घर में इस्तेमाल होने वाले चिकित्सकीय उपकरणों में से एक थर्मामीटर बहुत ही उपयोगी उपकरण हो सकता है। कभी भी शरीर का तापमान नापना हो या बुखार का अंदाजा लगाना हो थर्मामीटर का इस्तेमाल ही किया  जाता है। खासतौर पर आज के बदलते परिवेश में डिजिटल थर्मामीटर सबसे ज्यादा चलन में है। जब ओरल डिजिटल थर्मामीटर की बात आती है तब इसका इस्तेमाल और इसकी ठीक से सफाई बेहद जरूरी है। 

ओरल थर्मामीटर से मुंह के अंदर से तापमान चेक किया जाता है इसलिए इसे ठीक से सैनिटाइज़ करना जरूरी है नहीं तो कीटाणु हमारे मुंह के भीतर जाकर हमें अन्य बीमारियों से ग्रसित कर सकते हैं। एक बार जब आप इसका उपयोग कर लेते हैं, तो इसे ठीक से साफ करना महत्वपूर्ण है। डिजिटल थर्मामीटर को आप कुछ तरीकों से इस्तेमाल करने से पहले और बाद में सैनिटाइज़ कर सकते हैं और इन्हें कीटाणुरहित बना सकते हैं। एक अच्छी तरह से कीटाणुरहित किया गया थर्मामीटर महत्वपूर्ण है ताकि यह साफ रहे और इसके अगले उपयोग के दौरान कीटाणु न फैले।

कीटाणुरहित होना चाहिए थर्मामीटर 

how to clean thermommeter

प्रत्येक उपयोग से पहले और बाद में डिजिटल थर्मामीटर को साफ करना चाहिए। विश्व स्वास्थ्य संगठन का सुझाव है कि थर्मामीटर, अन्य चिकित्सा उपकरणों के बीच, रोगी के साथ हर उपयोग के बाद कीटाणुरहित होना चाहिए। अच्छी तरह से सैनिटाइज़ डिजिटल थर्मामीटर कीटाणुओं या संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद करते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:यह पांच ओरल हेल्थ मिथ्स आपकी सेहत को पहुंचा सकते हैं भारी नुकसान, जानिए

अच्छी सफाई से बीमारी का खतरा कम 

how to clean thermometer

यदि आप डिजिटल थर्मामीटर का उपयोग कर रहे हैं, तो संभावना है कि आप बुखार की जाँच कर रहे हैं, जो फ्लू जैसी कई संक्रामक बीमारियों का एक सामान्य लक्षण है। थर्मामीटर की सफाई - जो कीटाणुओं के संपर्क में है - यह सुनिश्चित करने में मदद कर सकता है कि दूसरे बीमार न हों। अध्ययनों से यह भी संकेत मिलता है कि थर्मामीटर सहित रोगी देखभाल उपकरणों को कीटाणुरहित करने से डायरिया और मूत्र पथ के संक्रमण जैसी बीमारियों के लिए जिम्मेदार रोगजनकों के प्रसार में कमी आ सकती है।

Recommended Video

डिजिटल थर्मामीटर को कैसे साफ करें

डिजिटल थर्मामीटर सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले प्रकार के थर्मामीटर हैं क्योंकि वे लगभग सटीक परिणाम प्रदान करते हैं और उपयोग में आसान होते हैं। उनका उपयोग अस्पतालों में स्वास्थ्य पेशेवरों के साथ-साथ घरों में आम लोगों द्वारा किया जाता है। इसे साफ़ करने के लिए नीचे दिए गए टिप्स फॉलो करें। 

थर्मामीटर की टिप को ठन्डे पानी से धोएं 

clean with cold water

डिजिटल थर्मामीटर के सिरे या टिप को ठंडे पानी से अच्छी तरह से धो लें। अपने थर्मामीटर का उपयोग करने के बाद, शरीर के संपर्क में आने वाले सिरे को, जिसे टिप कहा जाता है, ठंडे पानी के नीचे 1 या 2 मिनट तक चलाएं। यह सतह पर मौजूद किसी भी कीटाणु या बैक्टीरिया को हटाना शुरू कर देगा। थर्मामीटर को धोते समय किसी भी डिजिटल भाग, जैसे डिस्प्ले, को पानी से बाहर रखना सुनिश्चित करें। डिजिटल थर्मामीटर के डिस्प्ले में पानी पड़ने से ये खराब हो सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:High fever होने पर आपकी बॉडी में होता है कुछ ऐसा

अलकोहल वाइप्स से पोछें 

alcohal wipes thermometer clean

अल्कोहल-आधारित वाइप्स (कम से कम 70% अल्कोहल) या रबिंग अल्कोहल से थर्मामीटर को पोंछ लें या फिर कॉटन बॉल या कॉटन पैड पर रबिंग अल्कोहल लगाएं। इसे थर्मामीटर की पूरी सतह पर ऊपर और नीचे रगड़ें, इसकी टिप जो मुंह के अंदर डाली जाती है उसे अच्छी तरह से वाइप्स से साफ़ करें।  

पानी से धो लें 

अल्कोहल निकालने के लिए थर्मामीटर के तने या पेसिफायर सिरे को पानी से धो लें। थर्मामीटर पर छोड़ी जाने वाली अल्कोहल की थोड़ी मात्रा को धोने के लिए तने को तुरंत पानी से धो लें। डिजिटल थर्मामीटर को कभी भी पानी में न डुबोएं, क्योंकि इससे उसे नुकसान हो सकता है या पूरी तरह से टूट सकता है।

लिक्विड सोप से धोएं

use liquid soap 

डिजिटल थर्मामीटर को जीवाणुरोधी तरल साबुन से भी साफ किया जा सकता है। इसके लिए थर्मामीटर की टिप को साबुन से अच्छी तरह से साफ़ करें। लेकिन ध्यान रहे डिजिटल थर्मामीटर डिवाइस को पानी की क्षति से बचाने के लिए डिजिटल थर्मामीटर पर स्क्रीन को धोने से बचें।

इसे अच्छी तरह से सुखा लें 

thermometer cleaning tips

डिजिटल थर्मामीटर को साफ करने के बाद, इसे किसी केस या दराज में वापस रखने से पहले इसे सूखने देना महत्वपूर्ण है। बस इसे हवा में सूखने के लिए सेट करें, क्योंकि तौलिये का उपयोग करने से सतह पर नए कीटाणुओं या जीवाणुओं के आने का खतरा बढ़ जाता है।

उपयोग के बाद पूरी प्रक्रिया दोहराएं 

उपयोग के बाद एक बार फिर से पूरी प्रक्रिया को दोहराएं जिससे अगली बार इस्तेमाल के लिए थर्मामीटर कीटाणुरहित हो जाए। इन टिप्स को फॉलो करके आप डिजिटल थर्मामीटर को अच्छी तरह सैनिटाइज़ करने के साथ कीटाणुरहित भी बना सकती हैं। ठीक से साफ़ न किया गया थर्मामीटर बुखार के साथ अन्य बीमारियों जैसे पेट की बीमारी, मुंह में छालों की समस्या को भी जन्म दे सकता है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik and unsplash