कोरोना काल में जहां एक तरफ घर में रहना ही सबसे सुरक्षित विकल्प है। ऐसे में यदि आप किसी वजह से ट्रैवलिंग करने जा रहे हैं तो आपको कई तरह के प्रीकॉशन लेने की आवश्यकता होती है। खासतौर पर यदि आप बच्चों और बुजुर्गों के साथ यात्रा कर रहे हैं तो आपको कई बातें ध्यान में रखने की आवश्यकता होती है जिससे उन्हें किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। कोरोना काल में यदि आप बुजुर्गों के साथ यात्रा करने जा सही हैं तो आपको कुछ बातें ध्यान में रखनी चाहिए और कुछ टिप्स को फॉलो करना चाहिए। 

हेल्थ चेकअप है जरूरी

health checkup old people 

बुजुर्गों को किसी भी यात्रा पर ले जाने से पहले बहुत जरूरी है कि आप उनका एक बार अच्छी तरह से हेल्थ चेकअप जरूर करवा लें। उनका ब्लड प्रेशर , शुगर आदि नॉर्मल होने पर ही और स्वास्थ्य संबंधी कोई अन्य समस्या न होने पर ही उन्हें अपने साथ यात्रा के लिए ले जाएं अन्यथा उनकी यात्रा का प्लान स्थगित कर दें। किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्या होने पर यात्रा के दौरान भी उन्हें असुविधा का सामना करना पद सकता है। 

Recommended Video

टिकट कन्फर्म होने पर ही यात्रा करें 

यदि आप ट्रेन या फ्लाइट से यात्रा करने जा रहे हैं और बुजुर्गों के साथ यात्रा करने जा रहे हैं तो कोशिश करें कि टिकट कन्फर्म होने पर ही यात्रा के लिए आगे बढ़ें। यदि टिकट या सीट कन्फर्म नहीं है तो यात्रा स्थगित कर दें। जहां तक संभव हो पब्लिक कन्वेन्स से यात्रा करने से बचें। हो सके तो प्राइवेट कैब या अपनी कार से यात्रा करें। 

जरूरी दवाइयां रखें साथ

medicine kit for traveling 

यात्रा के दौरान अपने साथ फर्स्ट एड बॉक्स जरूर रखें जिसमें यात्रा करने वाले बुजुर्ग से सम्बंधित सभी दवाइयों के साथ कुछ जरूरी दवाइयां भी हों । उस बॉक्स में बड़ों की दवाइयों को एकदम व्यवस्थित ढंग से रखें। इतने दिनों बाद यात्रा करने के कारण बुजुर्गों को बेचैनी या कमजोरी महसूस हो सकती है तो इसलिए आप अपने साथ कुछ एनर्जी ड्रिंक्स जरूर रखें। दर्द निवारक स्प्रे या ऑइंटमेंट फर्स्ट एड बॉक्स में रखना न भूलें। 

इसे जरूर पढ़ें: इन ट्रेवल हैक्स की मदद से अपने सफर को बनाएं आसान

कोरोना की गाइडलाइन्स फॉलो करें

covid guidelines for old people 

कोरोना की सभी गाइड लाइन्स को फॉलो करते हुए बुजुर्गों को मास्क और हैंड ग्लव्स पहनाएं साथ में उनके पास हैण्ड सैनिटाइज़र भी होना चाहिए। उन्हें मास्क और सैनिटाइज़र का ठीक से इस्तेमाल करना सिखाएं और बिना वजह किसी भी जगह पर हाथ लगाने से मन करें। बुजुर्गों का प्रतिरक्षा तंत्र ज्यादा कमजोर होता है इसलिए उन्हें कोरोना से बचने की ज्यादा जरूरत है।

सुविधाजनक स्थान है जरूरी 

यात्रा चाहें कार से हो या ट्रेन, बस और फ्लाइट से। जहां तक संभव हो सके  बुजुर्गों को सबसे आरामदायक स्थान दें। यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग कायम रखने के लिए अन्य यात्रियों के साथ खाने की या कोई अन्य सामग्री शेयर न करें और सबसे उचित दूरी बनाए रखें। 

खाने की सामग्री रखें साथ

dry fruits during travel 

कोरोना काल में बाहर का खाना खाना बिलकुल सुरक्षित नहीं है। ऐसे में जब आप बुजुर्गों के साथ यात्रा करने जा रहे हैं तो ध्यान रहे कि उनके खाने की उचित व्यवस्था करके ही यात्रा आरम्भ करें। अपने साथ कुछ ड्राई फ्रूट्स या स्नैक्स जरूर रखें जिससे भूख लगने पर उन्हें ये खाने के लिए दिया जा सके। किसी भी हाल में बाहर का खाना खाने से बचें। 

इसे जरूर पढ़ें: कोरोना संक्रमण के बीच हनीमून प्लॉन करते समय कुछ बातों का रखें ध्यान

इन सभी टिप्स को फॉलो करके बुजुर्गों के साथ यात्रा के दौरान किसी भी तरह की असुविधा से बचे रह सकते हैं और उनके स्वास्थ्य का भी ध्यान रखा जा सकता है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik