कई कपल्स बच्चे पैदा करने के लिए प्रोपर प्लानिंग करते हैं, मगर प्रोटेक्शन के बिना ऐसे चांसेस बन जाते हैं, जिस कारण प्रेग्‍नेंट होने की संभावना रहती है। अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए कई महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल करती हैं, जिसका इस्तेमाल लंबे समय तक करने पर शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ते हैं। इससे हार्मोन्स भी प्रभावित होते हैं और आपको कई समस्याएं हो सकती हैं। क्या आप जानती हैं कि प्रेग्‍नेंसी रोकने के लिए कई घरेलू उपचार का सहारा भी लिया जा सकता है? हालांकि ये तरीके 100 प्रतिशत प्रभावी नहीं हो सकते। ये तरीके प्रीकॉशनरी हैं। वैद्य हरिकृष्ण पांडे बताते हैं कि अनचाहे गर्भ को रोकन के लिए आपको ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, जो तासीर में गर्म हों। ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में आइए इस आर्टिकल में जानें।

खुबानी

khoobani to avoid pregnancy

खुबानी प्राकृतिक तरीके से गर्भधारण को रोक सकती है। अगर आप गर्भधारण रोकना चाह रही हैं, तो 100 ग्राम ड्राइड/ सूखी खुबानी आपके लिए काफी है। इसे दो कप पानी में डालकर कुछ देर उबालें और फिर इसमें 1 बड़ा चम्मच शहद डालकर इसे रोजाना पीएं।

पपीता

अगर आप फिजिकली एक्टिव हैं और आपको प्रेग्‍नेंसी का डर है, तो आप लगभग दस दिनों तक दिन में तीन बार पपीता खाएं। कच्चे पपीते में लैटेक्स पदार्थ होता है जो यूटरस के कॉन्ट्रैक्शन का कारण बनता है। इसमें मौजूद एक्टिव एंजाइम्स भी यूटरस को कॉन्ट्रैक्ट करते हैं, जो गर्भपात का कारण बनता है।

आड़ू

प्रेग्‍नेंसी के दौरान आड़ू न खाने की सलाह दी जाती है। कारण यह है कि आड़ू की तासीर भी गर्म होती है। इस दौरान ज्यादा मात्रा में आड़ू खाने से इंटरनल ब्लीडिंग हो सकती है और मिसकैरेज की संभावना होती है। अगर आप गर्भधारण से बचना चाहती हैं, तो रोजाना दिन में दो बार आड़ू का सेवन करें।

इसे भी पढ़ें :Expert Advice : अक्ल दाढ़ निकलवाने के बाद घर पर ऐसे करें अपनी केयर

पाइनएप्पल

pineapple for pregnancy

गर्भावस्था के दौरान पाइनएप्पल का सेवन हानिकारक हो सकता है और गर्भपात का कारण बन सकता है। कच्चे पाइनएप्पल या इसके रस का सेवन करने से गर्भपात हो सकता है, ऐसा इसमें मौजूद ब्रोमेलिन के कारण होता है, जिससे यूट्रस कॉन्ट्रैक्ट करता है और इस वजह से यूटेराइन सर्विक्स में नमी बनती है

इसे भी पढ़ें :जायफल तेल महिलाओं की हेल्‍थ के लिए है अद्भुत, ये 8 फायदे जानें

Recommended Video

जंगली सेब

रोजाना एक सेब खाने से कई बीमारियां दूर होती हैं, लेकिन इसका ज्यादा सेवन गर्भधारण को रोकता है। जंगली सेब एसिडिक होते हैं, जो आपके पेट में एसिड ज्यादा बनाते हैं। इस कारण यूट्रस का कॉन्ट्रैक्शन बढ़ जाता है और मिसैकरेज हो सकता है। अगर आप प्रेग्‍नेंसी रोकना चाहें, तो वाइल्ड एप्पल को दिन में तीन बार खाएं।

इंडियन टर्निप

turnip for pregnancy

गर्भावस्था को रोकने के लिए एक और घरेलू उपाय है शलजम। आप रोजाना शलजम की सूखी जड़ को पानी में कुछ देर भिगोकर रखें और इसे नियमित रूप से पीएं। शलजम का यह पानी पीने से आपको अनचाही प्रेग्‍नेंसी से छुटकारा मिलेगा।

इन तरीकों को आजमाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें। किसी भी चीज की पूरी जानकारी के बिना उसका सेवन करने से बचें। हो सकता है कि कुछ खाद्य पदार्थ आपको सूट न करें इसलिए उनका सेवन डॉक्टर से पूछे बिना न करें। आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें। ऐसे अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी के साथ।

 

Image Credit : freepik.com