहुत पसंद करते हैं। बच्चों को मीठा खिलाने से पहले उनसे यह प्रामिस कर लें कि वह इसके बाद ब्रश जरूर करेंगे। क्योंकि मीठा खाने के बाद अगर सही तरह से कुल्ला न किया जाए या ब्रश न किया तो दांतों में कीड़ा लग जाता है।

खुद भी करें बच्चों के साथ ब्रश

teach children the right way to take care of their teeth inside one

बच्चों में नकल करने की बहुत जबरदस्त आदत होती है, खासकर की अपनी मां की। अगर आप खुद दिन में 2 बार करेंगी, खाने के बाद कुल्ला करेंगी और मीठा खाने के बाद भी पेस्ट करेंगी तो आपका बच्चा भी आपकी नकल करेगा और आपको उसे यह समझाना भी नहीं पड़ेगा।