हस्‍तरेखा विज्ञान में कई तरह की रेखाओं का उल्‍लेख मिलता है। इन रेखाओं में कुछ बेहद महत्‍वपूर्ण होती हैं। इनमें जीवन रेखा, भाग्‍य रेखा, मस्तिष्‍क रेखा और हृदय रेखा का नाम आता है। इन चारों रेखाओं में व्‍यक्ति के भूत, वर्तमान और भविष्‍य के कई रहस्‍य छुपे होते हैं। इतना ही नहीं, हृदय रेखा से तो किसी के व्‍यक्तित्‍व तक को पहचान लिया जाता है। 

ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखार्विंद विनोद सोनी पोद्दार कहते हैं, 'हृदय रेखा के आकार-प्रकार और उस पर मौजूद चिन्‍हों से कई रहस्‍य खुलते हैं। यह व्‍यक्ति के स्‍वभाव को भी प्रकट करती है।'

तो चलिए पंडित जी से जानते हैं कि कैसी हृदय रेखा वाले व्‍यक्ति का स्‍वभाव कैसा होता है। 

इसे जरूर पढ़ें: पंडित जी से जानें क्‍या कहती है आपकी जीवन रेखा

कहांं होती है हृदय रेखा? 

तर्जनी उंगली या मध्यमा उंगली यानी अंगूठे के बगल की दो उंगलियों के नीचले भाग के आस-पास से शुरू होकर जो रेखा कनिष्का यानी सबसे छोटी उंगली के निचले भाग की तरफ जाती है, उसे हृदय रेखा कहते हैं।

हथेली के किनारे से निकली हृदय रेखा

जिस व्‍यक्ति के हाथों में हृदय रेखा हथेली के बिलकुल किनारे से निकली हुई होती है, ऐसे लोग हमेशा सच्‍चे मित्र (सच्‍चे दोस्‍त को कैसे पहचानें) की तलाश में रहते हैं। यह लोग मानवीय सीमाओं में बंधे नहीं होते हैं। ऐसे लोग चमतकार पर विश्‍वास करते हैं और इन्‍हें क्रोध भी कम आता है।  

छोटी हृदय रेखा 

हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार जिस व्यक्ति की हथेली पर मौजूद हृदय रेखा साइज में छोटी होती है, वह उदासीन, कठोर एवं अत्यधिक क्रूर प्रवृत्ति का होता है। ऐसे लोग किसी की खुशी में खुश नहीं होते बल्कि उनमें जलन की भावना होती है। वह हमेशा ही लोगों के बनते काम को बिगाड़ने की सोचते रहते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: हथेली में यदि इन 10 में से कोई एक चिन्‍ह है तो जानें इसके शुभ-अशुभ फल

heart  line  palm

लंबी हृदय रेखा

जिन लोगों की हृदय रेखा लम्बी होती है , वह बेहद दयालु एवं स्‍नेहशील स्वभाव के होते हैं। लोगों की मदद करना और उनके काम को आसान बनाना उन्‍हें अच्‍छा लगता है। इतना ही नहीं, ऐसे लोगों के बहुत कम मित्र होते हैं, मगर सभी से उनकी गहरी मित्रता होती है। 

चौड़ी हृदय रेखा

जिस व्‍यक्ति की हृदय रेखा चौड़ी होती है, वह बड़ा दिल रखने वाले होते हैं। ऐसे लोगों के मन में सभी के लिए प्रेम भाव होता है। इतना ही नहीं, ऐसे लोग कभी किसी को नुकसान पहुंचाने के विषय में नहीं सोचते। ऐसे लोगों से प्‍यार से बात भर कर लेने से उनके मन में विशेष जगह बनाई जा सकती है। ऐसे व्यक्ति उत्साहपूर्ण एवं भावुक प्रवृत्ति के होते हैं। 

हृदय रेखा पर तिल

जिन लोगों की हृदय रेखा पर तिल (आपका व्‍यक्तित्‍व बताता है तिल) होता है, वे सेहतमंद नहीं होते हैं। ऐसे लोगों को कोई न कोई सेहत से जुड़ी समस्‍या बनी ही रहती है। खासतौर पर ऐसे लोगों को हृदय से जुड़े रोग परेशान करते हैं। 

Recommended Video

टूटी हुई हृदय रेखा 

कटी हुई हृदय रेखा भाग्‍यहीनता का संकेत देती है। जिन लोगों की भाग्‍य रेखा हृदय रेखा पर जा कर रुक जाती है, ऐसे लोग अपने साथी की वजह से कई असफलताओं का सामना करते हैं। वहीं जिन लोगों की भाग्‍य रेखा हृदय रेखा को पार करती हुई गुरु पर्वत तक पहुंच जाती है, ऐसे लोगों को अपने जीवनसाथी की वजह से बहुत सफलताएं मिलती हैं।

हृदय रेखा का हथेली के पार होना 

जब हृदय रेखा बुध पर्वत से होते हुए गुरु पर्वत तक पहुंचती है और फिर हथेली के पार हो जाती है तो यह स्थिति इशारा करती है कि व्‍यक्ति बेहद महत्‍वाकांक्षी है और अपने प्रयासों से वह जीवन के हर सूख को भोग सकता है। ऐसे लोगों को धन, प्रतिष्‍ठा और पद की कमी कभी नहीं होती है। (भाग्‍यशाली लोगों के हाथों में होती है यह रेखा)

इस आर्टिकल को पढ़ कर जाहिर है आपके मन में भी अपनी हृदय रेखा के बारे में जानने की उत्सुकता जाग गई होगी। अगर ऐसा है तो आप हमें अपने हाथों की तस्‍वीर info@herzindagi.com पर मेल करें। आप चाहें तो डायरेक्‍ट ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखार्विंद विनोद सोनी पोद्दार से 9993031142 पर संपर्क कर सकते हैं। 

 Image Credit: freepik