फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने यूनियन बजट 2021 पेश कर दिया है। इस बजट में कई खास बातें देखी गईं जो मिडिल क्लास के लिए फायदेमंद भी हैं और नुकसानदेह भी। इस बजट में अगर आप पेट्रोल, एलपीजी, टैक्स रिडेम्पशन, बैंकिंग आदि से जुड़ी किसी घोषणा का इंतज़ार कर रहे थे तो हमारी तरह आप भी निराश ही हुए होंगे। इस बजट में ऐसा कुछ भी नहीं किया गया है। जहां तक महिलाओं से जुड़ी स्कीम्स की बात है तो ऐसा नहीं है कि निर्मला सीतारमण के पिटारे से इस बार महिलाओं के लिए कुछ खास नहीं निकला है। 

दरअसल, इस बजट में कोरोना पैंडेमिक का असर बहुत ज्यादा देखने को मिला जहां सरकार के पास ज्यादा छूट देने के अवसर नहीं बचे थे। हां वैक्सीन और चाइल्ड सिक्योरिटी को लेकर इस बजट में कुछ खास बातें जरूर सामने आईं। हम पहले ही आपको इस बजट की 10 खास हाइलाइट्स के बारे में बता चुके हैं और अब हम आपको बताएंगे कि आखिर महिलाओं के लिए इस बजट में निर्मला सीतारमण के पिटारे से क्या निकला है।

जल जीवन स्कीम है खास-

आपको महिलाओं के लिए खास योजनाएं बताने से पहले हम जल जीवन स्कीम के बारे में बता दें जहां निर्मला सीतारमण ने इस बजट में जल जीवन मिशन अर्बन स्कीम की घोषणा की है जो घर के सभी सदस्यों और खासतौर पर महिलाओं के लिए लाभकारी होगी। करीब 2.86 करोड़ घरों को इससे फायदा मिलेगा। हालांकि, ये ग्रामीण नहीं बल्कि शहरी इलाकों के लिए साफ पानी की सप्लाई की स्कीम है। 

सोना-चांदी होगा सस्ता, जानें क्या सस्ता और महंगा होगा बजट के बाद- 

सोने और चांदी की कस्टम ड्यूटी में बदलाव किया गया है। ऐसे में सोना और चांदी सस्ते होने की गुंजाइश है। इसके अलावा, चमड़े का सामान, नायलॉन के कपड़े, आयरन, स्टील और कॉपर के आइटम आदि सस्ते होंगे। इसके अलावा, महंगे की बात करें तो इम्पोर्टेड ऑटो पार्ट्स, सोलर सेल्स, मोबाइल फोने और चार्जर, इम्पोर्टेड जेम स्टोन्स आदि महंगे हो जाएंगे। सिल्क और कॉटन पर भी कस्टम ड्यूटी बढ़ा दी गई है तो उससे जुड़ा सामान भी महंगा हो जाएगा। 

इसे जरूर पढ़ें- Union Budget 2021: मिडिल क्लास के लिए इस बजट में रहीं ये 10 हाइलाइट्स

अब चलते हैं महिलाओं के लिए खास स्कीम्स की तरफ-  

1. उज्जवला स्कीम का होगा एक्सपांशन- 

महिलाओं के लिए भाजपा सरकार कई सालों से उज्जवला स्कीम चला रही है जहां फ्री और सब्सिडाइज्ड कुकिंग गैस दी जाती है। इस स्कीम से ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं को फायदा मिलता है। अब ये स्कीम 1 करोड़ और उपभोक्ताओं के लिए बढ़ा दी गई है। इसका मतलब ये है कि अब 1 करोड़ अन्य महिलाओं के इस स्कीम का फायदा मिल सकेगा और कुकिंग गैस की उपलब्धता हो सकेगी। इसी के साथ, जम्मू और कश्मीर में भी गैस पाइपलाइन प्रोजेक्ट की स्थापना की गई है।  

budget  women folks

2. महिलाओं को नाइट शिफ्ट्स में मिलेगी सुविधा- 

जहां बात मिनिमम वेज और वर्कर्स की आती है वहां पर निर्मला सीतारमण ने महिलाओं का ध्यान रखना है। उन्होंने एक ऐलान किया जिसमें ये साफ कहा गया है कि महिलाओं को हर क्षेत्र में काम करने का मौका दिया जाएगा। इसी के साथ, महिलाओं को नाइट शिफ्ट के दौरान उपयुक्त प्रोटेक्शन के साथ काम करने की सुविधाएं दी जाएंगी। एक तरह से वो महिलाएं जिन्हें नाइट शिफ्ट में ज्यादा काम करना होता है ये उनके लिए बहुत अच्छी बात है। ये न सिर्फ कॉर्पोरेट सेक्टर में काम करने वाली महिलाओं के लिए लाभकारी होगी बल्कि इससे महिलाओं को अन्य सेक्टर जैसे लेबर और डेली वेज सेक्टर में काम करने में भी सुविधा होगी।  

3. बच्चों के स्वास्थ के लिए बड़ा ऐलान- 

जहां एक ओर इस साल स्वास्थ बजट पर अच्छा खासा खर्च किया गया है वहीं दूसरी ओर निर्मला सीतारमण का एक फैसला बच्चों के स्वास्थ के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। महिलाओं को अधिकतर बच्चों के स्वास्थ की चिंता होती है और इस चिंता को दूर करने की कुछ हद तक कोशिश की गई है। जो pneumococcal vaccine (pneumococcal इन्फेक्शन्स के लिए जिससे सालाना 50000 से ज्यादा बच्चों की मौत होती है) देश के सिर्फ 5 राज्यों में ही उपलब्ध थी उसे अब पूरे देश में पहुंचाया जाएगा।  

4. असम और पश्चिम बंगाल की महिलाओं के लिए स्कीम- 

एक खास स्कीम असम और पश्चिम बंगाल की महिलाओं के लिए भी लॉन्च की गई है जो उनके सशक्तिकरण का काम करेगी। इसके साथ ही वहां काम करने वाले टी-वर्कर्स (खासतौर पर महिलाएं और बच्चे) के लिए एक अलग स्कीम तय की गई है।  

इसे जरूर पढ़ें- Expert Advice: गणेश-पार्वती की कहानी से समझें महिलाओं के लिए क्यों जरूरी है पैसों का मैनेजमेंट 

5. अफोर्डेबल हाउसिंग और 1.5 लाख का फायदा- 

ये सीधे तौर पर महिलाओं के लिए स्कीम नहीं है, लेकिन उन महिलाओं को इससे जरूर फायदा होगा जिनके नाम घर है या फिर जिनके नाम घर का लोन है। दरअसल, महिलाओं के नाम अधिकतर हाउसिंग लोन लिए जाते हैं क्योंकि वहां हाउसिंग लोन इंट्रेस्ट में उन्हें फायदा होता है। अगर आपके नाम भी ऐसा कोई लोन लिया गया है तो जो 1.5 लाख रुपए (हाउसिंग लोन इंट्रेस्ट पर) का फायदा सरकार की तरफ से टैक्स हॉलीडे के रूप में मार्च 2021 तक मिलना था उसे अब एक साल और बढ़ाकर 31 मार्च 2022 तक कर दिया गया है।  

यानि मार्च 2022 तक अगर हाउसिंग लोन (अफोर्डेबल हाउसिंग स्कीम के तहत) लिया जाता है तो उसे 1.5 लाख तक इंट्रेस्ट पर रिबेट दिया जाएगा।  

इसके अलावा, किसानों के लिए योजनाएं जैसी स्कीम्स तक सभी से महिलाओं को फायदा भी पहुंचेगा। कुल मिलाकर इस बजट में बहुत बड़ी घोषणाएं नहीं हुईं, लेकिन छोटी-छोटी घोषणाओं से महिलाओं को राहत जरूर मिलेगी। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।