टीवी सीरियल में अक्सर सास का व्यवहार कठोर दिखाया जाता है। रियल लाइफ़ में भी कई ऐसी सास होती हैं जिनके व्यवहार से बहुओं को घर में एडजस्ट होने में काफ़ी समस्याएं होती हैं। हालांकि समय के साथ सास अब अपनी बहुओं को बेटी की तरह मानने लगी हैं, लेकिन आज भी कई ऐसी महिलाएं हैं जिनकी वजह से बहू काफ़ी चिंतित रहती हैं।

वहीं कई महिलाएं अपनी सास के बुरे व्यवहार से परेशान होकर अलग रहने लगती हैं। जबकि यह उचित तरीक़ा नहीं है, क्योंकि इससे मामला और बिगड़ सकता है। घर में सास को इग्नोर या फिर उनका अनादर करने से आप अपने रिश्तों में और मतभेद पैदा कर सकती हैं। बिना उनका अनादर किए कई ऐसे तरीक़े हैं, जिससे आप न सिर्फ़ झगड़ों से बच सकती हैं बल्कि टेंशन फ़्री लाइफ़ भी उनके साथ बिता सकती हैं। 

जब अकेले खड़े रहने की हो ज़रूरत

rules of relation and function

कई बार आपके करियर और पर्सनल मामलों में सास और ससुर बिना आपकी मर्ज़ी के फ़ैसला ले लेते हैं। अगर आपको लगता है कि इसके ख़िलाफ़ आवाज़ उठानी चाहिए तो ज़रूर बोलें। इससे स्थिति और ख़राब हो जाए तो डरे नहीं बल्कि आप भी अपनी बात पूरी करें। ध्यान रखें कि अगर आप अपनी बातों को सही और बेबाक़ होकर नहीं कहेंगी तो आपको दबाया जा सकता है। ऐसे में बेहतर है कि आप अपनी बात बहादुरी के साथ कहें।

पब्लिक ड्रामा करने से बचें

marriage laws relations

कई बार ऐसा होता है जब आपके ससुराल वाले दूसरों के सामने आपको नीचा दिखाते हैं। उस वक़्त आप ख़ुद को शांत रखें और अपना व्यवहार ख़राब ना करें। इससे बेहतर है कि आप थोड़ी दूरी बना लें और उनके दोस्तों के सामने कम आएं। जब आप दूसरों के सामने उनकी बातों का बुरा नहीं मानेंगी तो उन्हें आपका यह व्यवहार पसंद आएगा और हो सकता है कि आगे से वह इस तरह बर्ताव आपके साथ ना करें।

इसे भी पढ़ें: क्या आप लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में हैं? इन टिप्स से रिश्ता होगा मजबूत

पति के साथ एकजुट होकर खड़े रहें

क्या पता आपके पति को इस बारे में पूरी जानकारी हो, लेकिन वह किसी का नाम नहीं लेना चाहते हो। ऐसे में आप उनसे शांति से इस बारे में चर्चा करें, कि आपको वह सम्मान नहीं दिया जा रहा है जिसकी आप हक़दार हैं। हो सकता है आपका पार्टनर समझ नहीं सकता या फिर समझौता करने में सहमति ज़ाहिर ना करें, लेकिन आप ससुराल वालों के सामने अपने पति के साथ एक जुट होकर रहें। किसी और की वजह से अपने रिश्तों में खटास पैदा न होने दें। उनके साथ एक या दो दिन बाद फिर इस पर चर्चा करें और सलाह मांगे।

Recommended Video

हंसी मज़ाक़ का माहौल बनाएं

family dispute

कई बार ससुराल वाले आपको छेड़ते नज़र आएंगे, इसके लिए वह आपका या फिर आपके घरवालों का मज़ाक़ बना सकते हैं। हालांकि ससुराल वालों की हर बातों को दिल से लगाने की आवश्यकता नहीं है। आप चाहें तो खाने के समय या फिर जब सभी बैठकर बातें कर रहे हो उस वक़्त हंसी मज़ाक़ कर सकती हैं। इससे आप ससुराल का माहौल ख़ुशनुमा बना सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: Personal Tips: दिल्ली में रहते और अकेले सफर करते हुए, अपनी सुरक्षा के लिए मैं अपनाती हूं ये 5 चीजें

सबके सामने ना बनें विक्टिम

in laws relationship problems

ससुराल वाले आपके पीठ पीछे बुराई कर रहे हैं तो सुनकर चुप ना रहें। बिना अनादर किए अपनी बातों को रखें और उन्हें बताएं कि वह इस तरह के बर्ताव को पसंद नहीं करती हैं। कई बार मिस कम्युनिकेशन की वजह से रिश्ते ख़राब हो जाते हैं। घर में एक ना एक सदस्य ऐसा ज़रूर होगा जो आपकी बातों को सुनेगा। उनसे इस बारे में चर्चा करें और बताएं कि आपके बारे में किस तरह की बातें यहां हो रही थीं।

फैमिली फ़ंक्शन में साथ रहें

ससुराल वालों से रिश्ते भले ही अच्छे ना हो, लेकिन फैमिली फ़ंक्शन में हमेशा उनके साथ रहें। अपनी तरफ से मतभेद या फिर अन्य बातों की चर्चा न करें। अगर आपने कोई फ़ंक्शन होस्ट किया है तो उसमें उन्हें ज़रूर शामिल करें। साथ ही, उनके आने पर ख़ुशी ज़ाहिर करें। शुरुआत में वह भले ही आपके व्यवहार को समझ ना पाएं, लेकिन धीरे-धीरे आपसे उलझना बंद कर देंगे।
 
 
अगर यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।