Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    मां-बेटी के रिश्ते में आती है इन 5 वजह से दरार

    मां-बेटी का रिश्ता बेहद खास होता है लेकिन कभी-कभी नोकझोंक हो जाती है। इस लेख में हम आपको बताएंगे वो कौन सी बातें हैं जिनके कारण मां-बेटी के रिश्ते में...
    author-profile
    Updated at - 2023-01-20,16:53 IST
    Next
    Article
    what causes toxic mother daughter relationship in hindi

    एक लड़की के लिए उसकी सबसे पहली रोल मॉडल उसकी मां होती हैं। मां हर बेटी के सुख-दुख में साथ खड़ी रहती है लेकिन कई बार मां और बेटी के बीच के रिश्ते में कुछ ऐसी बातें भी आ जाती हैं जो उनके रिश्ते में खटास भर देती हैं। अगर आप अपनी बेटी के साथ रिश्ता मजबूत करना चाहती हैं तो आपको वो सभी बातों पता होना चाहिए जिसके कारण आपके रिश्ते में दरार आ सकती है। 

    1)तुलना करने से रिश्ता होता है खराब 

    why relationship turn bad between mother and daughter

    आपको अपनी बेटी की तुलना दूसरों की बेटी के साथ नहीं करना चाहिए। बच्चों की तुलना अक्सर पारिवारिक माहौल को खराब करती है। इससे आपकी बेटी अपने आपको दूसरों के मुकाबले कम समझेगी और वह आपसे दूर भी होने लगेगी।(बेस्ट पेरेंटिंग के लिए ध्यान में रखें ये ज़रूरी बातें)

    इसके अलावा आपकी बेटी के मन में यह भाव भी आ सकता है कि आपके सामने दूसरे बच्चें ज्यादा बेहतर हैं। इसलिए आपको अपनी बेटी की तुलना चाची, मौसी या अपनी दोस्तों के बच्चों से कभी नहीं करनी चाहिए। 

    2)मन की बातें समझने की कोशिश करें

    अपनी बेटी की मन की बात को आपको समझने की जरूर कोशिश करनी चाहिए। इससे आप उसे बेहतर तरह से समझ पाएंगी। अगर आप उसे समझने की कोशिश नहीं करेंगी तो इससे आपके रिश्ते में दरार आ जाएगी। इसके अलावा आपको अपनी बेटी की भावनाओं को भी समझना चाहिए ताकि आप उसे बेहतर तरह से समझ पाएं। 

    3)आलोचना करना 

    अक्सर माएं ये भूल जाती हैं कि बेटियों को प्रोत्साहित करना और उन्हें समर्थन देना बहुत जरूरी  होता है। इससे उन्हें जीवन में आगे बढ़ने की मजबूती मिलती है और हर गुजरते दिन के साथ आपका और उनका रिश्ता बेहतर होगा और हर दिन गुजरने के साथ-साथ आपका रिश्ता बेहतर होगा। लेकिन अगर आप भी एक आलोचक मां हैं तो आपका रिश्ता कमजोर हो सकता है और आपकी बेटी आप से धीरे-धीरे दूरी बनाने लगेगी। 

    इसे भी पढ़ें: अपने बच्चों को इंडिपेंडेंट बनाने के लिए अपनाएं ये टिप्स

    4)रोक-टोक करना

    अगर आप हद से ज्यादा रोक-टोक करती हैं तो इससे आपका रिश्ता कमजोर होगा और आपकी बेटी आपसे बातें भी छुपाने लगेगी। एक मां का कंट्रोलिंग नेचर पेरेंटिंग का हिस्सा होता है लेकिन अगर आप हद से ज्यादा रो-टोक करेंगी तो आपकी बेटी में चिड़चिड़ापन भी आ सकता है। 

    इसे भी पढ़ें:मैंने इन बातों का ध्यान रखकर बनाई अपनी सास के दिल में जगह

    5)शादी का दबाव 

    आपको अपनी बेटी पर शादी का दबाव बहुत अधिक नहीं डालना चाहिए। अपनी बेटी के फैसले का सम्मान करना चाहिए फिर चाहे वो शादी करे या न करें। (बॉलीवुड की इन सास-बहु की जोडि़यों से ले टिप्स और सास के साथ रिश्तों में लाएं मिठास)आप उससे इस पर बात करके हल भी निकाल सकती हैं। इससे आपका रिश्ता स्ट्रांग बनेगा। 

    इन बातों का ध्यान अगर आप रखेंगी तो आपका और आपकी बेटी के बीच का रिश्ता मजबूत बनेगा।अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

     

    image credit- freepik 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।