• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

बच्चे को अच्छे स्कूल में पढ़ाने की मत लें टेंशन, फीस भरने के लिए भी मिल रहा है लोन

अब बच्चों को अच्छे स्कूल में पढ़ाने के लिए आपको हर महीने फीस की व्यवस्था करने के झंझट से मुक्ति मिल जाएगी, क्योंकि बैंकों की तरफ से इसके लिए भी लोन मि...
author-profile
Published -25 Jul 2018, 16:29 ISTUpdated -25 Jul 2018, 16:45 IST
Next
Article
loan for school fees article

महिलाएं अपने बच्चों की शिक्षा को लेकर बहुत ज्यादा फिक्रमंद रहती हैं। वे चाहती हैं कि उनके बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा मिले। लेकिन मिडिल क्लास फैमिली के लिए बच्चों को अच्छी शिक्षा मुहैया करना एक बड़ी चुनौती होता है, क्योंकि अच्छे स्कूलों की फीस भी काफी ज्यादा होती है। कई बार किसी फाइनेंशियल प्रॉब्लम या इमरजेंसी सिजुएशन्स की वजह से भी बच्चों की पढ़ाई के लिए फीस भरने में मुश्किल आ जाती है। अगर आप भी इसी मुश्किल से जूझ रही हैं तो आपके लिए राहत की खबर है। आजकल कुछ बैंकों सहित कई ऐसी संस्थाएं हैं जो आपके बच्चे की अच्छी पढ़ाई का खर्च उठाने के तात्कालिक तौर पर खर्च उठाने को तैयार हैं। 

Read more : साथ में शुरू किया था सफर, आज कोई है सुपर स्‍टार तो कोई है स्‍ट्रगलर

loan school fees inside

ब्याज दर भी ज्यादा ऊंची नहीं

वित्तीय संस्थाओं के लिए यह बाजार अभी छोटा है, लेकिन इसमें जोखिम कम होने की वजह से वे इसे लेकर काफी एक्साइटेड हैं। एक्सपर्ट्स का मानना है कि इसमें जोखिम 1 फीसदी से भी कम का है। इस सेगमेंटम में फाइनेंसिंग सिक्योर्ड नहीं है और ब्याज दरें 11-15 फीसदी के बीच हैं, जो कि पेरेंट्स के क्रेडिट स्कोर पर आधारित होती हैं। जहां पेरेंट्स की सैलरी महीना पूरा होने पर मिलती है, स्कूलों में 6 महीने से लेकर सालभर की रकम एक साथ जमा करवा ली जाती है। ऐसी स्थितियों से बेहतर तरीके से निपटने के लिए बैंक से लोन लिया जा सकता है और फिर पैसों की व्यवस्था हो जाने पर यह रकम चुकाई जा सकती है। स्कूलों की फीस भरने के लिए पहले पर्सनल लोन लिए जाते थे, लेकिन अब फर्क ये है कि रकम सीधे स्कूल के बैंक खाते में जमा कराई जा सकती है। कंपनियां स्कूलों के साथ मिलकर बैंकों के लिए यह विकल्प उपलब्ध करा रही हैं। 

कई बैंक मुहैया करा रहे हैं लोन

कई बैंक जैसे कि इंडियन बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, इलाहाबाद बैंक, जे एंड के बैंक, तमिलनाडु बैंक, मर्चेंटाइल बैंक स्कूलों की फीस भरने के लिए लोन उपलब्ध कराते हैं। हमारे देश में शिक्षा पर आने वाले खर्च में पिछले कुछ सालों में भारी इजाफा हुआ है। एनएसएसओ (National Sample Survey Office) के आंकड़ों के अनुसार प्राइमरी शिक्षा के खर्च में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ है, जो कि 3 फीसदी से भी ज्यादा है। 

Recommended Video

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।