मुंबई में कोरोनावायरस के कारण हालात नाजुक बने हुए हैं। यहां इन्फेक्शन को फैलने से रोकने के लिए महाराष्ट्र सरकार कड़े कदम उठा रही है, लेकिन अभी भी हालात सामान्य होने में समय लगेगा। इस बीच बहुत से लोग अपनी तरफ से लोगों को राहत पहुंचाने का काम कर रहे हैं। मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर, जो पहले नर्सिंग में ही थीं, ने हालात को बेहतर बनाने के लिए स्वेच्छा से एक बार फिर नर्स बनने की इच्छा जाहिर की है। इसी सोच के साथ किशोरी नर्स के रूप में मुंबई के नायर अस्पताल में नर्स के तौर पर काम करती नजर आईं और उनकी यही तस्वीर इस समय सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। चूंकि मुंबई में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है और 5000 का आंकड़ा पार कर चुकी है। ऐसे में नर्सिंग स्टाफ पर भी काफी प्रेशर है। किशोरी अपनी उपस्थिति के जरिए नर्सिंग स्टाफ का उत्साह बढ़ाएंगी। 

ट्विटर पर लिखा ये संदेश

 

किशोरी पेडनेकर ने ट्विटर पर पोस्ट किए अपने संदेश में लिखा है, मुंबईवासियों के लिए सबकुछ करेंगे। हम वर्क फ्रॉम होम नहीं कर सकते। हम फील्ड में आपके लिए हैं। आप घर पर रहें और अपना खयाल रखें। इस मैसेज के जरिए किशोरी ने लोगों को पॉजिटिव रहने के लिए इंस्पायर किया।

इसे जरूर पढ़ें: सुधा मूर्ति ने Coronavirus को हराने के लिए दिए 100 करोड़, जानिए उनकी जिंदगी से जुड़े वो किस्से जिनसे झलकती है उनकी शख्सियत

महिलाओं के लिए इंस्पिरेशन

kishori pednekar mumbai mayor

जहां देश की ज्यादातर महिलाएं इस समय घरों में हैं और अपने परिवार की देखरेख में लगी हैं। वहीं किशोरी पेडनेकर आम लोगों की मुश्किलों को दूर करने और उन्हें बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए नर्सिंग में वापस लौटी हैं। इस समय में नर्सिंग स्टाफ पर अत्यधिक दबाव की वजह से वे अपने काम के घंटों से कहीं अधिक सेवाएं दे रहे हैं। ऐसे मुश्किल वक्त में मुंबई वासियों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए किशोरी पेडनेकर की पहल सराहनीय है। 

इसे जरूर पढ़ें: कैप्टन स्वाति रावल ने देश के लिए निभाया अपना फर्ज, 265 भारतीयों की इटली से सुरक्षित वापसी कराई

शुरुआत से ही रहीं मुखर

kishori pednekar mumbai mayor works as nurse

किशोरी पेडनेकर अपने काम में शुरुआत से ही मुखर रही थीं। जब वह जवाहर लाल पोर्ट ट्रस्ट अस्पताल में थीं, तब उन्होंने अपनी सेवा-सुश्रुषा से अपनी एक अलग पहचान बनाई थी। जब उन्होंने बाला साहेब ठाकरे के प्रेरक विचार सुने तो वह 1992 में नर्सिंग छोड़कर शिवसेना की सदस्य बन गई थीं। इसके बाद वह शिवसेना की कॉरपोरेटर और फिर मुंबई की 77वीं मेयर चुनी गईं।

Recommended Video

दिलचस्प बात ये है कि किशोरी पेडनेकर ने आदित्य ठाकरे के पहली बार चुनाव में खड़े होने के दौरान भी अहम भूमिका निभाई थी। आदित्य वर्ली सीट से विधानसभा चुनाव लड़े थे और भारी मतों से विजयी हुए थे। किशोरी पेडनेकर के सराहनीय प्रयासों की मातोश्री की तरफ से भी बहुत प्रशंसा की गई थी। किशोरी पेडनेकर ने सिंधुदुर्ग डिस्ट्रिक्ट में वुमन रिलेशन ऑर्गनाइजर के तौर पर भी काम किया है। तब वह रायगढ़ और शिरडी की महिला विंग संभालने का काम करती थीं।

किशोरी पेडनेकर को 22 नवंबर, 2019 को निर्विरोध मेयर चुना गया था। आपको यह जानकर भी खुशी होगी कि किशोरी पेडनेकर लगातार 4 बार मुंबई की मेयर बनने का गौरव हासिल कर चुकी हैं। 

अगर आपको यह खबर अच्छी लगी तो इसे जरूर शेयर करें। महिलाओं के सराहनीय प्रयासों से जुड़ी लेटेस्ट अपडेट्स पाने के लिए विजिट करती रहें हरजिंदगी।

Image Courtesy: Pinterest