आजकल का बदलता लाइफस्टाइल और खानपान की आदतों का असर हमारी सोने की आदतों पर भी पड़ता है। रात में देर से सोने की आदत या फिर पूरी रात नींद न आना ,ये कुछ ऐसी समस्याएं हैं जो स्वास्थ्य को भी नुक्सान पहुंचा सकती हैं। आइए जानें किन टिप्स को फॉलो करके आप रात में अच्छी नींद पा सकती हैं साथ ही आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा। 

सोने के लिए जरूरी है अनुशासन 

night sleeping ()

एक स्टडी के अनुसार अच्छे स्वास्थ्य के लिए एक वयस्क को हर दिन कम से कम 7-9 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है। विशेषज्ञों के अनुसार, रोज सोने की एक निश्चित अवधि होती है जो नींद की नींद की गुणवत्ता को बेहतर बनाने में मदद करती है। सोने का एक निश्चित समय या यूं कहा जाए कि सोने के लिए भी अनुशाशन का पालन करना जरूरी है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह अनुशासन आंतरिक बॉडी क्लॉक को शरीर के अनुसार चलाने में मदद करता है और बॉडी क्लॉक एक नियत समय पर सोने के लिए प्रेरित करती हैं। 

सोने की उचित व्यवस्था

night sleeping ()

अच्छी नींद के लिए नींद की अच्छी व्यवस्था का होना बहुत जरूरी है। सोने से पहले सुनिश्चित करना जरूरी है कि कमरे में प्रकाश की व्यवस्था कैसी है ? गद्दे आरामदायक हैं या नहीं ,तकियों का भी आरामदायक होना जरूरी है, कमरे का तापमान आपकी सुविधानुसार है या नहीं बिस्तर ये सभी ऐसे कारक हैं जो अच्छी नींद के लिए जरूरी हैं। इसलिए इन बातों को ध्यान में रखते हुए सोना आपको अच्छी नींद से सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें: क्या आप अपनी उम्र से ज्यादा बड़ी दिखती हैं ? भूलकर भी न करें ये गलतियां

कैफीन का सेवन कम करना 

night sleeping coffee ()

कैफीन एक उत्तेजक तेज दिमाग की गतिविधि के रूप में कार्य करता है जो अंततः नींद की अवधि और गुणवत्ता को कम कर देता  है। आदर्श रूप से, किसी को सोने से कम से कम छह घंटे पहले किसी भी कैफीन युक्त पेय जैसे चाय या कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। यदि आप किसी रूप में कैफीन लेना चाहती हैं तो हर्बल या ग्रीन टी इसका एकअच्छा विकल्प है क्योंकि ये व्यक्ति के दिमाग और शरीर को गहरी नींद में सुलाने में मदद करती है। 

नियमित व्यायाम करना 

night sleeping ()

कोई भी शारीरिक गतिविधि या व्यायाम वास्तव में किसी के स्वास्थ्य को बढ़ाने में मदद करता है, बशर्ते व्यायाम ठीक प्रकार से किया जाए। व्यायाम शरीर में सेरोटोनिन के स्तर को बढ़ाता है, कोर्टिसोल को कम करता है जिसे तनाव का हार्मोन माना जाता है, इस प्रकार रात में नींद की अवधि और गुणवत्ता में वृद्धि होती है। यह देखना आवश्यक है कि आप नियमित रूप से व्यायाम करें लेकिन केवल सुबह या दिन में व्यायाम करना आपके लिए लाभदायक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि व्यायाम अक्सर शरीर को गर्म करता है,जो केवल दिन के दौरान फायदेमंद है और रात में नहीं जब आप चाहते हैं कि आपका शरीर सभी तनावों से मुक्त हो और आराम करे।

इसे जरूर पढ़ें: क्या आप जानती हैं एसेंशियल ऑयल के ये हेल्थ बेनिफिट्स

Recommended Video


भोजन की अति से बचें  

अच्छी नींद के लिए भोजन का स्वास्थप्रद होना भी जरूरी है। लेकिन यदि आप सोने से ठीक पहले ज्यादा मात्रा में भोजन करती हैं, तो ये अच्छी नींद में बाधा उत्पन्न कर सकता है। इसलिए जहाँ तक हो सके रात के समय भोजन की अति से बचें और सोने के कम से कम 2 घंटे पहले भोजन कर लें। 

धूम्रपान न करें 

night sleeping ()

कैफीन की ही तरह रात्रि के समय धूम्रपान करना हानिकारक है क्योंकि इनमें  निकोटीन की भरपूर मात्रा होती है जो एक  उत्तेजक के रूप में कार्य करके नींद चक्र को बाधित करती है। धूम्रपान आपके स्वाभाविक रूप से होने वाली थकावट को शांत करता है जिससे अच्छी नींद नहीं आ पाती है ।

गैजेट्स से बनाएं दूरी 

night sleeping ()

रात में जागने के सबसे आम कारणों में से एक है इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों जैसे मोबाइल,लैपटॉप या टीवी का लम्बे समय तक इस्तेमाल करना। यह न केवल आपकी आंखों के लिए हानिकारक है, बल्कि नींद में व्यवधान भी है। टीवी देखने से लेकर, सेल फोन का उपयोग करके वीडियो गेम खेलने तक, सोने से पहले की ये गतिविधियाँ बाधित नींद के सबसे आम ट्रिगर्स में से हैं। 

अपनी जीवनशैली में थोड़ा सा सुधार , हेल्दी खान-पान की आदतें और उपर्युक्त सभी बातें आपको अच्छी नींद पाने में मदद कर सकती हैं और आपको स्वस्थ बनाए रख सकती हैं।   

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik