हर कोई घर में सुख और समृद्धि की कामना करता है। वास्तु शास्त्र में ऐसे कई नियम और कायदे बताए गए हैं जो घर में सुख और शांति के साथ-साथ धन की आवश्यता के लिए भी जरूरी हैं। हम अक्सर घरों में लक्ष्मी की मूर्ति रखते हैं और उसकी नियम कायदे से पूजा करते हैं, लेकिन वास्तु शास्त्र दिशाओं से जुड़ा हुआ है। अगर लक्ष्मी की मू्र्ति सही दिशा में नहीं रखी तो वास्तु शास्त्र के मुताबिक इससे पॉजिटिव एनर्जी नहीं मिलेगी। वास्तु शास्त्र में उत्तर दिशा को बहुत शुभ माना गया है और नॉर्थ पोल की एनर्जी हमारे आस-पास के माहौल को शुद्ध भी करती है। इस दिशा को कुबेर की दिशा माना जाता है। अब कुबेर की दया-दृष्टि घर पर बनी रहे इसलिए कुछ मेहनत तो करनी ही होगी।

इसलिए सबसे जरूरी है कि कुबेर की दिशा को स्वच्छ और उजला रखा जाए। अगर मुमकिन हो तो मेन एंट्री उत्तर दिशा में ही रखें। उत्तर दिशा और धन की बढ़त को लेकर हम कुछ खास टिप्स फॉलो कर सकते हैं।

ऑफिस में बढ़ानी है इनकम तो रखें इन बातों का खास ख्याल-

अब धन की वर्षा ऑफिस में होगी तभी तो घर भी सुखी और समृद्ध रहेगा। इसलिए ये जरूरी है कि आप ऑफिस और करियर के लिए वास्तु टिप्स का ध्यान रखें। आपने हमेशा से सुना होगा कि किसी भी जगह के उत्तर पूर्व (नॉर्थ ईस्ट) कोने में बहुत ज्यादा पॉजिटिव एनर्जी होती है। यही बात ऑफिस बनवाते समय भी ध्यान रखनी चाहिए। यही नहीं, अगर आप ऑफिस का रेनोवेशन नहीं करवा रहे हैं या फिर पहले से ही ऑफिस का डेकोर हो चुका है तो ध्यान रहे कि नॉर्थ ईस्ट दिशा कटी हुई नहीं होनी चाहिए। वास्तु के आधार पर ये दिशा मेग्नेटिक एनर्जी का संचार करती है। ऐसे में हमें ये ध्यान रखना चाहिए कि ये दिशा बहुत ज्यादा भरी हुई न हो या फिर इसका कोना कटा हुआ न महसूस हो।

vastu for office cash flow

इसे जरूर पढ़ें- वास्तु एक्सपर्ट रिद्धि बहल के बताए ये टिप्स फॉलो करें, रात में आएगी गहरी नींद

दरअसल, अगर इसका कोना कटा हुआ लगता है तो ऐसा माना जाता है कि वास्तु पुरुष का सिर धड़ से अलग हो गया है। ऐसे में धन का लाभ भला कैसे होगा? कई बार तो समस्या रेनोवेशन से ही शुरू हो जाती है जब हम अपने ऑफिस स्पेस को नए तरीके से सजाने या जगह बढ़ाने के लिए कुछ बदलाव करते हैं और अंजाने में ही नॉर्थ ईस्ट कॉर्नर पर या तो कोई भारी सामान रख देते हैं या फिर उस कोने में कोई कंस्ट्रक्शन करवा देते हैं। ऐसे में वास्तु शास्त्र के हिसाब से पॉजिटिव एनर्जी नहीं आती।

अगर आपको ऑफिस या घर में बनी वर्कप्लेस में धन लाभ के हिसाब से बदलाव करने हैं तो कुछ खास टिप्स फॉलो करने होंगे-

1. गोदाम या ऑफिस में न करें ऐसा पेंट-

अगर आप व्यापार से जुड़े हुए हैं और घर के किसी कोने में पैंट्री है या फिर गोदाम है, या फिर ऑफिस में ही पैंट्री है जो नॉर्थ ज़ोन में है तो उसे लाल या गुलाबी पेंट न करवाएं। ऐसे में नए ऑर्डर और पेमेंट आदि में कोई समस्या नहीं आएगी।

2. कैश लॉकर की जगह ध्यान से चुनें-

घर या ऑफिस में रखे कैश लॉकर या अलमारी की जगह का चुनाव बहुत ध्यान से करना होता है। इसे दक्षिण दिशा की तरफ पीठ करके रखें। ऐसे में इसका द्वार उत्तर दिशा की ओर खुलेगा। हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि ये कुबेर का स्थान होता है और इसलिए ये दिशा धन के आगमन के लिए अच्छी है। किसी अन्य दिशा में कैश लॉकर, अलमारी, रजिस्टर आदि को रखने से बचें।

एक और ऑप्शन से हो सकता है कि कैश लॉकर के सामने आप आइना रख दें। जिसमें कैश लॉकर की इमेज दिखे। इससे आपके कैश लॉकर में लक्ष्मी का वास होगा।

Recommended Video

3. इस दिशा में लगाएं बड़े पेड़-

अगर आप साउथ वेस्ट दिशा में बड़े पेड़ लगाएंगे तो ये फाइनेंस को स्टेबलाइज करने के लिए अच्छा है। वास्तु के हिसाब से बड़े पेड़ दक्षिण दिशा में और छोटे पेड़ उत्तर दिशा में लगने चाहिए। इससे घर, परिवार और बिजनेस में सुख समृद्धि बनी रहती है।

इसे जरूर पढ़ें- पति-पत्नी के रिश्‍ते को मधुर बनाने के लिए रिद्धि बहल के ये टिप्स अपनाएं

4. ऑफिस डेकोर करते समय खास ध्यान रखें इन बातों का-

अकाउंट्स डिपार्टमेंट हमेशा उत्तर या पूर्व दिशा में ही होना चाहिए। जितने भी कैश और बैंक से संबंधित ट्रांजेक्शन होते हैं उसके लिए ये ध्यान में रखना बहुत जरूरी है। यहां एक बात का और ध्यान रखें कि उत्तर दिशा में होने का मतलब ये नहीं कि प्लॉट की उत्तर दिशा में बैठा जाए और नॉर्थ की ओर पीठ करें। बल्कि यहां ये भी ध्यान रखने वाली बात है कि अकाउंट्स डिपार्टमेंट के लोगों को उत्तर दिशा की ओर मुंह करना चाहिए। इस दिशा में सभी फाइनेंशियल रिकॉर्ड्स आदि रखने चाहिए।

नॉर्थ-ईस्ट कोने को हमेशा खाली रखने की कोशिश करें। अगर वहां कोई सामान है भी तो ध्यान रखें कि उसमें बहुत भारी कोई चीज़ न हो। खास तौर पर कोई मशीन आदि तो बिलकुल भी नहीं। कई लोग ये गलती कर बैठते हैं कि इस दिशा में अलमारी आदि रख देते हैं, लेकिन यहां समझने वाली बात ये है कि अलमारी या कैश रजिस्टर जैसी चीज़ को नॉर्थ ईस्ट दिशा में पीठ करते हुए नहीं रखना चाहिए। अगर इस दिशा में सीढ़ियां बनी हुई हैं तो ये वास्तु के हिसाब से गलत है। धन का लाभ इससे रुकेगा।

5. धन के लाभ के लिए ऑफिस बनवाते या रेनोवेट करवाते समय रखें ध्यान-

चाहें आप नया ऑफिस बनवा रहे हों, ऑफिस रेनोवेट करवा रहे हों या घर पर ही वर्कप्लेस डिजाइन करवा रहे हों, यहां इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि आपके प्लॉट के आगे कोई बड़ी बिल्डिंग, मंदिर या क्लीनिक न हो। अगर आप इन चीज़ों को अवॉइड नहीं कर सकती हैं तो कम से कम इतना तो ध्यान रखना ही होगा कि कहीं किसी की परछाई आपके प्लॉट पर न पड़े।

अभी तक तो हम हर जगह उत्तर दिशा को महत्व दे रहे थे पर अब एक और चीज़ बहुत जरूरी हो गई है। वो ये कि जो ऑफिस या घर का मालिक है वो कहां बैठे। यहीं ये बात ध्यान रखने वाली है कि ऐसे में ओनर को कभी भी उत्तर दिशा की ओर पीठ करके नहीं बैठना चाहिए। कुर्सी को हमेशा साउथ वेस्ट डायरेक्शन में रखें ताकि नॉर्थ-ईस्ट डायरेक्शन की तरफ आपका चेहरा हो। काम करने वाली जगह पर मंदिर रखने को लेकर भी एक खास नियम है और वो ये कि कभी भी ओनर की कुर्सी के पीछे मंदिर या भगवान की तस्वीरें नहीं होनी चाहिए। अक्सर हमने देखा है कि लोग यही गलती अपने मकान, दुकान में करते हैं। वो सामने बैठे होते हैं और पीठ के पीछे कई देवताओं की तस्वीरें या मूर्तियां लगी होती हैं। इससे बचना चाहिए। ये सही तरीका नहीं है।

छत को लेकर भी एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि नॉर्थ ईस्ट पोर्शन की तुलना में साउथ वेस्ट पोर्शन ऊंचा होना चाहिए। यानि छत एकदम सीधी नहीं नॉर्थ ईस्ट की तरफ झुकी हुई होनी चाहिए। अगर कोई नया कंस्ट्रक्शन करवाने जा रही हैं, तो इस बात का ध्यान हमेशा रखें।

कभी न करें ये बड़ी गलती-

वास्तु शास्त्र में दिशा के साथ-साथ भार की भी गिनती होती है। जिस तरह से हम कोई भारी चीज़ नॉर्थ ईस्ट दिशा में नहीं रखते उस तरह से ये भी ध्यान रखना चाहिए कि किसी बीम के नीचे कैश लॉकर न हो। न ही ये सीढ़ियों के नीचे होना चाहिए। अगर ऐसा होता है तो परिवार में फाइनेंशियल स्ट्रेस बढ़ता है।

ये सभी टिप्स बहुत काम के साबित हो सकते हैं। इन्हें आजमाएं और अपनी जिंदगी में फर्क देखें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। साथ ही साथ, ऐसी अन्य टिप्स पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।