• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

Kya Kehta Hai Shastra: छींक आना कब होता है शुभ और कब होता है अशुभ

धार्मिक दृष्टि से छींक आने को आप शुभ मानते हैं या अशुभ? यदि आप सही जानकारी चाहते हैं, तो यह आर्टिकल जरूर पढ़ें।  
author-profile
Next
Article
astrology for  sneeze

हिंदू धर्म में बहुत सारी मान्यताएं और अंधविश्वास हैं। इन्हीं में से एक है 'छींक आने को अशुभ' माना जाना। आमतौर पर देखा जाए तो छींक तो सभी को आती है, क्योंकि यह एक तरह से वैज्ञानिक प्रक्रिया का हिस्सा है। मगर 'छींक के आने' से जुड़ी कई सारी मान्यताएं प्रचलित हैं। अमूमन लोग छींक के आने को अशुभ मानते हैं, खासतौर पर अगर आप कोई शुभ काम कर रहे हैं और उसी दौरान किसी को छींक आ जाए। 

ऐसा भी कहा जाता है कि किसी स्थान के लिए प्रस्थान करने से पूर्व यदि छींक आ जाए, तो कुछ वक्त रुक कर और पानी पीकर ही आगे की ओर कदम बढ़ाएं। मगर क्‍या वाकई धार्मिक दृष्टि से छींक आने का व्यक्ति के जीवन पर कोई अच्छा या बुरा प्रभाव पड़ता है। यह बात जानने के लिए हमने भोपाल निवासी ज्‍योतिषार्चा एवं पंडित विनोद सोनी जी से बात की। वह कहते हैं, 'धार्मिक दृष्टि से छींक आने के शुभ और अशुभ दोनों परिणाम हो सकते हैं। हर बार छींक का आना बुरा संकेत नहीं होता है कभी-कभी इसे अच्‍छा संकेत भी माना जाता है।'

इतना ही नहीं, पंडित जी ने हमें यह भी बताया है कि कब, किस दिशा और स्थान पर छींक का आना शुभ होता है और कब अशुभ होता है।   

इसे जरूर पढ़ें: क्‍या कहता है शास्त्र: सिंदूर का गिरना या फैलना शुभ होता है या अशुभ

sneezing  facts  good  and  bad  effects  on  life

छींक का आना कब होता है अशुभ   

  • आमतौर पर लोगों का मानना है कि घर से जब कोई व्यक्ति बाहर निकल रहा होता है, तो उस वक्त यदि किसी को छींक आ जाए तो वह काम सिद्ध नहीं हो पाता है। मगर ऐसा तब होता है जब छींक केवल एक बार आती है। यदि छींक एक से अधिक बार आ जाए तो इसे शुभ माना जाता है। पंडित जी कहते हैं, यदि यात्रा पर निकलते वक्‍त कोई व्यक्ति खड़ा हो कर छींक दे, तो उस वक्त यात्रा को कुछ वक्त के लिए टाल देना चाहिए। 
  •  दूध को उबालते वक्‍त यदि आपको छींक आ जाए तो, इससे भी आपको हानि पहुंचती है। सेहत के लिए तो यह खराब माना ही गया है, साथ ही इससे आपको पर्सनल लाइफ में कोई बड़ा नुकसान भी पहुंच सकता है।    
sneezing for  good  fortune tips

छींक का आना कब होता है शुभ  

केवल मनुष्य ही नहीं बल्कि जानवरों की छींक के भी अच्छे बुरे परिणाम होते हैं। हम आपको बताते हैं कि किस जानवरी की छींक आपको शुभ फल दे सकती है- 

  • यदि किसी शुभ कार्य के लिए घर से निकलते वक्‍त गाय को छींक आ जाए तो निश्चित ही आपको उस कार्य में सफलता प्राप्त (लक्ष्य पाने के लिए 5 टिप्स अपनाएं) होती है। 
  • यदि कुत्ते को एक से अधिक छींक आ जाए और आप उसकी आवाज को सुन लें तो यह भी आपके लिए बेहद शुभ होता है। 
  • यदि आपको रास्ते में हाथी नजर आ जाए तो इसे बहुत ही शुभ माना गया है, वहीं यदि आपको हाथी की छींक सुनाई दे जाए तो यह और भी अच्छी बात होगी क्‍योंकि इससे आपको खुद का विकास करने में मदद मिलेगी। 
  • यदि आप मार्ग पर जा रहे हों या फिर कोई आवश्यक कार्य कर रहे हों और पीछे से कोई छींक दे तो वह कार्य अवश्य ही सिद्ध हो जाता है। 
Sneezing  Facts  According  To  Astrology
  • यदि आपको खुद को छींक आ रही हो और अपने मुंह को ऊपर करके छींका हो तो, ऐसी छींक को भी बहुत ही उत्तम माना गया है। 
  • यदि आपको खुद को 2 से अधिक बार छींक आ जाए और आप किसी जरूरी कार्य के लिए घर से बाहर निकल रहे हों तो यह संकेत है कि आपके ऊपर आई कोई बला टल गई है।  
  • यदि आप किसी बीमारी से पीड़ित हैं और आपको दवा खाते वक्त छींक आ जाए तो, माना जाता है कि आपको जल्‍द ही उस बीमारी से मुक्ति मिल जाएगी। 
 
cheenk  aane  ke  shubh  fal

किसी दिशा में छींक आने के क्‍या होते हैं फल 

  • दक्षिण दिशा को बहुत ही शुभ माना गया है। शास्त्रों में इस दिशा को धन की देवी लक्ष्मी की दिशा बताया गया है। ऐसी मान्‍यता है कि इस दिशा में किए गए कार्य आपको धन लाभ देते हैं। हालांकि, यह दिशा उच्‍च शिक्षा प्राप्ति की भी है और यदि इस दिशा में आपका घर है, तो यह और भी अच्छी बात है क्योंकि आपकी पर्सनल ग्रोथ के लिए इसे अच्‍छा माना जाता है। ऐसे में यदि दक्षिण दिशा में खड़े होकर आपको छींक आ जाए, तो यह बहुत शुभ होता है। खासतौर पर यदि आप कहीं यात्रा पर जा रहे हों और उससे पहले ऐसा हो जाए तो यह बहुत ही अच्छा होता है।  
  •  वास्तु के हिसाब पश्चिम दिशा का स्वामी ऋषि अगस्त्य को माना जाता है। इस दिशा पर शनि ग्रह का बहुत अधिक प्रभाव होता है। इसी दिशा को सूर्यास्त की दिशा भी कहा गया है। इस दिशा को धार्मिक दृष्टि से बहुत ही शुभ माना गया है, लेकिन कुछ कार्य इस दिशा में करने वर्जित हैं, जैसे पीठ करके इस दिशा की ओर नहीं बैठना चाहिए। ऐसा करने से तनाव उत्पन्न होता है। न ही इस दिशा में बैठ कर भोजन करना चाहिए। साथ ही इस दिशा में खड़े होकर छींकना भी शुभ नहीं माना गया है, इससे धन की हानि होती है। 
  • यदि आपको ईशान कोण पर बैठ कर छींक आ जाए तो यह बहुत ही शुभ होता है। यह इस बात का संकेत है कि जल्द ही आपके घर में कोई मांगलिक कार्य होने वाले हैं। मगर यदि आप ईशान कोण पर मौजूद मंदिर में बैठ कर पूजा कर रहे हैं और उस दौरान आपको छींक आ जाती हैं, तो इससे आपको हानि पहुंच सकती है। 
  • उत्‍तर दिशा में खड़े होकर आपको छींक आ जाए या फिर किसी और व्यक्ति को आई छींक की आवाज आपको सुनाई पड़ जाए तो यह भी अशुभ होता है। यह संकेत देता है कि आप जल्द ही किसी के साथ विवाद में पड़ सकते हैं। यदि ऐसा कभी हो जाए तो आपको खुद पर बहुत अधिक नियंत्रण रखने की आवश्यकता होती है।  

उम्‍मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करें, साथ ही ऐसे और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।  

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।