भारत का इतिहास किसी सागर के जैसा है। जिसे चंद किताबों के जरिए बता पाना बहुत मुश्किल है, साथ ही प्राचीन भारत की कई महत्वपूर्ण चीजों को बाहरी आक्रमणकारियों ने नष्ट भी कर दिया था। जिस कारण हमें ज्यादातर मध्यकालीन और आधुनिक इतिहास से जुड़े लिखित साक्ष्य ही मिल पाते हैं। इसके बावजूद भी हमारे पास कई ऐसी किताबें हैं, जिनके जरिए भारत के इतिहास से जुड़ी चीजों के विषय में जाना जा सकता है।

आज के आर्टिकल में हम आपको ऐसी ही कई किताबों के बारे में बताएंगे, जिन्हें भारत का इतिहास जानने के लिए आपको एक बार जरूर पढ़ना चाहिए। इन्हें पढ़कर आपको पता चलेगा कि स्कूल में पढ़ाई गई हिस्ट्री भारतीय इतिहास का मात्र एक छोटा हिस्सा थी, असल में भारत का इतिहास बहुत बड़ा है। 

डिस्कवरी ऑफ इंडिया-

discovery of india

'डिस्कवरी ऑफ इंडिया' आजाद भारत के सबसे पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा लिखी गई पुस्तक है। यह किताब नेहरू ने 1942 से 1946 के बीच लिखी थी, जब आजादी के संघर्ष के दौरान वो जेल में थे। किताब में नेहरू ने सिंधु घाटी सभ्यता से लेकर आर्य के भारत में आने और  साथ ही ब्रिटिश अंपायर के भारत में शासन के बारे में लिखा है।

इस किताब में भारत के इतिहास को खूबसूरती से बताया गया है। कुछ सालों बाद श्याम बेनेगल ने इस किताब पर आधारित एक टीवी सिरीज भी बनाई थी, जिसे बाद में कई पुरस्कार भी मिले।

इंडिया आफ्टर गांधी: द हिस्ट्री ऑफ वर्ल्ड लार्जेस्ट डेमोक्रेसी-

india after gandhi

रामचंद्र गुहा की लिखी किताब 'इंडिया आफ्टर गांधी' आज भी रीडर्स की मनपसंद किताबों में से एक है। यह किताब भारत की आजादी के बाद के इतिहास पर फोकस करती है, किताब में बताया गया है कि आजादी के बाद देश को किस तरह के संघर्षों से गुजरना पड़ा। इस किताब में आपको आजादी के बाद हुए बंटवारे से लेकर देश भर में जाति आधारित पॉलिटिक्स के बारे में बताया गया है। 

द वंडर दैट वाज इंडिया-

wonder that was india

यह किताब सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती है। इस किताब में आपको भारत के प्राचीन इतिहास से लेकर मुगलों के आक्रमण तक का इतिहास पढ़ने को मिलता है। किताब को ए.एल बाशम द्वारा लिखा गया है, जिसमें उन्होंने मोहनजोदड़ो और हड़प्पा सभ्यता से जुड़ी चीजों के बारे में बताया है। भारत के वैदिक काल को जानने के लिए यह किताब सबसे अच्छा ऑप्शन है।

द ग्रेट इंडियन नॉवल-

the great indian novel

शशि थरूर द्वारा लिखी गई पुस्तक 'द ग्रेट इंडियन नॉवल' महाभारत काल को देश की आजादी के संघर्ष से जोड़ते हुए लिखी गई है। जिसमें देश के स्वतंत्रता सेनानियों को महाभारत के पात्रों में बांधा गया है।  इस किताब में आजादी के संघर्ष से लेकर आजादी के तीन दशकों के बारे में बात की गई है।

इसे भी पढ़ें -मुकेश अंबानी का ये आलीशान महल क्यों है चर्चा में, तस्वीरों के साथ जानें इसकी खासियत

अ कॉर्नर ऑफ फॉरेन फील्ड -

books on cricket

यह किताब हर क्रिकेट लवर को जरूर पढ़नी चाहिए। रामचंद्र गुहा की लिखी किताब 'अ कॉर्नर ऑफ फॉरेन फील्ड' भारत में क्रिकेट के इतिहास पर फोकस करती है। किताब में भारतीय क्रिकेट जर्नी के बारे में बताया गया है। किताब में उन दिनों के बारे में जिक्र किया गया है कि किस तरह इंडियन्स क्रिकेट को देखकर इस खेल इंफ्लुएंस हुई।

इसे भी पढ़ें- घर पर इन तरीकों से सजाएं बच्चों के लिए पेंसिल

अल बेरुनीज इंडियन-

the albiruni india

अल बेरुनी का नाम हममें से कई लोगों ने अपनी इतिहास की किताब में पढ़ा होगा। अल बिरूनी मध्यकाल के सबसे प्रसिद्ध इतिहासकारों में एक थे, जिन्होंने भारत की यात्रा के दौरान कई किताबें लिखीं। उनकी सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली किताब है अल बेरुनी इंडिया। हालांकि यह किताब असल में परशियन भाषा में लिखी गई है पर इसे कई अन्य भाषाओं में भी अनुवादित किया गया है।

Recommended Video

द आर्ग्यूमेंटेटिव इंडियन-

the argumentative india

'द आर्ग्यूमेंटेटिव इंडिया' पुस्तक नॉवलिस्ट अमर्त्य सेन द्वारा लिखी गई है। इस किताब में भारत के कल्चर और इतिहास के विषय में बताया गया है। किताब में बताया गया है कि भारत का इतिहास कितना गौरवशाली और प्राचीन है, जिसे कई अंग्रेज इतिहासकारों ने तोड़-मरोड़ पेश किया है। अमर्त्य सेन की किताब से हमें पता चलता है कि भारत में डिबेट और वाद-विवाद का चलन बहुत पुराने समय से प्रचलित रहा है।

आप इन किताबों को किसी भी लाइब्रेरी से इशु करा सकते हैं। आपने इनमें से कौन सी किताबें अभी तक पढ़ी हैं, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। हमारा आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही जानकारियों के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

image credit- amazon.com britanica.com and shutterstock.com