हिंदू शादियों की बात करें तो इसमें सोलह श्रृंगार के बिना किसी भी दुल्हन का श्रृंगार अधूरा होता है। दरअसल, सोलह श्रृंगार हिंदू नववधू के लिए बेहद खास होता है। हिंदू सभ्यता में इसका एक अलग महत्व है जिसका प्राचीनकाल से सीधा संबंध है। घर में सुख और समृद्धि लाने के लिए महिलाएं सोलह श्रृंगार करती हैं। इसलिए खूबसूरती बढ़ाने के अलावा सोलह श्रृंगार भाग्य को भी बढ़ाता है। यही नहीं, नई-नवेली ब्राइड्स के लिए भी यह शुभ माना जाता है। यही वजह है कि जब भी बॉलीवुड में वेडिंग सीजन शुरू होता है तो अभिनेत्रियां भी सोलह श्रृंगार किए नजर आती हैं।

सोलह श्रृंगार और उसका महत्व

Solah Shringar

सोलह श्रृंगार में बिंदी, चूड़ी, सिंदूर और पायल जैसी चीजें शामिल होती हैं क्योंकि इन सभी को सुहाग का चिन्ह माना जाता है। मालूम हो, ये एक ऐसी रस्म होती है जिसमें शादीशुदा महिलाएं कुछ न कुछ सुहाग की निशानी सिर से लेकर पैर तक पहनती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: शादी की रस्मों में किसी भी ड्रेस के साथ चूड़ियों को ऐसे करें स्टाइल

  • सिंदूर सुहाग का प्रतीक माना जाता है। वैसे तो ये नारंगी रंग का लगाया जाता है, लेकिन आजकल महिलाएं सिंदूर के लिए ज्यादातर लाल रंग का इस्तेमाल करती हैं। मान्यताओं के अनुसार, अपने पति की लंबी आयु के लिए शादीशुदा महिलायें सिंदूर लगाती हैं। 
  • पहले महिलाएं कुमकुम का इस्तेमाल करती थीं, लेकिन बदलते समय के साथ अब अधिकांश विवाहित महिलाएं स्टीकर वाली बिंदी का इस्तेमाल करती हैं। दरअसल, माथे पर कुमकुम लगाना बहुत शुभ माना जाता है, इसलिए महिलायें सिंदूर या कुमकुम से पहले माथे पर बिंदी लगाती थीं। मगर अब मार्केट में डिज़ाइनर बिंदी उपलब्ध हैं। ऐसे में अब महिलायें अभी पसंद से कैसी भी बिंदी खरीद सकती हैं। 
  • कहा जाता है कि मन की बातें आंखें बयां कर देती हैं। इसलिए महिलायें अपनी आंखों में काजल नहीं लगाएंगी तो उनकी खूबसूरती में निखार कम हो जाता है। वहीं, काजल सोलह श्रृंगार में से एक है क्योंकि माना जाता है कि ये बुरी नजर को दूर रखता है।
  • मेहंदी लगाये बिना हर सुहागन का श्रृंगार अधूरा है। यही कारण है कि किसी भी शुभ काम से पहले महिलाएं अपने हाथों और पैरों में मेहंदी जरूर लगाती हैं। यही नहीं, माना जाता है कि किसी नववधू के हाथों में लगी मेहंदी का रंग यह बताता है कि उसका पति उसे कितना प्यार करता है। 
  • वैसे तो आजकल ब्राइड्स लाल कलर को डिच करके अपने ख़ास दिन पर अन्य कलर के लहंगे भी पहनती हैं, लेकिन लाल रंग के जोड़े का सोलह श्रृंगार में अलग महत्व है। ऐसा इसलिए क्योंकि लाल रंग को सुहाग का प्रतीक माना जाता है। 
  • महिलाओं को गहने बहुत प्रिय होते हैं। इनमें से ही एक है मंगलसूत्र, जिसे सोलह श्रृंगार में शामिल किया गया है। माना जाता है कि मंगलसूत्र में मौजूद काले धागे विवाहित महिलाओं को बुरी नजर से बचाते हैं। इसलिए मंगलसूत्र के बिना किसी भी महिला का सोलह श्रृंगार अधूरा है। 

solah shringar list

  • आमतौर पर अधिकांश महिलायें नाक छिदने के बाद लौंग पहनती हैं, लेकिन नई दुल्हन शादी के शुरुआती दिनों में नथ पहनती हैं। दरअसल, सुहागिन महिलाओं का नाक में आभूषण पहना अनिवार्य माना गया है क्योंकि इसके बिना सोलह श्रृंगार पूरा नहीं माना जाता है।
  • माथे के बीचों-बीच मांग टीके को पहना जाता है। वैसे मांग टीके को पहनने के पीछे भी मान्यता है। माना जाता है कि सिर के बीचों-बीच मांग टीका पहनने से नई-नवेली दुल्हन अपने जीवन में सही और सीधे रास्ते पर चलती है।
  • बालों की सुंदरता को बढ़ाने के लिए अक्सर महिलायें अपने जूडे में गजरा लगाती हैं। मगर गजरा भी सोलह श्रृंगार में से एक है। माना जाता है कि मां दुर्गा को मोगरे का गजरा बहुत प्रिय है, जिसके कारण इसे सोलह श्रृंगार में शामिल किया गया है।
  • मान्यता के अनुसार, नई-नवेली दुल्हन को कानों में झुमके इसलिए पहनाए जाते हैं ताकि उन्हें पति या ससुरालवालों की बुराई करने वालों से दूर रखा जा सके। 
  • सोलह श्रृंगार में बाजूबंद को भी शामिल किया गया है क्योंकि माना जाता है कि महिलाओं द्वारा यह पहनने से घर के धन की रक्षा होती है। 
  • माना जाता है कि कभी भी शादीशुदा महिलाओं की कलाइयां खाली नहीं रहनी चाहिए। इसलिए उन्हें चूड़ियां पहनाई जाती हैं। यही नहीं, हर अलग रंग की चूड़ी का अपना महत्व है जैसे कि लाल रंग की चूड़ियां यह संकेत देती हैं कि शादी के बाद महिलाएं अपने वैवाहिक जीवन से खुश और संतुष्ट हैं। वहीं, हरी चूड़ियां यह संकेत देती हैं कि शादी के बाद महिलाओं के परिवार में सुख-समृद्धि आएगी।
  • शादी से पहले वर-वधू एक-दूसरे के साथ अंगूठी बदलने की रस्म पूरी करते हैं। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि पति-पत्नी के आपसी प्यार और विश्वास के प्रतीक को अंगूठी दर्शाती है।
  • नवविवाहित महिलायें कमरबंद इसलिए पहनती हैं क्योंकि ये इस बात को दर्शाता है कि वह अब अपने घर की मालकिन हैं।
  • बिछिया को भी सोलह श्रृंगार में शामिल किया गया है। माना जाता है कि शादीशुदा महिलायें पैरों की उंगलियों में बिछिया इसलिए पहनती हैं ताकि उनके जीवन में शादी के बाद आने वाली परेशानियों का हिम्मत से सामना कर सकें।
  • हर नवविवाहिता के लिए पायल पहनना शुभ माना जाता है, जिसकी वजह से हर दुल्हन पैरों में पायल जरूर पहनती है।

Recommended Video

इन अभिनेत्रियों ने किया सोलह श्रृंगार

Solah Shringar meaning in Hindi

बात सोलह श्रृंगार की हो और बॉलीवुड अभिनेत्रियों का जिक्र ना हो तो बात अधूरी सी लगती है। दरअसल, ऐसी कई एक्ट्रेसेस हैं, जिनकी सोलह श्रृंगार की तस्वीरें सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुई हैं। तो आईए जानते हैं कि कौन-कौन सी अभिनेत्रियों की खूबसूरती में सोलह श्रृंगार चार चांद लगा चुका है।

इसे जरूर पढ़ें: ब्राइडल लुक सलेक्ट करते समय रखें इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान, नहीं होगी कोई गड़बड़

कैटरीना कैफ

 

उरी फेम एक्टर विक्की कौशल के साथ शादी के पवित्र बंधन में बंधी कैटरीना कैफ का वेडिंग लुक काफी दिनों तक चर्चा का विषय बना रहा। मशहूर फैशन डिज़ाइनर सब्यसाची मुखर्जी ने क्लासिक लाल कलर का लहंगा कैटरीना के लिए डिज़ाइन किया था। यही नहीं, एक्ट्रेस ने सब्यसाची ज्वेलरी अपने खास दिन के लिए पहनी थी। सोशल मीडिया पर सामने आई तस्वीरों में कैटरीना ट्रेडिशनल ब्राइड के रूप में नजर आईं। उन्होंने मांगे टीके से लेकर चूड़ा तक कैरी किया था।

पत्रलेखा

 

कैटरीना कैफ की तरह बॉलीवुड एक्ट्रेस पत्रलेखा भी एक ट्रेडिशनल ब्राइड बनीं, जिनका लहंगे से लेकर ज्वेलरी सब सब्यसाची मुखर्जी द्वारा डिज़ाइन किया गया था। पत्रलेखा बंगाली ब्राइड के लुक में खूबसूरत लग रही थीं। उन्होंने भी शादी के लिए सोलह श्रृंगार किया था।

अनुष्का शर्मा

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by AnushkaSharma1588 (@anushkasharma)

 

इंडियन क्रिकेटर विराट कोहली संग अनुष्का शर्मा को सात फेरे लिए भले ही समय हो चुका हो, लेकिन उनके ब्राइडल लुक की चर्चा आज भी होती है। मालूम हो, विराट और अनुष्का ने इटली में एक क्लोज सेरेमनी के तहत शादी रचाई थी, लेकिन इस दौरान एक्ट्रेस पूरे सोलह श्रृंगार में नजर आई थीं।

दीपिका पादुकोण

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Deepika Padukone (@deepikapadukone)

 

स्टाइल डीवा दीपिका पादुकोण भी इस लिस्ट में शामिल हैं। रणवीर सिंह के साथ शादी रचा चुकीं दीपिका का ब्राइडल अवतार भी देखने लायक था। उन्होंने भी शादी के लिए सोलह श्रृंगार किया था।

सोनम कपूर

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Sonam Kapoor Ahuja (@sonamkapoor)

 

एक्टर अनिल कपूर की बेटी सोनम कपूर आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। फिल्म इंडस्ट्री में एक अलग पहचान बना चुकीं सोनम ने अपनी शादी के लिए खूब सुर्खियां बटोरीं। सोनम शादी के दिन पंजाबी ब्राइड के रूप में बेहद खूबसूरत लग रही थीं। उनके लुक को भी सोलह श्रृंगार ने चार चांद लगाने में कोई कमी नहीं छोड़ी। 

शादी के बाद अधिकांश महिलायें महिला सोलह श्रृंगार करना पसंद करती हैं। आपको सजना-संवारना कितना पसंद है, हमें जरूर बताएं। आपको हमारा ये आर्टिकल कैसा लगा हमें इसके बारे में बताना ना भूलें।

Image Credit: freepik.com