क्या आप गर्भनिरोधक के लिए इंजेक्शन लेने की सोच रही हैं? अगर हां, तो आपको ऐसा करने से पहले एक बार कुछ जरूरी बातों को जान लेना चाहिए। आपको बता दें कि गर्भनिरोधक इंजेक्शन में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन होते हैं जो आपको गर्भाव‍ती होने से रोकते हैं। एक बार जब प्रोजेस्टेरोन  का स्तर इंजेक्शन लेने के बाद रक्तप्रवाह में बढ़ जाता है, तो यह अंडाशय से अंडे को रिलीज नहीं होने देता और उसे नियंत्रित करने, या गर्भाशय ग्रीवा (cervical mucus)के म्‍यूकस को मोटा करने, या गर्भाशय की दीवार को निषेचित भ्रूण (fertilized embryo)के आरोपण के लिए अयोग्य बना देता है। इससे गर्भावस्‍था को रोका जा सकता है। 

क्‍या है गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन को लेने का सही समय? 

गर्भपात के बाद भी आप यह इंजेक्‍शन ले सकती हैं। इतना ही नहीं अगर आप इस इंजेक्‍शन को शिशु के जन्‍म के बाद लेना चाहती हैं तो ले सकती हैं क्‍योंकि इससे स्‍तनपान पर कोई भी असर नहीं पड़ेगा। आपको बच्‍चे के जन्‍म के 6 हफ्ते बाद यह इंजेक्‍शन लेना चाहिए। 

contraceptive injection advantages and disadvantages

क्‍या हैं गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन के लाभ 

  • अगर समय रहते इसका इस्‍तेमाल किया जाए तो यह 99 प्रतिशत तक प्रभावशाली हो सकता है। 
  • इस इंजेक्‍शन को लेने के बाद आप 8 से 13 हफ्ते तक असुरक्षित यौन संबंध बना सकती हैं। आपको इसे लेने के बाद पिल्‍स लेने का रिमाइंडर सेट करने की भी जरूरत नहीं है। 
  • खासतौर पर वह महिलाएं जो एस्‍ट्रोजेन का सेवन नहीं कर सकती हैं उनके लिए गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन बहुत ही उपयोगी हैं। 
  • स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन सबसे सुरक्षित तरीका है। 

Recommended Video

क्‍या हैं गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन के नुकसान 

  • हो सकता है कि आपको आंतरायिक स्‍पॉटिंग (Intermittent Spotting) का अनुभव हो। 
  • इसे लेने के बाद आपको मासिक धर्म में ज्‍यादा रक्‍त प्रवाह भी हो सकता है और बहुत कम रक्‍त प्रवाह भी हो सकता है। ऐसा भी हो सकता है कि आपका मासिक धर्म चक्र बिगड़ जाए या आप मिस कर जाएं। 
  • अगर आप साल भर में दोबारा मां बनना चाहती हैं तो गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन आपके लिए उचित नहीं हैं। 
  • यह किसी भी तरह के यौन संचारित रोगों (sexually transmitted diseases) से सुरक्षा प्रदान नहीं करता है। 
  • यदि आपको हृदय रोग, स्‍ट्रोक या फिर लीवर से जुड़ी कोई बीमारी है तो आपको यह इंजेक्‍शन नहीं लेना चाहिए। 
  • अगर आपकी ब्रेस्‍ट कैंसर या प्रजनन अंगों में कैंसर की कोई हिस्‍ट्री रही हो तो आपको यह इंजेक्‍शन नहीं लेना चाहिए। 
  • यह एक हार्मोनल इंजेक्‍शन है, इसलिए हो सकता है कि इससे आपके शरीर का वजन बढ़ जाए या फिर शीरर में फैट जमने लगे। 
  • इसे लेने के बाद आपको मूड स्विंग्‍स, फूड क्रेविंग, चिंता, अवसाद आदि हो सकता है।  

ऐसा कहा जा सकता है कि गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन गर्भावस्‍था को रोकने में मददगार हैं और दीर्घकालिक सुरक्षा प्रदान करते हैं। मगर, आपको इसे केवल डॉक्‍टर की सलाह के बाद ही लेना चाहिए। 

डॉ. सिद्धेश अय्यर [MRCOG (UK), MBBS, DGO, DNB - प्रसूति एवं गायनेकोलॉजिस्ट का एक्‍सपर्ट सलाह के लिए विशेष धन्यवाद।