घर के आसपास कई सारे पेड़-पौधे हों, यह भला किस को पसंद नहीं आयेगा। कुछ लोग अपने गार्डन में पेड़-पौधे लगाने के लिए अलावा सब्जियां भी उगाते हैं। हालांकि, पेड़-पौधों की देखभाल करना आसान नहीं है, नियमित धूप, पानी के अलावा खाद भी देना आवश्यक है। वहीं, आजकल ऑर्गैनिक खाद का इस्तेमाल अधिक किया जाता है, क्योंकि इसके कोई साइड-इफेक्ट नहीं हैं। ऐसी कई बेकार चीजें होती हैं, जिसका इस्तेमाल खाद के तौर पर किया जाता है।

वहीं गार्डन में कई बार ढेर सारे सूखे पत्ते इकट्ठा हो जाते हैं, इन्हें जलाने या फिर फेंकने के बजाय पौधों के लिए खाद के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। बता दें कि ग्रामीण इलाकों में आज भी लोग सूखे पत्ते से खाद बनाकर पौधों में इस्तेमाल करते हैं। गार्डन में कई सारे पेड़-पौधे होते हैं, जिनका पत्ते अक्सर टूट कर नीचे गिर जाते हैं, ऐसे में उन्हें एक जगह इकट्ठा करें और सूखने के लिए छोड़ दें। जब यह पूरी तरह से सूख जाएं तब इनका खाद बनाएं।

पत्तियों से खाद बनाने का तरीका

Dry leaf decompost

अगर आप सूखी पत्तियों का इस्तेमाल कर रही हैं तो कोशिश करें कि अलग-अलग पेड़ की पत्तियां हों। इन पत्तियों से खाद बनाने के लिए आप एक बड़ी बाल्टी या फिर प्लास्टिक बैग का इस्तेमाल कर सकती हैं। ध्यान रखें कि यह खाद तुरंत बनकर तैयार नहीं होती है, इसके लिए वक्त लगता है। अब सूखी पत्तियों को एक बाल्टी या फिर प्लास्टिक बैग में भर दें, अब इसमें पानी का छिड़काव करें। ध्यान रखें कि पानी की मात्रा इतनी रखें, जिससे पत्तियों में नमी बनी रहें। पानी की जगह आप खट्टे छाछ का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। अब बाल्टी को ढक्कन से बंद कर दें और 2 महीने तक इसे सड़ने यानी डी कंपोस्ट होने के लिए छोड़ दें। ध्यान रखें कि पत्तियों में नमी बनाए रखने के लिए आपको बीच-बीच में चेक करते रहना होगा। 2 महीने बाद बाल्टी को खुला छोड़ दें और फिर 1 या 2 घंटे के बाद हाथों से इसे मसल दें, ताकि यह पाउडर की तरह नजर आने लगे। अब इसे आप खाद के तौर पर इस्तेमाल कर सकती हैं। (चायपत्ती से बनाएं खाद)

इसे भी पढ़ें: पौधे हो गए हैं बेजान? तो इस तरह ट्राई करें नीम खली

गोबर और पत्तियों से बनाएं खाद

a dry leaf is crushed

सूखी पत्तियों से खाद बनाने के लिए आप गोबर का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। दरअसल कई ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी यह प्रक्रिया आजमायी जाती है। इसके लिए आपको सूखी पत्तियों के ऊपर गोबर का छिड़काव करना है। कोशिश करें कि पत्तियों को गोबर से ढक दें, 10 दिन के अंदर यह डीकंपोस्ट होना शुरू हो जाएगा और 1 या फिर 2 महीने के अंदर यह खाद बनकर तैयार हो जाएगी। खाद बनकर तैयार हो चुकी है, यह पता लगाने के लिए आपको पत्तियों के कलर को चेक करना होगा। 2 महीने बाद आप देखेंगे कि पत्तियों का रंग काला हो चुका है और पूरी तरह से ये सड़ चुकी हैं। अब आप इसे अपने पेड़-पौधों में इस्तेमाल कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: कपूर के ये हैक्स कई घरेलू काम बना सकते हैं आसान

Recommended Video

पौधों में सूखी पत्तियों का इस्तेमाल करने का तरीका

a dry leaf

  • अगर आप सूखे पत्तों को डी कंपोस्ट नहीं कर सकतीं तो आप डायरेक्ट भी इसे इस्तेमाल कर सकती हैं। सूखे पत्तों को हाथों से मसलकर पाउडर की तरह बना लें और फिर उसे पेड़ और पौधों के आसपास छिड़काव करें। सूखे पत्तों को डालने के बाद पानी का छिड़काव जरूर करें।
  • पौधे लगाने से पहले डिकम्पोस्ट किए हुए खाद को मिट्टी में मिक्स कर दें। इसके बाद पेड़ या फिर कोई पौधा लगाएं, इससे वह हेल्दी रहेंगे। महीने में एक बार इस खाद का छिड़काव पेड़-पौधों के आसपास करें।
  • सूखी पत्तियों को डी कंपोस्ट होने के बाद इसमें कीड़े-मकोड़े भी पनप सकते हैं, ऐसे में परेशान होने की जरूरत नहीं है बल्कि इसे बाल्टी से निकालकर धूप दिखा दें। 2 या फिर 3 घंटे बाद इसमें से सारे कीड़े-मकोड़े बाहर निकल आएंगे।

आप चाहें तो सूख पत्तियों को स्टोर कर खाद बनाने के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं। साथ ही, अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।