ज्यादातर महिलाओं को लगता है कि वे प्रेग्‍नेंसी के दौरान बाथरूम सामान्य से अधिक जाती हैं। कई यह भी सोचती हैं कि बार-बार यूरीन महसूस होना, इस बात का संकेत है कि वे गर्भधारण करने वाली हैं। हालांकि ये कुछ हद तक सही हैं क्योंकि लगातार यूरीन का आना प्रेग्‍नेंसी के सबसे आम शुरुआती लक्षणों में से एक है जो फर्स्‍ट ट्राइमेस्‍टर में शुरू होता है।

बार-बार यूरीन आने के कारण

लगातार यूरीन आने का प्रमुख कारण एचसीजी हार्मोन है, जो आपके पेल्विक एरिया में ब्‍लड फ्लो को बढ़ाता है। एक और कारण यूट्रस का बढ़ता आकार हो सकता है क्योंकि यह आपके ब्‍लैडर पर दबाव डालता है जिससे यूरीन स्‍टोर नहीं हो पाता है। थर्ड ट्राइमेस्‍टर में, बच्चे का सिर पेल्विक की ओर बढ़ता है, इससे आपके ब्‍लैडर पर दबाव पड़ता है और यूरीन करने की इच्छा पैदा होती है।

Frequent urination during pregnancy  problematic  or not INSIDE

इस समस्‍या से बचने के लिए क्या करना होगा?

  • आप यूरीन करने के दौरान थोड़ा आगे झुककर अपने ब्‍लैडर को पूरी तरह से खाली करने की कोशिश करें। अगर आपका ब्‍लैडर पूरी तरह से खाली हो जाता है तो आपको बार-बार बाथरूम जाने की जरूरत महसूस नहीं होगी। 
  • डबल-वोडिंग करने की कोशिश करें। इस प्रक्रिया में, जब आप यूरीन करते हैं, और जब आप कर रहे होते हैं, तो आप फिर से यूरीन करने की कोशिश करते हैं, जो सुनिश्चित करता है कि ब्‍लैडर पूरी तरह से खाली है।

क्या प्रेग्‍नेंसी के दौरान बार-बार यूरीन से बचा जा सकता है?

यह प्रत्येक महिला पर निर्भर करता है क्योंकि आंतरिक अंगों की व्यवस्था हर महिला में थोड़ी अलग होती है। कुछ महिलाओं को इस समस्‍या का अनुभव नहीं होता है, लेकिन कुछ ऐसी भी हैं जिनमें प्रेग्‍नेंसी के दौरान इस समस्‍या का होना बेहद आम हैं। ज्यादातर महिलाओं में, प्रेग्‍नेंसी के नौवें महीने से लेकर बच्‍चे को जन्‍म देने तक बार-बार यूरीन जाने की संभावना होती ही है।

क्या बार-बार आने वाले यूरीन को रोकने के लिए कोई उपाय हैं?

  • बिस्तर पर जाने से पहले कुछ भी पीने से बचें: रात में बिस्तर पर जाने से ठीक पहले लिक्विड न लें।
  • कैफीन जैसे मूत्रवर्धक लेने से बचें: इससे आपको बार-बार यूरीन जाना पड़ सकता है।

Recommended Video

क्या मुझे प्रेग्‍नेंसी के दौरान बार-बार यूरीन आने के बारे में डॉक्टर से बात करनी चाहिए?

अगर आपको हमेशा बाथरूम जाने की इच्‍छा होती है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करना सही रहता है। डॉक्टर आपके कुछ टेस्‍ट करके इस बात की जानकारी ले सकता है कि कहीं आपको यूटीआई (यूरिनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन) की समस्‍या तो नहीं है। इसके अलावा, अपने यूरीन के कलर पर ध्यान दें ताकि आप सुनिश्चित कर सकें कि आप पर्याप्त रूप से हाइड्रेटेड हैं या नहीं। यूरीन का कलर हल्का पीला होना चाहिए, गहरा नहीं।

निष्कर्ष

हालांकि प्रेग्‍नेंसी के दौरान बार-बार यूरीन आना सामान्य है, और ऐसी कुछ चीज़ों के बारे में आपको चिंतित नहीं होना चाहिए। लेकिन अगर आपको बहुत ज्‍यादा बार यूरीन जाने की इच्‍छा होती है तो आपको अपने डॉक्‍टर से जरूर परामर्श करना चाहिए। 

Dr. Pradnya Supe Agarwal (M.S. Obstetrics & Gynecology) को एक्‍सपर्ट सलाह के लिए विशेष धन्यवाद।

References:

https://www.whattoexpect.com/pregnancy/symptoms-and-solutions/frequent-urination.aspx