रिलेशनशिप तभी कामयाब होती है जब महिलाएं अपने पार्टनर के साथ खुश महसूस करती हैं और उनकी फीलिंग्स की कद्र करती हैं। रिलेशनशिप में एक-दूसरे की केयर करते हुए महिला और पुरुष दोनों ही एक-दूसरे से काफी उम्मीदें रखते हैं। उम्मीदों पर खरा उतरने पर पार्टनर स्वाभाविक रूप से जुड़ाव महसूस करता है, लेकिन जब उम्मीदें पूरी करना संभव ना हो तो पार्टनर के भीतर झुंझलाहट पैदा हो सकती है। आमतौर पर महिलाएं अपने पति का जिस तरह से खयाल रखती हैं, उनसे भी बदले में उसी तरह की केयर और अफेक्शन की उम्मीद रखती हैं, लेकिन अपनी उम्मीद के मुताबिक व्यवहार नहीं होने पर महिलाएं तनावग्रस्त रहने लगती हैं या फिर पति से टेंशन करती हैं। इस तरह का व्यवहार रिश्तों को बोझिल बना सकता है। अगर आप भी ऐसी ही स्थिति से गुजर रही हैं तो जानें ऐसे 5 तरीके, जिनके जरिए आप अपने रिश्तों को बेहतर बना सकती हैं और अपने पार्टनर के सिर से उम्मीदों का बोझ कर कर उन्हें खुश रखने में कामयाब हो सकती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: पति को लंबे वक्त तक रखना चाहती हैं खुश तो जरूर अपनाएं ये तरीके

व्यावहारिक सोच है जरूरी

 happy marital life

रिलेशनशिप में शुरुआती रोमांस के बाद चीजें जब सामान्य होने लगती हैं तब भी बहुत सी महिलाएं पहले जैसे व्यवहार की ही उम्मीद करती हैं। पार्टनर के प्रोफेशनल लाइफ में बिजी होने, दोस्तों के साथ वक्त गुजारने, परिवार वालों को अहमियत देने पर अक्सर वक्त की कमी पड़ जाती है। ऐसे में अगर महिलाएं ये सोचने लगें कि उन्हें इग्नोर किया जा रहा है या पार्टनर उनकी केयर नहीं करता, तो चीजों को व्यावहारिक नजरिए से देखने की जरूरत है। एक इंसान के लिए उसका परिवार और दोस्त भी काफी ज्यादा अहमियत रखते हैं। इसीलिए पार्टनर से टेंशन करने के बजाय उनकी परिस्थितियों को समझें और उनकी तरफ से किए जाने वाली कोशिशों को अप्रीशिएट करें। 

इसे जरूर पढ़ें: टीवी की इन हॉट फेवरेट जोड़ियों का रोमांस देखकर आपके दिल में भी कुछ-कुछ होने लगेगा

छोटी-छोटी चीजों पर ना करें टेंशन

relationship tips for less expectations

महिलाएं घर को व्यवस्थित तरीके से रखने में काफी रुचि लेती हैं और पति से उम्मीद करती हैं कि वे भी उनके काम में बराबर का सहयोग दें। लेकिन मुश्किल ये आती है कि पुरुष कई बार महिलाओं का नजरिया समझ नहीं पाते, या फिर उनकी परवरिश ऐसे माहौल में हुई होती है कि उन्हें घर की चीजों की व्यवस्था काफी मुश्किल महसूस होता है। ऐसे में पति के साथ झगड़ा करने या उन्हें ताना मारने के बजाय प्यार से उन्हें अपनी बात समझाएं और धीरे-धीरे उन्हें छोटी-छोटी जिम्मेदारियां देने का प्रयास करें। इस बात का भी ध्यान रखें कि घर की चीजों को लेकर पति के मान-सम्मान में कोई कमी ना आने दें।  

धैर्य से काम लें

relationship tips to be happy

पति के साथ कुछ बातों पर अलग नजरिया होना बहुत स्वाभाविक है। यह भी संभव है कि पति महिलाओं की कुछ बातों को खारिज कर दें। अगर कुछ चीजों पर पति का साथ नहीं मिल पाने की वजह से आपके काम बिगड़ जाते हैं या फिर अपनी प्लानिंग के अनुसार चीजें नहीं हो पातीं, तो पति पर झल्लाने के बजाय शांति से काम लें। समस्या के मूल में जाएं और पति से उस पर चर्चा करें। मुमकिन है कि शांति से किए गए डिस्कशन से आपको अपनी समस्या का बेहतर हल मिल जाए।

पति के व्यवहार को समझें

बहुत से पुरुष अपनी पत्नी के लिए काफी फिक्रमंद रहते हैं, लेकिन अपने प्रेम को खुले तौर पर जाहिर करने में संकोच महसूस करते हैं। अगर महिलाओं को पति के इस व्यवहार से परेशानी होती है तो उन्हें ये समझना बेहद जरूरी है कि पति उनके खाने-पीने से लेकर उनकी रोजमर्रा की जरूरतों का कितना ध्यान रखते हैं। एक-दूसरे की फिक्र होना रिश्ते में एक-दूसरे के लिए प्यार जाहिर करता है। नए नजरिए के साथ अगर महिलाएं अपनी रिलेशनशिप को एनालाइज करें तो उनका तनाव कम हो सकता है और वे ज्यादा खुश रह सकती हैं। 

झगड़े से कम नहीं होता प्यार

relationship tips for better marital life

बहुत सी महिलाएं रिलेशनशिप में हो जाने वाली टेंशन को दिल से लगाकर बैठ जाती हैं। तनाव होने पर पति-पत्नी कई बार एक-दूसरे को दिल दुखाने वाली चीजें भी कह देते हैं। लेकिन महिलाओं को यह समझना चाहिए कि इंसान की मन:स्थिति हमेशा एक सी नहीं रहती है और वह हमेशा गुस्से में व्यवहार नहीं करता है। प्यार में तकरार होने के बाद जब पति-पत्नी समाधान पर काम करते हैं तो उनकी अंडरस्टैंडिंग पहले से कहीं ज्यादा बेहतर होती है। इसीलिए खुद को रिलैक्स रखें और पति के साथ भी विनम्रता से पेश आएं।