सर्दियों में सिर में खुजली होना बहुत ही नॉर्मल है, ऐसा ड्राईनेस के कारण होता है। लेकिन कई लोगों के सिर में खुजली का कारण सफाई की कमी, डैंड्रफ या इंफेक्‍शन के कारण भी होता है। सिर के अलावा सर्दियों में ड्राईनेस के कारण खुजली हाथ, पैर, सिर, गर्दन या शरीर के किसी भी अंग पर हो सकती हैं। खुजाने पर कुछ समय के लिए तो आराम मिल जाता है लेकिन फिर से उस जगह पर खुजली होने लगती है और ज्‍यादा खुजाने से उस अंग पर चोट या इन्फेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती हैं। लेकिन अगर  खुजली शरीर के कई अंगो पर एक साथ हो जाए तो उसे ठीक करना मुश्किल हो जाता हैं। लेकिन आप परेशान ना हो क्‍योंकि आज हम आपके लिए ऐसे आसान टिप्‍स लेकर आए है जिसकी हेल्‍प से आप आसानी से अपनी खुजली को दूर कर सकती हैं। 

Read more: बदलते मौसम में सिर की खुजली के रामबाण घरेलू उपाय

नींबू
lemon for itchy skin inside

नींबू खुजली दूर करने वाला सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय है। और सबसे अच्‍छी बात ये आपके घर में आसानी से मिल भी जाता है और इस होम रेमिडी का इस्‍तेमाल बरसों से किया जा रहा है। जी हां नींबू में एसिडिक और सिट्रिक एसिड होते हैं जो स्वभाव में एंटीसेप्टिक और एंटी इर्रिटेटिंग होता है जिससे खुजली के ट्रीटमेंट में हेल्‍प मिलती हैं। इस होम रेमेडी को बरसो से इस्तेमाल किया जाता रहा हैं। नींबू के रस को पानी में निचोड़ ले और खुजली वाले जगह पर इसे लगा लें। आपको हल्‍की जलन महसूस हो सकती हैं। या दो चम्मच तुलसी के पत्तों का रस और दो चम्मच नींबू का रस दोनों को मिलाकर खुजली वाली जगह पर कॉटन की हेल्‍प से लगा लें।

नीम

कड़वी नीम को स्किन के लिए मीठा माना जाता है। जी हां नीम आपकी स्किन के लिए बहुत ही अच्‍छी होती है। नीम के पत्‍ते में एंटीसेप्टिक और एंटी बायोटिक गुण होते हैं जो खुजली को दूर भगाने में हेल्‍प करती है। नीम के पत्तों को पानी में उबाल लें और फिर इसके गुनगुने या फिर ठंडा होने पर नहाएं। या नीम के पत्‍ते पीसकर दही में मिलाकर खुजली वाली जगह पर लगाएं।

गेंदे के पत्तियां
marigold for itchy skin inside

गेंदे के पौधे की पत्तियों में एंटीबैक्टीरियल, एंटी वायरल और एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं। जिससे आपकी खुजली की समस्या दूर होती है। इसके लिए आप गेंदे की कुछ पत्तियों को पानी में डालकर उबाल लें। खुजली वाली जगह पर इस पानी को डालकर सफाई करें। अगर आप लगातार 7 दिनों तक ऐसा करती हैं तो आपकी खुजली जड़ से खत्म हो जाएगी। गेंदे का पौधा तो आपको आसानी से कही भी मिल जाएगा।

एलोवेरा

एलोवेरा में एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो स्किन इन्फेक्शन को दूर करने में आपकी हेल्‍प करते हैं। इसके साथ ही एलोवेरा में विटामिन ई मौजूद होता है जो त्वचा में नमी प्रदान करता हैं जिससे खुजली में आराम मिलता हैं। जी हां ये खुजली को दूर करने का सबसे अच्‍छा और आसान उपाय है। इसके इस्‍तेमाल के लिए खुजली वाली हिस्से पर एलोवेरा जैल लगाकर और उसे 15 मिनट तक सूखने दें और फिर हलके गर्म पानी से इसे धो लें।

सरसों का तेल
mustard oil for itchy skin inside

सर्दियों में खुजली होने का आम कारण स्किन में ड्राईनेस होता है और ड्राईनेस दूर करने के लिए सरसों के तेल से अच्‍छा कोई और उपाय हो ही नहीं सकता है। पहले समय में हमारे बुजुर्ग नहाने से पहले अपनी बॉडी में सरसों का तेल लगाते थे। ताकि उनके शरीर की खुश्‍की दूर हो जाए। आप भी ऐसा ही कर सकती हैं। जी हां सरसों को तेल स्किन में अंदर जाकर उसे पोषण और नमी देता है जिससे खुजली से छुटकारा पाने में हेल्‍प मिलती है।

Read more: जिद्दी दाद, खाज और खुजली को 7 दिन में जड़ से दूर कर देता है ये 1 फूल

इसके अलावा आप एलोवेरा जैल एवं नारियल तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर एक पेस्‍ट तैयार करके भी खुजली वाली स्किन पर लगा सकती हैं। तो देर किस बात की इन सर्दियों में आपको भी खुजली सताएं तो इन टिप्‍स को जरूर अपनाएं।

All image courtesy: Shutterstock.com

Recommended Video