भारत में शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे कढ़ी पसंद नहीं होगी लेकिन क्या आप जानते हैं कि कढ़ी एक ही तरीके से नहीं बनती बल्कि हर राज्य में कढ़ी बनाने का तरीका बिल्कुल अलग है और उसका स्वाद भी बहुत अलग और खास होता है। कढ़ी के स्वाद से आप पहचान सकते हैं कि वो किस राज्य की कढ़ी है। अभी आपको गुजराती कढ़ी बनाने की रेसिपी बता रहे हैं जो खट्टी-मीठी होती है। वैसे गुजराती कढ़ी भी पकोड़े वाली होती है लेकिन ये थोड़ी पतली होती है और इसमें सरसों और करी पत्ते का स्वाद भी खास होता है।

गुजराती कढ़ी की सामग्री

दही- 400 ग्राम

बेसन- आधा कप या एक बड़ा चम्मच

मैथी के दाने- 1/2 छोटा चम्मच

गुड़ या चीनी - एक छोटा चम्मच

जीरा- 1/2 छोटा चम्मच

सरसों के दाने- 1/2 छोटा चम्मच

करी पत्ता - 6-7

हींग - 2-3 चुटकी

हल्दी- 1/4 छोटा चम्मच

हरी मिर्च- 1-2 बारीक कटी हुई

अदरक- 1 इंच लम्बा टुकड़ा कद्दूकस किया हुआ

नमक- स्वादानुसार

साबूत लाल मिर्च- 2

लाल मिर्च पाउडर- 1/4 छोटा चम्मच या स्वादानुसार

हरा धनियां - 50 ग्राम बारीक कटा हुआ

तेल- 2-3 टेबल स्पून 

ध्यान रखें- गुजराती कढ़ी बनाने के लिए आपको फुल क्रीम दूध से जमी दही लेनी चाहिए जो ज्यादा खट्टी हो इससे कढ़ी ज्यादा स्वादिष्ट बनेगी। आप चाहें तो इसमें बेसन के पकोड़े भी बनाकर डाल सकती हैं। 

Read more: बॉलीवुड हीरोइन्स क्या खाती हैं कि बढ़ती उम्र नज़र ही नहीं आती

गुजराती कढ़ी बनाने की विधि 

  • गुजराती कढ़ी बनाने के लिए आप दही और बेसन को मिलाकर मिक्सर में फेंटे फिर दही और बेसन के घोल को किसी बड़े बर्तन में निकाल लें और इसमें दही से तीन गुना ज्यादा पानी डालकर इसमें मिला लें। अब कढ़ी बनाने के लिये घोल तैयार है।
  • कड़ाही में 2 चम्मच तेल डालकर उसे गर्म करें। 
  • गर्म तेल में जीरा, सरसों, मैथी के दाने डालकर धीमी आंच पर पकाएं। इसके बाद इसमें करी पत्ता, हींग, हल्दी पाउडर, हरी मिर्च और अदरक का पेस्ट डाल कर भूनें।
  • जब मसाला अच्छे से भुन जाए तब आप इसमें कढ़ी का घोल मिला दें।
  • कढ़ी को तेज आग पर उबलने दें। उबलती कढ़ी को चम्मच से हिलाते रहें और जब इसमें अच्छे से कुछ उबाल आ जाए उसके बाद इसे 15 मिनट तक धीमी आंच पर थोड़ी देर और अच्छे से उबलने दें। 
  • जब कढ़ी अच्छे से उबल जाए तब इसमें नमक और चीनी/गुड़ मिला दें। 
 

गार्निश करने के लिए- छोटी कड़ाही में तेल डालकर गर्म करें अब इसमें 1/4 चम्मच जीरा, साबुत लाल मिर्च, और हरा धनिया डालकर तड़का तैयार कर लें। तड़के को कढ़ी में ऊपर से डालें और फिर बचे हुए धनिये को ऊपर से सजाने के लिए डाल दें। 

Read more: दिवाली से पहले पंजाबी छोले भटूरे बनाना सीखें