Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    क्‍या white discharge से जुड़ी इन बातों से आप भी है अनजान?

    White discharge को लेकर महिलाओं के मन कई तरह के सवाल है। आज हम आपके लिए इस बारे में सही facts लेकर आएं हैं....जिनसे आपको अपने सारे सवालों के जवाब मिल ...
    author-profile
    Published -05 Sep 2017, 11:47 ISTUpdated -03 Oct 2017, 15:52 IST
    Next
    Article
    white discharge article image

    मेरे पड़ोस में रहने वाली शीला 29 साल की है। हालांकि उसकी जिंदगी में सब कुछ ठीक चल रहा है लेकिन पिछले कुछ दिनों से उसे white discharge बहुत ज्‍यादा हो रहा है। वह जानना चाहती है कि क्या यह चिंता करने की बात है? या नॉर्मल है।

    शीला की तरह कई महिलाएं white discharge का अनुभव करती है और यह एकदम नॉर्मल है। महिलाओं को होने वाला white discharge या vaginal discharge न केवल एक शारीरिक प्रक्रिया है बल्कि बॉडी के काम करने का तरीका भी। Cervix and vagina में मौजूद दीवारें एक white substance बनाकर इन अंगों को healthy और बैक्‍टीरिया फ्री रखती हैं।

    मयूर विहार स्थित कुकरेजा हॉस्पिटल की लेडी डॉक्‍टर बकुल अरोड़ा के अनुसार ‘white discharge या vaginal discharge एक नार्मल बात है। जो शरीर में मौजूद ग्लैंड के अच्छी तरह काम करने और हार्मोन्स बनने की प्रक्रिया को दर्शाता है’। लेकिन बहुत अधिक white discharge कई बार किसी infection या बीमारी का लक्षण हो सकता है।

    जानकारी के अभाव में हम महिलाएं इस पर तब भी ध्यान नहीं देती जब हमें देना चाहिए। लेकिन जिस समस्‍या को हम लगभग daily basis पर अनुभव करती हैं, उसके बारे में तो सही जानकारी होनी ही चाहिए। इसलिए आज हम आपके लिए इस बारे में सही facts लेकर आएं हैं....जिनसे आपको अपने सारे सवालों के जवाब मिल जाएं।

    नॉर्मल प्रक्रिया है white discharge

    यह कोई बीमारी नहीं बल्कि एकदम नॉर्मल प्रक्रिया है। Vagina और cervix में मौजूद ग्लैंड्स एक fluid बनती हैं, जो डिस्चार्ज के रूप में बाहर आता है! ये डिस्चार्ज dead cells व बैक्टीरिया को बॉडी से बाहर निकालने का काम करता है, जिससे uterus व pelvis सुरक्षित रहते हैं और इसलिए इसे vaginal discharge भी कहते हैं। इस तरह ये female reproductive सिस्टम को साफ व स्वस्थ रखने में मदद करता है।

    आमतौर पर डिस्चार्ज का नॉर्मल amount में होता है। लेकिन ovulate, pregnancy, ब्रेस्टफीडिंग, sexually aroused या तनाव के कारण डिस्चार्ज का amount ज़्यादा हो जाता है, जो बिल्कुल नॉर्मल है।

    Vagina की दीवारों और ग्लैंड्स के अलावा हार्मोन्स भी vaginal discharge में एक अहम भूमिका निभाते हैं। ओव्यूलेशन के समय body में प्रोजेस्टरोन का स्तर बढ़ जाता है जिसकी वजह से vagina से भारी और लगातार डिस्चार्ज होता रहता है। Reproduction करने के लिहाज से यह एक healthy और normal प्रक्रिया है।

    आमतौर पर discharge का कलर क्लियर से लेकर मिल्की व्हाइट होता है व उसमें कोई स्मेल नहीं होती है। लेकिन ये महिला की सेहत व menstrual cycle व फ्लो पर निर्भर करता है।

    सावधानी

    अगर डिस्चार्ज का कलर ब्राउन, हरा या पिंक हो या फिर इसका texture क्लम्पी, foamy, cheesy हो या स्मेल कर रहा हो, तो आपको तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए क्योंकि

    • अगर होनेवाले डिस्चार्ज का रंग बदल गया है। जो पहले पारदर्शी सफेद पदार्थ से अब पीला, हरा या पिंक हो गया है और उससे तेज़ दुर्गंध भी आने लगी है तो तुरंत किसी डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए क्‍योंकि यह ये infection (बैक्टीरिया, यीस्ट, STD etc) का संकेत हो सकता है।
    • जब आप sexually aroused होती हैं तब discharge का amount बढ़ जाता है, जो vagina को moist रखता है व नेचुरल lubricant की तरह काम करता है।
    • अत्यधिक डिस्चार्ज के साथ अगर जलन, सनसनाहट और खुजली भी होती है तो इसका मतलब है कि आपके प्राइवेट पार्ट्स में इंफेक्शन हो गया है जिसे इलाज की ज़रूरत है।
    • Pregnancy के दौरान हल्की गंध के साथ सफेद दूधिया discharge एक नॉर्मल बात है। Pregnancy में हार्मोनल बदलावों के कारण discharge काफी अधिक होता है। भले ही आपको यह अच्छा न लगे लेकिन इसका एक अनजाना-सा फायदा भी है। जी हां, यही डिस्चार्ज आपको urinary infection से बचाता है जिनकी संभावना pregnancy के दौरान काफी बढ़ जाती है।
    • Vaginal infection से बचने के लिए personal hygiene का ख्याल रखें। खुशबूदार साबुन या बॉडी वॉश से vagina की सफाई ना करें क्‍योंकि ये vagina के अंदर का pH बैलेन्स बिगाड़ देते हैं। कॉटन की panty ही पहनें। साथ ही अपने भोजन में फल और दही शामिल करें। क्योंकि ये आपके शरीर में बनने वाले एसिड का असर कम करते हैं।

    अब तो आप समझ गई होंगी कि white discharge नॉर्मल बात है और इसलिए घबराने की कोई बात नहीं है। लेकिन अगर इसमें कोई भी बदलाव नज़र आता है, तब अपने डॉक्टर से तुरंत मिले।


    Read more: Periods लड़कियों के mood पर कैसे डालते हैं असर? जानें

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।