व्रत और उपास में अक्सर साबूदाना खाया जाता है और आमतौर पर भी इसे खाना लोग पसंद करते हैं। साबूदाना काफी स्वादिष्ट बनता है और इससे हम कई तरह से व्यंजन बना सकते हैं। आप मीठे से लेकर नमकीन तक किसी भी तरह का खाना खा सकते हैं, लेकिन साबूदाने के साथ सबसे बड़ी दिक्कत ये होती है कि अगर आपने इसे भिगोने में थोड़ी भी गलती की तो ये हलवे की तरह हो जाता है और इसकी चिपचिपी कंसिस्टेंसी के कारण ये किसी भी डिश का स्वाद बिगाड़ देता है। 

साबूदाने को सही तरह से पकाने के लिए आपको कुछ हैक्स के बारे में जानना जरूरी है। ये हैक्स आपके साबूदाने को खिला-खिला रखेंगे और ये ज्यादा कुछ नहीं बस भिगोने के तरीके पर निर्भर करेंगे। चलिए जानते हैं इन हैक्स के बारे में। 

1. साबूदाने में डालें इतना पानी-

सबसे ज्यादा लोगों की यही परेशानी होती है कि आखिर साबूदाने में कितना पानी डाला जाए जिससे न तो ये ज्यादा गीला हो और न ही सूखा रह जाए। साबूदाने की खिचड़ी बनाते समय ये हैक्स काम आएंगे-

  • सबसे पहले साबूदाने को अच्छे से धो लें, लेकिन मसलें नहीं।
  • अब साबूदाने में इतना पानी डालें जितने में उसके सारे दाने भीग जाएं। अगर आप उंगली से नापना चाहते हैं तो साबूदानों से आधे अंगुल ऊपर तक पानी डालें। 
sabudana and citrus

इसे जरूर पढ़ें- न सूखेगी हरी मिर्च न होगी लाल, मिर्च को लंबे समय तक स्टोर करने के ट्रिक्स

2. अगर बड़ा साबूदाना ले रहे हैं तो-

अगर बड़ा साबूदाना ले रहे हैं तो इसे भीगने में समय लगता है और आपके लिए बेहतर होगा कि इसे रात भर के लिए भीगो दें। अगर रात भर नहीं भिगो पाए हैं तो भी इसे कम से कम 3-4 घंटे तो भीगे रहने दें। इसके बाद इसे बनाने से थोड़ा पहले पंखे के नीचे रख दें। इससे एक्स्ट्रा पानी अगर होगा तो वो हट जाएगा। 

3. अगर झटपट बनाना है साबूदाना और नहीं भिगोया है इसे तो?

कई बार ऐसा होता है कि हमें साबूदाना खाने का मन तो करता है, लेकिन हम अक्सर इसे भिगोना भूल जाते हैं। ऐसे में आप गुनगुने पानी में साबूदाना भिगो सकते हैं, लेकिन ऐसा करने के बाद साबूदाना को ढकना नहीं वर्ना ये चिपचिपा हो जाएगा और अगर आपने ज्यादा गरम पानी डाल दिया तो ये पकने लगेगा और गीला हो जाएगा। गुनगुना पानी उसी अनुपात में डालें जिसमें बताया गया है। 

sabudana geela

4. छोटे साइज के साबूदाने को न भिगोएं ज्यादा-

साबूदाना कैसा बनेगा इसके लिए आपको ये भी पता होना चाहिए कि किस तरह का सबूदाना कैसे भिगोना है। अगर आप सबसे छोटे साइज का साबूदाना प्रयोग कर रहे हैं तो उसे 30 मिनट से ज्यादा न भिगोएं। आप अगर चाहें तो इसके बाद इसका पानी निकाल कर रख सकते हैं। 

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- सॉफ्ट रोटी बनाने और गुंथा हुआ आटा स्टोर करने के 5 किचन हैक्स  

5. नमक के साथ न भिगोएं साबूदाना- 

कई लोगों की आदत होती है कि वो नमक के साथ ही साबूदाना भिगोकर रख देते हैं जो गलत है। इससे साबूदाने का टेक्सचर हमेशा खराब ही रहेगा। आपको हमेशा साबूदाने में तब नमक डालना चाहिए जब ये थोड़ा पकने लगा हो। अगर आप साबूदाने की खिचड़ी बनाने जा रहे हैं तो ये टिप बहुत काम की साबित हो सकती है।  

ये टिप्स अपना कर देखें आपका साबूदाना हमेशा खिला-खिला बनेगा। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।