जब से कोरोना संक्रमण ने पूरे विश्व में अपने पैर पसारना शुरू किया तो लोगों के जीने और काम करने का तरीका ही पूरी तरह बदल गया। यूं तो वर्क फ्रॉम होम कल्चर बहुत पुराना है, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण जब सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करना जरूरी हो गया है तो सभी ऑफिस भी घर में ही सिमटकर रह गए। जी हां, ऑफिस जाने वाली महिलाएं भी पिछले कई महीनों से घर से ही काम कर रही हैं। सुनने में यह काफी आरामदायक लग रहा हो, क्योंकि ना ही सुबह जल्दी उठकर नाश्ता और लंच बनाने का झंझट और ना ही ट्रैफिक जाम का चक्कर, घर पर रहते हुए अपने कंफर्ट के अनुसार काम करना यकीनन हर किसी को अच्छा लगेगा। लेकिन नहीं, वास्तव में तस्वीर कुछ और ही है। लंबे समय से घर पर रहकर काम करने के कारण महिलाओं को एक नहीं बल्कि कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको ऐसी ही कुछ स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में बता रहे हैं-

अकेलेपन की समस्या

 work from home inside

हम सभी सामाजिक प्राणी हैं और इसलिए हमारे लिए जरूरी है कि अपने आसपास लोगों के संपर्क में रहें। जब हम ऑफिस जाती हैं तो कई लोगों से मिलती हैं, आपसी संवाद करती हैं, जिसके कारण कई तरह के तनाव व समस्याओं से बेहद आसानी से यूं ही छुटकारा मिल जाता है। लेकिन जब हम लंबे समय से घर पर हैं तो ऐसे में अकेलेपन के कारण अवसाद और उदासी की भावनाएं पनप सकती हैं। इसका अंदाजा आप अपने बदलते स्वभाव के जरिए पहचान सकती हैं।

क्या करें- आप किसी ऐसे व्यक्ति से जुड़ी रहें, जिसे आप जानती हैं। भले ही आप फिजिकली रूप से उन से ना मिल सकें। लेकिन फिर वीडियो कॉल व चैट के जरिए उनके संपर्क में अवश्य रहें।

इसे जरूर पढ़ें: पार्टनर साथ हो या ना हो, खुद को तन्हा महसूस ना होने दें

ओवरईटिंग व वजन बढ़ना

 work from home inside

यह एक ऐसी समस्या है, जिसका सामना हर वर्क फ्रॉम होम करने वाली महिला को कहीं ना कहीं करना ही पड़ रहा है। एक साथ ऑफिस का काम करना, बच्चों की ऑनलाइन क्लास व उनकी पढ़ाई और घर के काम को संभालने की जिम्मेदारी उन्हें तनाव में डाल सकती है। ऐसे में आप स्ट्रेस ईटिंग कर सकती हैं। इतना ही नहीं, घर पर रहते हुए काम करने और खाने का भी कोई समय नहीं होता, जिससे भी ओवरईटिंग होती है। जिससे वजन बढ़ने लगता है। हो सकता है कि लंबे समय से घर पर रहते हुए आपने भी अपने वजन को बढ़ता हुआ नोटिस किया हो।

क्या करें- भले ही आप वर्क फ्रॉम होम कर रही हैं, लेकिन फिर भी आप एक शेड्यूल तय करें। जिस तरह ऑफिस में आप लंच टाइम पर खाना खाती थीं, ठीक उसी तरह घर पर भी ऐसा ही नियम रखें। साथ ही कुछ वक्त व्यायाम को भी दें ताकि आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखें।

इसे जरूर पढ़ें: अगर आप भी जल्दी-जल्दी खाना खाती हैं तो इन 4 बातों का रखे ख्याल

Recommended Video

शरीर में दर्द

 work from home inside

वर्क फ्रॉम होम करते हुए कई महिलाओं को गर्दन में दर्द, कमर में दर्द या फिर आंखों में दर्द जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, घर पर रहते हुए काम करने के घंटे और साथ ही साथ काम भी काफी बढ़ गया है। घर पर को-आर्डिनेशन की समस्या हो रही है और ऑनलाइन मीटिंग भी घंटों तक चलती हैं, जिसके कारण कई-कई घंटों तक लैपटॉप पर बैठकर काम करना पड़ता है और शरीर के विभिन्न हिस्सों में दर्द होता है।

क्या करें- वर्क फ्रॉम होम के दौरान आप ऑफिस के काम को नजरअंदाज नहीं कर सकतीं, लेकिन अपने बॉडी पॉश्चर पर ध्यान देकर आप अपने बॉडी पेन को काफी हद तक कम कर सकती हैं। मसलन, अगर आप लैपटॉप पर काम कर रही हैं तो बेड या सोफे पर बैठने की जगह टेबल व चेयर का इस्तेमाल करें। इसी तरह लैपटॉप पर एकटक देखने की जगह आप बीच-बीच में पलकें झपकाती रहें।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik