सिर्फ भारत ही नहीं पूरी दुनिया में तलाक के मामले बढ़ते जा रहे हैं। पहले के समय में जहां पति-पत्नी जिंदगी भर एक-दूसरे के साथ रहने का वादा करते थे, लेकिन आज के समय में यह चीज बहुत मुश्किल दिखती है। नए-नए शादी-शुदा जोड़ो में भी बहुत जल्द दरारें नजर आने लगती हैं। चाहें महिलाएं हों या पुरुष, दोनों ही शादीशुदा जिंदगी में तनाव से गुजरने पर तलाक लेने को तरजीह दे रहे हैं। पहले की तुलना में अब एक नाकाम रिलेशनशिप के बाद दूसरी रिलेशनशिप में जाना भी बहुत आम दिखने लगा है। बॉलीवुड सेलेब्रिटी और आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने मीडिया को दिए ताजा इंटरव्यू में शादियां नहीं चलने पर चर्चा की। सोनी राजदान हॉट स्टार के स्पेशल 'आउट ऑफ लव' में कैमियों में नजर आएंगी। इस शो में एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स का मुद्दा प्रमुख रूप से उठाया जाएगा और यह भी देखने को मिलेगा कि यह किस तरह से लोगों के रिश्ते को प्रभावित करता है। 

इसे जरूर पढ़ें: फेस्टिव सीजन के लिए बेस्ट हैं सोनी राजदान के ये 5 सूट, दिखेंगी डीवा

सोनी राजदान ने शादी ना चल पाने की बताई ये वजह

soni razdan ACTRESS

सोनी राजदान ने कहा, 'आजकल महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हैं, जिसमें शादी की संस्था कमजोर पड़ती नजर आ रही है। मैं रिश्तों में धोखेबाजी की वकालत नहीं कर रही, लेकिन मैं इसे ऑब्जेक्टिव तरीके से देख रही हूं। अगर कोई इंसान किसी को धोखा देता है, तो इसमें कुछ भी महान बात नहीं है। लेकिन आजकल यह बहुत आम बात हो गई है। शायद शादियां ठीक से चल ही नहीं पा रही हैं। 100 साल पहले शादियां होने का एक मकसद होता था, वह मकसद आज बदल चुका है। आज के समय में महिलाओं की इच्छाओं को बहुत आसानी से नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। इसके अलावा अब शादी करने के लिए कोई वजह नहीं रह गई है। आज के समय में हर चीज पाई जा सकती है, अगर हम अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते हुए बैलेंस बनाए रखने पर ध्यान दें।' 

धैर्य की कमी से टूट रही हैं शादियां

आज के समय में ज्यादातर महिलाएं आर्थिक रूप से संपन्न होने के साथ-साथ खुद को लेकर आत्मविश्वास से भरपूर हैं। अगर शादी के बाद पति के साथ कुछ चीजों पर मतभेद होते हैं तो महिलाएं तार्किक रूप से उस पर बात करती हैं। पहले के समय में महिलाएं पति की ज्यादतियां, हिंसक और अमर्यादित व्यवहार जैसी चीजें बर्दाश्त कर लेती थीं, लेकिन आज के समय में महिलाएं पहले की तुलना में कहीं ज्यादा मजबूत हैं और इसीलिए वे ज्यादतियां सहने के बजाय रिश्ता खत्म कर लेने को प्राथमिकता देने लगी हैं।

इसे जरूर पढ़ें: I love You कहने के बजाय इन 5 खूबसूरत तरीकों से करें अपने प्यार का इजहार

महिलाओं और पुरुष दोनों का प्रोफेशनल लाइफ में बिजी होना और एक-दूसरे को कम समय देना भी कपल्स के बीच बढ़ते चिड़ेचिड़ेपन और तनाव की वजह बन रहा है, जो बाद में अलग होने की बड़ी वजह बन जाता है।

नए रिश्तों को लेकर बढ़ रही है सहजता

soni razdan alia bhatt mother

अरेंज मैरिज में कई बार बहुत अलग सोच या पर्सनेलिटी वाले लोग साथ में रहने को मजबूत हो जाते हैं। लेकिन अगर रोजाना उनके बीच कलह हो और बात-बात पर टेंशन होने लगे तो वे जिंदगी भर का दर्द सहने के बजाय आपसी समझ-बूझ से रिश्ता खत्म कर आगे बढ़ जाते हैं। पहले जिस तरह से तलाकशुदा लोगों को नई रिलेशनशिप के लिए खुद को तैयार करने में प्रॉब्लम आती थी, आज वैसा बिल्कुल भी नहीं है। लोगों का नजरिया पहले की तुलना में काफी ज्यादा बदला है। रिश्तों में ज्यादा खुलापन और सहजता है। ऐसे में किसी से रिश्ता टूटने के बाद महिलाओं और पुरुष अकेले रहने के बजाय नए रिश्तों में अपनी खुशियां तलाशने लगे हैं।