ससुराल में भले ही एक लड़की का रिश्ता उसके पति के साथ जुड़ता हो लेकिन सास और ससुर दोनों ही आपके इस रिश्ते का आधार होते हैं। ससुराल में जितना बड़ा औहदा सास का होता है उतना ही ससुर का भी होता है, बल्कि उससे ज्यादा ही होता है। क्योंकि ससुर ही वह शख्स होते हैं जो पति-पत्नी और सास-बहु के बीच अच्छा तालमेल बनाने में सेतु का काम करते हैं और लड़ाई व गलतफहमियों को दूर करते हैं। सास और बहू के बीच खटपट होना कोई नई बात नहीं है। कभी सास की गलती होती है तो कभी बहू की गलती होती है। लेकिन जब घर में ससुर होते हैं तो वह एक न्यायाधीश की भूमिका निभाते हुए निष्पक्ष फैसला सुनाते हैं, जो सास और बहू दोनों को मानना पड़ता है। इसके अलावा जब घर में ससुर होते हैं तो वह एक काउंसलर की भूमिका निभाते हैं जिससे पतिपत्नी के बीच होने वाले मतभेद तलाक तक नहीं पहुंचते। इसलिए अगर आप अपने ससुर के साथ अच्छा रिश्ता रखती हैं यानि कि उन्हें अपने पिता की तरह मानती हैं तो निश्चित है कि वह भी आपको बेटी का दर्जा देंगे। जिससे रिश्ते में तो मिठास आएगी ही साथ ही आपका ससुराल में दर्जा भी बढ़ेगा। आज इस आर्टिकल में हम आपको ससुर के साथ अच्छा व्यवहार रखने की टिप्स बता रहे हैं। इनसे आप और आपके ससुर बाप-बेटी की तरह रहेंगे।

इसे भी पढ़ें: Viral Pics: मनीष मल्होत्रा की दिवाली पार्टी में शिल्पा से लेकर वाणी तक कुछ ऐसा था सेलेब्स का अंदाज़

हर फैसले में उनकी राय लें

relationship tips for daughter and father in law in sasural inside three

अगर आप अपने ससुर के साथ एक हेल्दी रिलेशन चाहती हैं तो घर के हर फैसल में उनकी राय जरूर लें। यहां तक कि अगर आप वर्किंग हैं तो उनके साथ अपने ऑफिस की बातें शेयर करें। अगर आप जॉब चेंज करना चाहती हैं या कोई दूसरा करियर चुनना चाहती हैं तो अपने ससुर से जरूर सलाह लें। इससे आप दोनों के बीच प्यार और विश्वास बढ़ेगा। साथ ही ससुर भी आपको एक बेटी की तरह राह देंगे।

उनके साथ कुछ वक्त बिताएं

relationship tips for daughter and father in law in sasural inside two

चाहे आप हाउस वाइफ हैं या वर्किंग वूमेन हैं घर के अन्य सदस्यों की तरह ही अपने ससुर के साथ जरूर वक्त बिताएं। मान लीजिए अगर आप उन्हें चाय देने जा रही हैं या रात को जब उन्होंने डिनर कर लिया है तो दूध देने के बहाने से जाएं और उनके साथ कुछ देर बैठकर घर परिवार की बातें करें या हंसी मजाक करें। आप चाहें तो इस मौके पर अपनी सास और पति को भी बैठा सकती हैं। इससे उन्हें भी बहुत अच्छा लगेगा। ऐसा भी हो सकता है कि वह खुद इस चीज के लिए न बोलें लेकिन अगर आप उनके साथ फ्रेंडली बात करना शुरू करेंगी तो आपके ससुर को बहुत अच्छा लगेगा।

इसे भी पढ़ें: जिंदगी के आखिरी दिनों में खुद को तनहा महसूस करती थीं स्मिता, जानें उनसे जुड़ी कुछ अनसुनी बातें

शॉपिंग के लिए लेकर जाएं

relationship tips for daughter and father in law in sasural inside one

60 साल या उसके बाद की उम्र के व्यक्ति को कोई एंटरटेन नहीं करना चाहता है। लेकिन आप ऐसा न करें। जिस दिन भी आपकी छुट्टी है उस दिन गाड़ी निकालें या कैब बुक करें और अपने ससुर को शॉपिंग पर लेकरजाएं और उन्हें बाहर उनकी पसंद का कुछ खिलाएं। इससे रिश्ते में तो सकारात्मकता आएगी ही साथ ही वह हमेशा आपके पक्ष में भी रहेंगे।