अगर हम सदी के महानायक कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन की बात करें तो उनके पास फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े ऐसे कई किस्से हैं जिन्हें वो लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं। हाल ही में ऐसी ही एक घटना की याद की है जिसमें उन्होंने 'कुली' फिल्म के दौरान हुए एक एक्सिडेंट की याद आई थी। ये वो समय था जब अमिताभ बच्चन ने अपनी जिंदगी का सबसे खराब एक्सिडेंट देखा था। बात 1982 की है जब पुनीत इस्सर के साथ एक फाइट सीन फिलमाते समय अमिताभ बच्चन के साथ एक एक्सिडेंट हो गया था और उन्हें काफी चोट आई थी।

अपने ब्लॉग में अमिताभ बच्चन ने इसके बारे में बताया है। अमिताभ को tracheostomy ट्रीटमेंट से गुजरना पड़ा था और वो कई दिनों तक बोल नहीं पाए थे। बोलना तो छोड़िए उन्हें पानी पीने की इजाजत भी नहीं थी।

इसे जरूर पढ़ें- ऐसे ही नहीं अमिताभ जया बच्चन पर अपना दिल हार गए

amitabh bacchan and jaya bachchan bonding

आईसीयू में अमिताभ का ऐसा था हाल-

इस घटना के बारे में शेयर करते हुए अमिताभ ने लिखा, 'जैसे ही त्वचा और चेहरा बूढ़ा होता है, किसी सर्जरी के निशान और गहरे दिखने लगते हैं। ये लाइन जो नाक के पास दिख रही है वो याद दिलाती है ब्रीच कैंडी अस्पताल के आईसीयू में बिताए दिनों की। कुली फिल्म के एक्सिडेंट के बाद। जो पाइप मुझे लगाए गए थे ताकि मैं जिंदा रह सकूं वो मैं ही बेहोशी की हालत में निकाल देता था। वो मुझे परेशान करते थे। तो उन्हें एक परमानेंट हल मिला। उन्होंने ये मेरी नाक में सिल दिया, ताकि मैं इसे निकाल न सकूं। और उसका दाग आज भी मौजूद है। एक और दाग जो मेरे गले पर है वो tracheostomy का है। उन दिनों में गले को काटकर जान बचाने वाले उपकरण वहां लगाए जाते थे। उनसे जो मशीन जुड़ी होती थी वही आपके लिए सांस लेती थी। जब तक वो होती थी तब तक आपकी आवाज़ खो जाती थी। उस वक्त अगर मुझे कुछ कहना होता था तो या तो मुझे इशारा करना होता था या फिर पेपर पर लिखना होता था।'

amitabh bacchan after coolie accident

जया बच्चन से नोट लिखकर मांगते थे पानी-

अमिताभ बच्चन ने ये भी बताया कि वो टूटी-फूटी बंगाली में जया बच्चन को नोट लिखकर पानी मांगा करते थे। 'मैं जया को टूटी-फूटी बंगाली में नोट्स लिखा करता था, ताकि वो मुझे पानी दे दे, मैं बंगाली में लिखता था ताकि डॉक्टर और नर्स समझ न सकें। मुझे पानी पीने के लिए मना किया गया था। ये कभी काम नहीं आया। उन्हें हमेशा पता चल जाता था।'

Recommended Video



इसे जरूर पढ़ें-  इस खास वजह के कारण अमिताभ बच्चन ने की थी जया बच्चन से शादी

अमिताभ बच्चन हो गए थे 'क्लीनिकली डेड'

इस एक्सिडेंट का असर बहुत गहरा था। वेंटिलेटर पर जाने से पहले अमिताभ को क्लीनिकली डेड घोषित कर दिया गया था। यही नहीं इस एक्सिडेंट से उबरने के लिए उन्हें कई सर्जरी करवानी पड़ी थी। दरअसल, ये फाइट सीक्वेंस बैंगलुरु में फिलमाया जा रहा था और अमिताभ को एक्सिडेंट के बाद मुंबई लाया गया था।



कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान अमिताभ बच्चन सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव हैं और तो और वो अपने वर्कआउट को लेकर पोस्ट भी शेयर कर रहे हैं। इस लॉकडाउन में जया बच्चन दिल्ली में हैं और वो खुद मुंबई में। ऐसे में अप्रैल में जया के जन्मदिन के समय अमिताभ ने एक बहुत ही अच्छी पोस्ट की थी और लिखा था कि तकनीक के कारण दूरी कम हो गई है। जया बच्चन दिल्ली पार्लियामेंट में थीं जब लॉकडाउन हुआ और वो वापस मुंबई नहीं आ पईं।

अमिताभ और जया की जिंदगी से जुड़ी ऐसी कई कहानियां हैं जो हर जिंदगी पर आपको पढ़ने को मिल जाएंगी। अगर ये स्टोरी आपको अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें और ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।

All Photo Credit: Pinterest