गर्मियों के मौसम में कई बार बहुत ज्यादा बीमारियां होने लगती हैं। मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, फीवर, वायरल होने के साथ-साथ फूड पॉइजनिंग और डायरिया की समस्या भी इस मौसम में सबसे ज्यादा बढ़ जाती है। अगर देखा जाए तो इस मौसम में आपको ये ध्यान रखने की जरूरत होती है कि आप किसी भी तरह से अपने आप को इस समस्या से बचा सकते हैं। 

गर्मियों में फूड पॉइजनिंग क्यों बढ़ती है, उससे कैसे बचा जाए और क्या सावधानियां रखनी चाहिए इसके लिए हमने कैराली आयुर्वेद की ज्वाइंट मैनेजिंग डायरेक्टर मिसेज गीता रमेश से बात की। उन्होंने हमें फूड पॉइजनिंग से जुड़ी कई चीज़ों के बारे में बताया। 

आखिर क्यों गर्मियों में ज्यादा होती है फूड पॉइजनिंग-

गर्मियों में  फूड पॉइजनिंग के ज्यादा होने का खतरा इसलिए रहता है क्योंकि इन दिनों में बैक्टीरिया की ग्रोथ ज्यादा होती है। ऐसे में बाहर अगर ज्यादा देर तक खाना रख दिया गया तो वो 25-45 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है और ऐसे में खाने में बैक्टीरिया तेज़ी से बढ़ने लगता है। यही कारण है कि बैक्टीरिया की ग्रोथ को थोड़ा रोकने के लिए खाने को ज्यादा देर तक फ्रिज के बाहर नहीं रखना चाहिए। 

food poisoning expert

इसे जरूर पढ़ें- 10 किलो तक कम करना है वजन तो एक्सपर्ट के बताए ये योगा आसन करेंगे मदद

इन दिनों में फूड पॉइजनिंग के रेट ज्यादा बढ़ जाते हैं और ऐसे में सबसे जल्दी खराब होने वाले खाने होते हैं-

  • कच्चा मीट
  • अंडे
  • सीफूड
  • डेयरी
  • फरमेंटेड फूड्स
  • बचा हुआ खाना जो 1 घंटे से ज्यादा देर से बाहर हो
  • पास्ता, मैगी या मैदे से बनी कोई और चीज़

इन सभी चीज़ों को आपको फ्रिज में तब तक रखना चाहिए जब तक इस्तेमाल नहीं करना हो। अगर आप इन्हें ज्यादा देर तक फ्रिज से बाहर रख रहे हैं तो ये खराब जल्दी हो जाएंगे। पास्ता, मैगी या ऐसी ही किसी चीज़ से तो लिवर तक फूड पॉइजनिंग के पहुंचने का खतरा हो सकता है। इसलिए आप इन्हें तुरंत बनाकर तुरंत खाएं। इस तरह का इंस्टेंट फूड अगर बचा रहे तो इसे फेंक दें।  

food poisioning tips

गर्मियों में हवा के साथ आता है बैक्टीरिया- 

गर्मियों के मौसम में हवा के साथ भी बैक्टीरिया आता है और ये अपने साथ कई पॉल्यूटेंट्स लेकर आता है। हमारा इम्यूनिटी सिस्टम इस तरह से कई तरह के इन्फेक्शन कैच कर लेता है और कई बार तो हमारी इम्यूनिटी खराब भी हो जाती है जिससे हमें इन्फेक्शन हो जाता है।  

गर्मियों में अगर खाना तुरंत नहीं खाया गया तो ये जहरीला हो जाता है और बैक्टीरिया काफी ज्यादा तेज़ी से बढ़ता है। आपको इस समय सब कुछ बहुत अच्छे से धोकर खाना चाहिए और मीट-अंडे आदि अगर खा रहे हैं तो उन्हें ठीक से पकाना चाहिए।  

Recommended Video

खाना पकाने के साथ-साथ स्टोर करने का भी रखें ध्यान- 

इस मौसम में सिर्फ खाना पकाने ही नहीं बल्कि स्टोर करने के तरीकों का भी ध्यान रखना चाहिए। खाने को हमेशा ठंडा रखने की कोशिश करें। अगर आप इसे तुरंत नहीं खा रहे हैं तो 1-2 घंटे बाहर छोड़ना भी ठीक नहीं है। गर्मियों के समय खासतौर पर दोपहर का बचा खाना आपको स्टोर करके रखना चाहिए।  

इसी के साथ, आपको ये भी ध्यान रखना है कि कच्चे और पके हुए खाने को एक साथ न रखें। भले ही आप सब्जी के बगल में फल रख रहे हों, लेकिन ये प्रैक्टिस गलत है। किसी भी तरह के कच्चे खाने में बैक्टीरिया होता है। ये फ्रिज में भी हो सकता है और इसलिए आप कच्चे और पके हुए खाने को अलग शेल्फ में रखें। 

 इसे जरूर पढ़ें- गर्मियों में कैसे डाइट में शामिल करें हींग, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे 

उबला पानी पीने की कोशिश करें- 

उबला पानी ठंडा कर पीने से ज्यादा फायदा है। इन दिनों टायफॉयड और ज्वाइंडिस जैसी बीमारियां भी बहुत होती हैं और पानी को उबाल कर पीना न सिर्फ आपके पेट के लिए अच्छा है बल्कि ये आपको फूड पॉइजनिंग और ऐसी ही अन्य बीमारियों से भी बचाएगा।  

ये सभी टिप्स आपके बहुत काम आ सकती हैं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।