हमारे जीवन में वास्तु शास्त्र का विशेष महत्त्व है। घर की हर एक वस्तु यदि करीने से वास्तु शास्त्र के अनुसार सँवारी गई हो तो जीवन में खुशियां आती हैं। वहीं यदि वास्तु के अनुसार चीज़ों या दिशाओं का चयन न किया जाए, तो जीवन में नकारात्मकता आती है जो धन हानि को बढ़ावा देती है। कई बार जाने-अनजाने   हम घर में ऐसी चीज़ें रखते हैं या ऐसे काम करते हैं जिनसे अनायास ही धन हानि होने लगती है। 

ऐसे में हम इसके कारण को समझ ही नहीं पाते हैं और हमारा धन व्यर्थ के कामों में नष्ट होने लगता है। अगर आपको अनायास ही खर्चे होते नज़र आ रहे हैं और धन व्यर्थ कामों में नष्ट होता लग रहा है, तो नई दिल्ली के  जाने माने पंडित, एस्ट्रोलॉजी, कर्मकांड,पितृदोष और वास्तु विशेषज्ञ प्रशांत मिश्रा जी बता रहे हैं कि कौन सी चीज़ें हैं जो घर में नहीं रखनी चाहिए। यदि आपके घर में इनमें से कोई भी वस्तु है तो उसे तुरंत हटा दें। 

झरने या बहते हुए पानी की तस्वीर

jharna bahta pani

कभी भी घर में ऐसी तस्वीर न लगाएं जिसमें झरना बह रहा हो या फिर किसी भी माध्यम से पानी गिर रहा हो ऐसी कोई भी तस्वीर घर में नहीं लगानी चाहिए। ऐसी तस्वीरें लगाने से घर के धन की हानि होती है और पैसा व्यर्थ के कामों में पानी की तरह बह जाता है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: घर की सुख समृद्धि और धन-धान्य के लिए भूलकर भी घर के मंदिर में न रखें भगवान की ऐसी मूर्तियां

पानी टपकने वाला नल 

water flowing tap

घर में कहीं भी ऐसा नल नहीं होना चाहिए जिससे लगातार पानी टपक रहा हो। पानी टपकते हुए नल को धन से जोड़ा जाता है और ऐसा माना जाता है कि पानी की तरह धन भी नष्ट हो रहा है। यदि आपके घर में कहीं भी ऐसा कोई नल है जिससे लगातार पानी टपकता है, तो उसे तुरंत ठीक करवाएं। ऐसे नल की ध्वनि भी घर में नकारात्मक ऊर्जा लाती है। 

कैक्टस या कांटेदार पौधे

cactus plant tips

पंडित प्रशांत मिश्रा जी बताते हैं कि वास्तु के अनुसार घर में किसी भी तरह के कंटीले पौधे नहीं लगाने चाहिए। खासतौर पर घर में कैक्‍टस का पौधा नहीं लगाना चाहिए क्‍योंकि कैक्‍टस कांटे वाला पौधा है। इसे लगाने से रिश्तों में दरार आने के साथ धन की हानि भी होती है। इसे लगाने से बिना वजह घर में लड़ाइयां होती हैं और व्यर्थ के कामों में धन नष्ट होता है। यदि आपके घर में भी ऐसे पौधे हैं तो इन्हें तुरंत हटा दें क्योंकि इनसे धन हानि के साथ- साथ घर में क्लेश रहता है। साथ ही कलह के कारण धन व्यय जैसे मुकदमों में धन व्यय हो सकता है। 

बाथरूम हमेशा गीला न रखें 

wet washroom vastu

कहा जाता है कि गीला बाथरूम हमेशा धन हानि के संकेत देता है। यदि आप बाथरूम इस्तेमाल कर चुके हैं तो तुरंत इसे सुखा दें। गीला बाथरूम व्यर्थ के धन हानि की और प्रेरित करता है। 

गैस या चूल्हे पर हमेशा बर्तन न रखें 

utensils in gas

आप भले ही कितने व्यस्त क्यों न हों आपको खाना ब नाने के बाद व्यर्थ में गैस चूल्हे और किचन पर बर्तन इकट्ठे नहीं करने चाहिए। कहा जाता है कि व्यर्थ के बर्तनों का जमावड़ा घर में कलह क्लेश को बढ़ावा देता है और धन का व्यय बेकार कामों में होता है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: घर की सुख समृद्धि और अच्छे भाग्य के लिए जरूर करें आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ

रसोई में दवाएं न रखें

medicines in kitchen

कई लोग जल्दबाजी में रसोई या किचन में ही दवाइयां रख देते हैं ,ऐसा करना वास्तु के हिसाब से बिल्कुल  गलत है क्योंकि इससे धन बीमारी और उसके इलाज में अधिक खर्च होता है। ऐसा करने से व्यर्थ की बीमारियां जन्म लेती हैं और दवाइयों और अस्पताल के फिजूल खर्चे बढ़ जाते हैं। 

कांच की टूटी वस्तुएं 

broken glass tips

कांच की कोई वस्तु टूट जाए तो तुरंत फेंक दें। इससे भी धन हानि होती है। कभी भी कांच की टूटी वस्तुएं घर में नहीं रखनी चाहिए ,इससे नकारात्मक ऊर्जा के साथ धन की हानि भी होती है। कभी भी खिड़की या दरवाज़ों के कांच टूट जाने पर तुरंत बदल लें। 

Recommended Video

खराब विद्युत् उपकरण 

wall clock tips

कोई भी खराब विद्युत उपकरण, जैसे टीवी, फ्रिज आदि या खराब घड़ी घर में न रखें। यदि आपके घर की कोई ऐसी वस्तु खराब है तो उसे तुरंत हटा दें। इससे धन हानि के साथ नकारात्मक ऊर्जा व रोग घर में आते हैं। कभी भी बंद घड़ी घर में न रखें। 

उत्तर दिशा में कूडेदान न रखें

dustbin at home

उत्तर दिशा को कुबेर की दिशा कहा जाता है इसलिए भूलकर भी इस डिश में कूड़ादान न रखें। वास्तु के हिसाब से घर की उत्तर दिशा में कचरा रखने से धन हानि होती है।

उपर्युक्त सभी बातों को ध्यान में रखकर घर के वास्तु के हिसाब से काम करने से आर्थिक स्थिति अच्छी होगी और घर में सुख समृद्धि आएगी। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik