लाइफ में हैप्पीनेस का एक मूलमंत्र है और वह है काम और पर्सनल लाइफ के बीच बैलेंस बनाए रखना। अगर आप अपने काम और पर्सनल लाइफ को बेहद आसानी से अलग रख पाती हैं तो इससे आपको दोनों ही मोर्चों पर खुशियां प्राप्त होती हैं। हालांकि ऐसी बहुत सी महिलाएं हैं जो ऑफिस के काम के बोझ तले कहीं ना कहीं अपनी पर्सनल लाइफ को नजरअंदाज करती हैं। इससे काम का बोझ उन्हें तनावग्रस्त करता है, वहीं दूसरी ओर पर्सनल लाइफ उपेक्षित होने के कारण रिश्तों पर भी नकारात्मक असर पड़ता है। ऐसे में बेहद जरूरी है कि आपको इन दोनों को अलग-अलग रखना आता हों।

हालांकि बहुत सी महिलाओं को यह शिकायत होती है कि काम की अधिकता के कारण वह चाहकर भी पर्सनल लाइफ को अलग नहीं रख पातीं। अगर आपका नाम भी ऐसी ही महिलाओं की लिस्ट में आता है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको कुछ ऐसे आसान टिप्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें अपनाने के बाद आप अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को बेहद आसानी से अलग रख पाएंगी-

शेड्यूल पर रहें स्टिक

how to maintain work life balance

यह तो हमने अक्सर सुना है कि काम और पर्सनल लाइफ को बैलेंस करने के लिए शेड्यूल बनाना बेहद जरूरी है। अमूमन महिलाएं इस रूल को फॉलो भी करती हैं, लेकिन फिर भी उन्हें कोई फायदा नहीं होता। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है। दरअसल, जब आप शेड्यूल बनाती हैं तो अक्सर अपने साथ ही धोखा करती हैं।

इसे जरूर पढ़ें- शादी के बाद ससुराल वालों के साथ रहने पर बहू को मिलते हैं ये 5 बड़े फायदे

मसलन, आपको पता होता है कि आपका यह काम आधे घंटे में पूरा नहीं होगा, फिर भी आप नोट बनाते समय उस काम के लिए आधा घंटा तय करती हैं। जिसके कारण शेड्यूल बनाने के बाद भी आप उसे फॉलो नहीं कर पातीं। इसलिए पहले आप ना सिर्फ सही-सही शेड्यूल बनाएं और बल्कि उस पर स्टिक भी रहें।

तय करें सीमाएं

how to maintain work life balance

अगर आप सच में अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को अलग रखना चाहती हैं तो यह जरूरी है कि आप अपने लिए कुछ सीमाएं निर्धारित करें। मसलन, समय पर काम शुरू और समय पर खत्म, या फिर छुट्टी के दिन नो वर्क रूल। जब आप ऐसा करती हैं, तभी आप परिवार को पूरा समय दे पाती हैं और आपका ऑफिस वर्क भी पूरा हो जाता है।

इसे जरूर पढ़ें- रिलेशनशिप में ऐसा व्यवहार बर्दाश्त ना करें

करें बात

how to maintain work life balance

अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक कार्यों को समय पर पूरा करने और पर्सनल व प्रोफेशनल लाइफ को अलग-अलग रखने के लिए जरूरी है कि आप इसके लिए अपने परिवार से बात करें। मसलन, अगर आपके पास काम की अधिकता है और इसलिए आप अपनी पर्सनल लाइफ को समय नहीं दे पा रही हैं।

Recommended Video

तो ऐसे में आप अपने परिवार के सदस्यों या पार्टनर से बात करें। अगर संभव हों तो उनकी मदद लें। इससे आपका काम जल्दी निपट जाएगा और फिर आप अपनी पर्सनल लाइफ को भी टाइम दे पाएंगी।

करें मेडिटेट

how to maintain work life balance

मेडिटेशन आपको काम से मानसिक रूप से डिस्कनेक्ट करने में मदद करने का एक शानदार तरीका है। खासतौर से, जब आप काम के कारण बेहद मेंटली डिस्टर्ब हैं और इसलिए आपकी पर्सनल लाइफ परेशान हो रही है। मेडिटेशन के जरिए आपको खुद से कनेक्ट होने का मौका मिलता है। इसके अलावा यह आपके वर्क एबिलिटी को भी बढ़ाता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।