• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Hema Pant
  • Editorial

चाय पीना है पसंद तो पहले जान लें इसके नुकसान

भारतीय चाय के आदी होते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा चाय पीने से शरीर को कई तरह के नुकसान हो सकते हैं। 
author-profile
  • Hema Pant
  • Editorial
Published -09 Jun 2022, 13:40 ISTUpdated -09 Jun 2022, 14:19 IST
Next
Article
reasons not to drink too much tea in hindi

Verified By Dietitian Expert Anupama Girotra

यह कहना गलत नहीं होगा कि भारतीय हर बात पर चाय पीने का बहाना ढूंढते हैं। खुशी हो या गम, सिर दर्द हो या ब्रेकअप चाय हर मर्ज की दवा है। यहां तक कि जब तक सुबह एक कप चाय न मिले, लोगों की आंखें ही नहीं खुलती हैं। चाय के साथ भारतीयों का रिश्ता महबूब की तरह है। जहां चाय वहां हम। लेकिन कहते हैं न किसी भी चीज की अति नुकसान जरूर पहुंचाती है। उसी तरह चाय का अत्यधिक सेवन भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। 

अगर आप भी चाय पीने के शौकीन हैं, तो इस आदत को कम करना शुरू कर दें। अधिक मात्रा में चाय पीने से किस तरह के नुकसान होते हैं, इस विषय पर हमने अनुपमा गिरोत्रा से बात की है, जो पेशे से डाइटिशियन और न्यूट्रीनिस्ट हैं। उन्होनें हमें बताया कि चाय पीना सेहत के लिए फायदेमंद नहीं होती है। 

नींद में कमी आना

drinking too much tea side effectsअगर आप ज्यादा चाय पीती हैं तो इस आदत को छोड़ दें। चाय में कैफीन पाया जाता है,जिससे नींद की समस्या हो सकती है। क्योंकि हमारे शरीर में मेलाटोनिन नामक एक हार्मोन पाया जाता है, जो हमारे दिमाग को यह बताता है कि अब सोना है। लेकिन कैफीन मेलाटोनिन प्रोडक्शन को रोक सकता है, जिसकी वजह से नींद में कमी आ सकती है। कम नींद यानी स्वास्थ्य संबंधी अन्य समस्याएं होना। जैसे थकान, याद्दाशत में कमी और चिड़चिड़ापन आदि। 

तनाव और घबराहट महसूस होना

भागदौड़ भरी इस जिंदगी में तनाव और घबराहट होना आम बात है। लेकिन इसके कारण होते हैं। जिनमें एक कारण चाय है। चाय का ज्यादा सेवन करने से तनाव और घबराहट महसूस होने लगती है। बता दें कि काली चाय में, हरी और सफेद चाय की तुलना में अधिक कैफीन पाया जाता है। 

दांतों का रंग हल्का होना

drinking too much tea side effects in hindiक्या आपके दांतों का रंग पीला पड़ गया है? दांतों पर दाग दिखने लगे हैं? इसका कारण ज्यादा मात्रा में चाय पीना है। काली, हरी और हर्बल चाय में टैनिन्स पाए जाते हैं, जिससे दांतों का रंग हल्का होने लगता है। जो लोग ग्रीन टी पीते हैं, उनके दांतों पर हल्के ग्रे कलर के दाग लग जाते हैं। वहीं काली चाय से पीले धब्बे पड़ जाते हैं। हालांकि, कई लोगों को लगता है कि कैमोमाइल और हिबिस्कस जैसी हर्बल चाय सही होती है। लेकिन ऐसा नहीं है। रोजाना इन चाय को पीने से भी दांतों पर असर पड़ सकता है। (PCOS में न खाएं ये चीजें)

इसे भी पढ़ें: इन पांच कारणों को जानने के बाद आप भी नहीं करेंगी कोल्ड ड्रिंक का सेवन

गर्भावस्था में परेशानी आना

expert quote on drinking too much teaगर्भावस्था का समय थोड़ा नाजुक होता है। इस दौरान महिलाओं को अपनी सेहत का खास ध्यान रखना चाहिए। अन्यथा कई तरह की समस्याएं शुरू होने लगती हैं। इसी तरह प्रेग्नेंसी के दौरान चाय पीने की सलाह नहीं दी जाती है। क्योंकि चाय पीने से मिस्कैरेज हो सकता है। साथ ही बच्चे का वजन भी कम हो जाता है। अगर आप प्रेग्नेंट हैं, तो आपको एक दिन में केवल 200 मिलीग्राम से अधिक कैफीन नहीं लेना चाहिए। ग्रीन और ब्‍लैक टी में 40-50 ग्राम कैफीन पाया जाता है। इसलिए अगर आप चाय पीने की आदी हैं तो इन चाय को पी सकती हैं। (वेजाइनल डिस्‍चार्ज के कारण और उपचार)

इसे भी पढ़ें: बड़े ब्रेस्ट से हैं परेशान तो डाइट में शामिल करें ये फूड्स, एक महीने में दिखेगा असर

पेट संबंधी समस्याएं होना

अगर आप जरूरत से ज्यादा चाय पीते हैं, तो अब इस आदत को कम करें। क्योंकि चाय पीने से पेट से संबंधित समस्याएं होने शुरू हो जाती हैं। जैसे पेट में जलन, सूजन और दर्द आदि। क्योंकि कैफीन एसिड प्रोडक्शन को बढ़ाता है। 

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुडे रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ। 

Image Credit: Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।