इस वक्त कोरोना वायरस ने कोहराम मचाया हुआ है। देशभर में रोजाना ढ़ाई लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो रहे हैं तो वहीं, 1400 से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। आप इन आंकड़ों से ही कोरोना के कहर को समझ सकते हैं। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पहले के मुकाबले ज्यादा खतरनाक है। यह संक्रमण युवाओं, बुजुर्गों और बच्चों को भी अपना शिकार बना रहा है।

डायबिटीज और ब्लड प्रेशर के मरीजों को इस जानलेवा संक्रमण से सबसे ज्य़ादा खतरा रहता है। वहीं, यह संक्रमण दिल के मरीजों और कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को भी नुकसान पहुंचा रहा है। कोरोना संक्रमण से बचाव से लिए इम्यून सिस्टम का मजबूत होना बेहद जरूरी है। 

इम्यूनिट सिस्टम होता है मजबूत

turmeric

हल्दी सभी घरों में इस्तेमाल की जाती है। इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए ही खाने में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें कई ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हल्दी के सेवन का चलन तेजी से बढ़ा है। हालांकि, हल्दी का सेवन सही मात्रा में करना चाहिए। हल्दी की तासीर गर्म होती है। इस वजह से हल्दी का अत्यधिक मात्रा में सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। इस आर्टिकल में जानिए हल्दी के सेवन से जुड़ी कुछ जरूरी बातें।

इसे भी पढ़ें: गर्मियों में सत्तू का जरूर करें सेवन, इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

ज्यादा मात्रा में हल्दी का न करें सेवन

 

आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा के अनुसार, इम्यून सिस्टम को बढ़ाने में हल्दी बेहद कारगर है लेकिन हल्दी का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। वैद्य कोटेचा की मानें तो ताजी पीसी और सूखी हल्दी का दोनों का सेवन कर सकते हैं लेकिन अगर ताजी हल्दी हो तो उसकी मात्रा थोड़ी ज्यादा होनी चाहिए। चूंकि उसके औषधीय तत्व डायल्यूटेड होते हैं। कोटेचा के अनुसार, 200 एमएल के 1 कप में छोटा चम्मच यानी 4 ग्राम हल्दी होनी चाहिए। वहीं, अगर 150 एमएल का कप है तो उसमें आधा चम्मच यानी 3 ग्राम हल्दी होनी चाहिए। राजेश कोटेचा के अनुसार, बहुत ज्यादा हल्दी का सेवन भी नुकसानदायक है।   

Recommended Video

हल्दी के फायदे

- गुनगुने पानी में हल्दी डालकर पीने से शरीर में जमा फैट कम होता है।

- हल्दी के सेवन से रक्त में मौजूद विषैले तत्व बाहर निकलते हैं और रक्त प्रवाह ठीक रहता है। 

- अगर आपको चोट लग जाती है तो हल्दी को चूने में मिलाकर लगाने से दर्द को आराम मिलता है। 

इसे भी पढ़ें: दिल की सेहत से जुड़े इन 3 खास सवालों के जवाब एक्‍सपर्ट से जानें

- यदि आपको चोट लग गई है और खून तेजी से वह रहा है तो उस जगह हल्दी लगा दें। थोड़ी देर में ही खून का बहना कम हो जाएगा। 

- सर्दी और जुकाम होने पर दूध में हल्दी डालकर पीना लाभदायक होता है। साथ ही इससे फेफड़ों में जमा कफ भी बाहर निकल जाती है। 

- हल्दी के सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं और ऑस्टियोपोरोसिस में भी कमी आती है। 

- अगर आपको रात में नींद नहीं आती है तो आप एक गिलास दूध में एक चुटकी हल्दी मिलाकर पीएं। फिर देखिए आपको कितनी शानदार नींद आती है।

- दूध में हल्दी मिलाकर पीने से ब्लड शुगर कम हो जाता है। 

दूध के साथ फायदेमंद है हल्दी

milk with turmeric pic

हल्दी में औषधीय गुण पाएं जाते हैं। इसलिए दूध में हल्दी को मिलाकर पीना चाहिए। ऐसा करने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और स्वास्थ्य भी बेहतर रहता था। हल्दी का दूध बनाना बेहद आसान है। इसके लिए आपको दूध और हल्दी की जरूरत होती है। हल्दी का दूध बनाने के लिए एक गिलास दूध में एक चुटकी हल्दी डालकर उबाल लें। दूध में उबाल आने के बाद आपका हल्दी वाला दूध बनकर तैयार है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरूर शेयर करें। इस तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरज़िंदगी के साथ।

Image Credit: freepik