• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial, 19 Mar 2022, 15:23 IST

हाथ जल जाने पर भूल से भी ना करें ये पांच मिसटेक्स

अगर किचन में काम करते हुए आपका हाथ गलती से जल गया है तो आपको उस दौरान यह गलतियां नहीं करनी चाहिए।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial, 19 Mar 2022, 15:23 IST
Next
Article
burning treatment mistakes you should avoid

किचन में कभी पूरी सेंकते हुए तो कभी रोटी बनाते हुए अक्सर महिलाओं का हाथ जल जाता है। इस दौरान यकीनन काफी दर्द होता है। आपका हाथ चाहे थोड़ा जला हो या फिर ज्यादा, उसे तुरंत ट्रीटमेंट की आवश्यकता होती है। आमतौर पर, हाथ अगर जरा सा ही जलता है तो महिलाएं घर पर ही प्राथमिक उपचार कर लेती हैं। 

ट्रीटमेंट के जरिए ना केवल दर्द व जलन को कम किया जा सकता है, बल्कि उस स्थान को छाले पड़ने से भी बचाया जा सकता है। लेकिन ऐसा केवल तभी संभव है, जब आप तुरंत और सही ट्रीटमेंट करें। अमूमन जल जाने पर कुछ लोग उस स्थान पर बर्फ लगाना शुरू कर देते हैं तो कुछ बहते पानी के नीचे हाथ को रखते हैं। हालांकि, किसी भी उपाय को अपनाते समय आपको यह पता होना चाहिए कि कौन सा उपचार सही रहेगा और उसे करने का सही तरीका क्या होना चाहिए। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको स्किन के जल जाने पर की जाने वाली कुछ कॉमन मिसटेक्स के बारे में बता रहे हैं, जिनसे आपको बचना चाहिए-

जले हुए पर बर्फ रगड़ना

Burning

यह एक कॉमन मिसटेक होती है, जिसे अक्सर लोग करते हैं। उन्हें जब स्किन में जलन का अहसास होता है तो वह खुद को ठंडक पहुंचाने के लिए प्रभावित स्थान पर बर्फ रब करते हैं। लेकिन आपको भूल से ऐसा नहीं करना चाहिए। इससे आपको थर्मल इंजरी हो सकती है और आपके स्किन टिश्यू डैमेज हो सकते हैं। आप यकीनन हीट इंजरी के उपर कोल्ड इंजरी को एड नहीं करना चाहेंगे। इसलिए, हमेशा रूम-टेंपरेचर के नल के पानी के साथ ही अपने हाथ का इलाज करें।

अगर पानी का करें इस्तेमाल

जल जाने पर फर्स्ट एड के रूप में नल के पानी के नीचे हाथ रखने के लिए कहा जाता है। यकीनन यह एक बेहतर उपाय है जो छाले होने से भी रोकता है। लेकिन इस दौरान भी कुछ लोग गलती कर बैठते हैं। वह केवल एक-दो मिनट के लिए ही हाथों को नल के बहते पानी के नीचे रखते हैं। इसके बजाय आप घाव को नल के पानी के नीचे कम से कम 10 मिनट तक रखें। इससे आपको काफी राहत मिलेगी और फिर एक फर्स्ट एड बर्न क्रीम या पेट्रोलियम जेली लगाकर बैंडेज लगाएं।

इसे जरूर पढ़ें- कैसे करें जोड़ों के दर्द का इलाज? ये आयुर्वेदिक टिप्स करेंगी मदद

घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करना

Mistakes Burning Treatment

अमूमन यह देखा जाता है कि स्किन के जल जाने पर महिलाएं किचन में मौजूद ही कुछ आइटम्स जैसे मेयोनीज, सरसों, शहद या मक्खन आदि लगाना पसंद करती हैं। इतना ही नहीं, जल जाने पर टूथपेस्ट लगाना बेहद ही कॉमन है (टूथपेस्ट कर सकता है ये अनोखे काम)। हालांकि यह जरूरी नहीं है कि यह प्रोडक्ट्स जले हुए घाव को बदतर बना दें, वे उसके हीलिंग प्रोसेस को स्लो डाउन कर सकते हैं। और अगर वे किसी भी तरह से दूषित हैं, तो वे संक्रमण का कारण बन सकते हैं।

जले हुए फफोलों को पॉप करना

कई बार स्किन के जल जाने पर फफोले पड़ जाते हैं। ऐसे में लोग उन्हें खुद ही अपने हाथों से फोड़ देते हैं। जबकि आपको वास्तव में ऐसा नहीं करना चाहिए। इससे आपकी स्किन में इंफेक्शन होने का खतरा काफी बढ़ा जाता है। बेहतर होगा कि आप डॉक्टर के पास जाएं। वह फफोले को हटा सकते हैं और नीचे की स्किन को प्रोटेक्ट करने के लिए ड्रेसिंग कर सकते हैं।

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- दांतों में बार-बार होता है दर्द तो ये 10 आसान घरेलू नुस्खे आएंगे काम

सन एक्सपोजर

burning Mistakes

कुछ लोग हाथ के जल जाने के बाद भी किसी ना किसी काम से बाहर जाते हैं। जिससे उनकी स्किन व चोट को सन एक्सपोजर मिलता है। लेकिन इससे ना केवल आपकी स्किन की जलन बढ़ती है, बल्कि सूरज की किरणें फफोले का कारण बन सकती हैं। इसलिए कोशिश करें कि चोट लगने के बाद कम से कम तीन दिन तक आप बाहर निकलना अवॉयड ही करें। अगर आपको किसी कारणवश बाहर जाना भी पड़ता है तो अपनी चोट को घर से बाहर निकलते समय कवर कर लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit- cureskin, freepik, pixabay

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।