कोल्ड्रिंक की सबसे ज्यादा जरूरत गर्मी के महीने में होती है और अगर देखा जाए तो हमारे फ्रिज में न जाने कितनी बोतल कोल्ड्रिंक रखी ही रहती है। घर के अलग-अलग सदस्यों के लिए ब्लैक सोडा से लेकर ऑरेंज कोल्ड्रिंक तक काफी कुछ मौजूद रहता है, लेकिन अधिकतर लोगों की ये समस्या होती है कि कोल्ड्रिंक की बॉटल अगर एक बार खुल जाए तो उसका फिज हमेशा निकल जाता है। यकीनन 2 लीटर की कोल्ड्रिंक की बॉटल खरीदना ज्यादा किफायती होता है, लेकिन बिना फिज वाली कोल्ड्रिंक पीना अच्छा नहीं होता। 

यकीनन फ्लैट सोडा या कोल्ड्रिंक का स्वाद अच्छा नहीं होता है और वो बस शक्कर के सिरप जैसी ही लगती है। रूम टेम्प्रेचर वाली कोल्ड्रिंक से भी बुरी होती है बिना फिज वाली कोल्ड्रिंक, लेकिन हमेशा बड़ी बॉटल कोल्ड्रिंक की खुलने के बाद उसका फिज निकल जाता है। पर अगर आप कुछ ट्रिक्स से उस कोल्ड्रिंक को स्टोर करेंगे तो उसका फिज ज्यादा बेहतर तरीके से चलेगा और आप बड़ी बॉटल कोल्ड्रिंक भी खरीद कर ला सकते हैं। 

वैसे तो मार्केट में फिज कीपर कैप (Fizz Keeper cap) भी आती है जिससे कोल्ड्रिंक का प्रेशर कम हो सकता है, लेकिन इतना खर्च क्यों किया जाए जब आप DIY तरीके से कोल्ड्रिंक की गैस को निकलने से रोक सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें- कोई भी एक्सरसाइज करने से पहले कभी न पिएं ये ड्रिंक्स, होगा उल्टा असर

बोलत की हवा निकाल कर हो जाएगा काम-

अगर आपकी कोल्ड्रिंक 60 प्रतिशत तक खत्म हो गई है तो उसे कुछ इस तरह से रखें कि उसके अंदर की हवा निकल जाए। यकीनन ये देखने में अच्छा नहीं लगता है, लेकिन ये तरीका सबसे ज्यादा किफायती और असरदार है। इस एक तरीके से बहुत सारी प्रॉब्लम्स से छुटकारा मिल सकता है। यकीनन छोटी-छोटी कोल्ड्रिंक की बॉटल खरीदना थोड़ा महंगा ऑप्शन हो सकता है, लेकिन अगर आप बड़ी बॉटल को खरीदकर इस तरह से स्टोर करेंगे तो इससे उसका फिज नहीं निलेगा और स्टोरिंग ज्यादा आसान हो जाएगी। 

coldrink bottle

दरअसल, जैसे ही हम कोल्ड्रिंक की बॉटल को खोलते हैं तब साउंड के साथ प्रेशर रिलीज होता है। ये ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कार्बन डाय ऑक्साइड (CO2) जो कोल्ड्रिंक में स्टोर रहती है वो आसानी से निकल जाती है। अगर आप कोल्ड्रिंक की खाली बॉटल से हवा नहीं निकालेंगे तो ये जल्दी-जल्दी निकलेगी और ऐसे में फिज जल्दी जाएगा। 

अन्य ट्रिक्स जो बाज़ार की कोल्ड्रिंक को स्टोर करने में करेंगी मदद-

1. हमेशा ठंडा रखें- 

एक बार अगर कोल्ड्रिंक की बॉटल खुल गई तो उसे रूम टेम्प्रेचर पर न रखें। उसे जितना ठंडा रखेंगे उतनी देर तक उस कोल्ड्रिंक की बॉटल का फिज बचा रहेगा। इसका कारण ये है कि कोल्ड्रिंक के अंदर की गैस रूम टेम्प्रेचर पर ज्यादा आसानी से डिजॉल्व होती है और अगर आप इसे रूम टेम्प्रेचर पर नहीं रखेंगे तो ये लंबे समय तक चलेगी। यही कारण है कि कोल्ड्रिंक अगर ठंडी होती है तो उसे आसानी से पिया नहीं जा सकता और वो गले में लगती है क्योंकि सोडा ठंडा होता है और इसकी गैस ठीक रहती है। इसलिए इसे हमेशा ठंडा ही रखें। 

colddink pouring 

इसे जरूर पढ़ें- गर्मियों में घर आए मेहमानों को सर्व करें मसाला कोल्ड ड्रिंक, जानें इसे बनाने का तरीका 

2. कोल्ड्रिंक निकालने के बाद तुरंत ढक्कन लगा दें- 

ये सबसे आसान ट्रिक है, लेकिन जरूरी भी है। कोल्ड्रिंक निकालने के बाद आप तुरंत ही उसका ढक्कन लगा दें। इससे आप उसकी गैस का निकलना कम कर सकते हैं। ये तरीका हमेशा काम करता है, लेकिन ऐसा करने से सिर्फ 1 बार के लिए ही आप बॉटल सील कर पाएंगे। अगर आप बड़ी बॉटल ले रहे हैं तो उसकी हवा निकालकर उसे स्टोर करना सबसे कारगर तकनीक होगी।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।