Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    बिस्तर पर बैठकर खाना क्यों नहीं खाना चाहिए, जानें क्या कहता है शास्त्र

    शास्त्रों में बिस्तर पर बैठकर भोजन करने की मनाही होती है। आइए जानें इसके कारणों के बारे में। 
    author-profile
    Updated at - 2023-01-09,17:10 IST
    Next
    Article
    why eating is bad on bed in astrology

    हिन्दू शास्त्रों के अनुसार जो लोग बिस्तर पर बैठकर खाना खाते हैं उनके ऊपर माता लक्ष्मी की कृपा नहीं होती है। दरअसल इस मान्यता के पीछे का मुख्य कारण है कि हर एक काम के लिए कुछ विशेष नियम और कुछ मुख्य स्थान बनाए गए हैं।

    ऐसी मान्यता है कि उन्हीं प्रमुख जगहों पर बैठकर ही वो काम करने चाहिए। इन्हीं कामों में से एक है भोजन जिनके कुछ विशेष नियम बनाए गए हैं और धर्म शास्त्रों में इन नियमों का पालन करने की सलाह दी जाती है।

    ऐसी मान्यता है कि भोजन हमेशा एक शांत और साफ़ स्थान पर बैठकर ही करने की सलाह दी जाती है। वहीं भोजन के नियमों में बिस्तर पर बैठकर खाने की मनाही भी होती है। ऐसा माना जाता है कि यदि हम खाना खाते हैं तो उसका उद्देश्य पूर्ण होना चाहिए।

    वहीं बिस्तर पर सोने का उद्देश्य पूरा हो सके। आइए नारद संचार के ज्योतिष अनिल जैन जी से जानें कि शास्त्रों में बिस्तर पर बैठकर खाना खाने की मनाही क्यों है और इसके क्या नुकसान हो सकते हैं। 

    भोजन का सबसे अच्छा स्थान कौन सा है 

    eat inside kitchen is good

    यदि शास्त्रों की मानें तो प्राचीन काल में भोजन हमेशा रसोई में बैठकर ही खाया जाता था। ऐसा माना जाता था कि रसोई में आप गरम खाना खाने के साथ भोजन का पूरा स्वास्थ्य लाभ भी उठा सकते हैं।

    दरअसल रसोई में हम जमीन में बैठकर खाना खा सकते हैं जिससे खाना अच्छी तरह से पचने के साथ सेहतमंद बनाए रखने में भी मदद करता है। हमेशा से ही किसी अच्छे स्थान पर बैठकर ही भोजन करना अच्छा माना जाता है। रसोई में बैठकर भोजनकरने से राहु को प्रसन्न करने में भी मदद मिलती है। इसलिए भोजन का सबसे अच्छा स्थान रसोई या उसके आस-पास का ही माना जाता है। 

    बिस्तर पर बैठकर भोजन क्यों नहीं करना चाहिए 

    eating on bed is good or bad

    ज्योतिष और शास्त्रों की मानें तो हमें हमेशा भोजन को सम्मान देना चाहिए। लेकिन यदि हम बिस्तर में बैठकर भोजन करते हैं तो ये भोजन का अपमान करने जैसा होता है क्योंकि बिस्तर सोने की जगह है।

    इसी वजह से यह कहा जाता है कि बिस्तर में भोजन करना माता लक्ष्मी का निरादर करने जैसा होता है। ऐसा भी माना जाता है कि खाने संबंध बृहस्पति और राहु से होता है। राहु को एक अशुभ ग्रह माना जाता है इसलिए इसे हमेशा प्रसन्न करने के उपाय खोजे जाते हैं। मान्यता यह है कि बिस्तर पर बैठकर खाने से राहु भी रुष्ट हो जाता है और समृद्धि का ह्रास होने लगता है।

    इसे जरूर पढ़ें: जमीन पर बैठकर खाना क्यों फायदेमंद है, क्या कहता है शास्त्र ?

    बिस्तर पर बैठकर खाना सेहत के लिए नुकसानदेह 

    हम अक्सर थकान की वजह से बिस्तर पर बैठकर ही खाना खाने लगते हैं, जबकि ऐसा करना सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है। बिस्तर पर बैठने के साथ हम सिर्फ खाने पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते हैं।

    कई बार हम बिस्तर पर खाते हुए टीवी देखते हैं या फिर लैपटॉप पर काम कर रहे होते हैं। ऐसे में हमारा पूरा ध्यान जब खाने पर नहीं होता है तो हम ओवर ईटिंग भी कर लेते हैं। इसी वजह से ये हमारी सेहत को नुकसान पहुंचाता है। बिस्तर पर बैठने में शरीर का पोस्चर भी ठीक नहीं रहता है और जिससे खाना पचने में भी मुश्किल होती है। 

    बिस्तर पर बैठकर खाने से नींद बाधित हो सकती है 

    why eating on bed is bad

    बिस्तर पर बैठकर खाने से भोजन (भोजन करने के 5 नियम)  के कुछ कण बिस्तर पर ही रह जाते हैं जिसकी वजह से आपकी नींद में भी बाधा हो सकती है। यदि आप खाते समय बिस्तर पर खाने के कुछ कण गिराते हैं तो इससे बिस्तर पर कीटाणु हो सकते हैं जो आपकी नींद में बाधा डाल सकते हैं। ये कीटाणु कई स्वास्थ्य समस्याओं जैसे त्वचा से जुड़ी समस्याओं को भी जन्म देते हैं। इन सभी कारणों से कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। 

    इसे जरूर पढ़ें: भोजन के बाद थाली में क्यों नहीं धोने चाहिए हाथ, जानें क्या कहता है शास्त्र

    यदि आप शास्त्रों की न भी मानें तो विज्ञान और सेहत के लिए भी जिस काम की जो जगह बनाई गई है उसे वहीं करने की सलाह दी जाती है। जिससे शरीर और मन मस्तिष्क पर कोई बुरा प्रभाव न पड़े। 

    अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। अपने विचार हमें कमेंट बॉक्स में जरूर भेजें।

    images: freepik.com

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।