• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

जल्द मां बनने के लिए करें ये योग, बढ़ेंगे प्रेग्नेंसी के चांसेज

अगर तनाव के चलते आपको मां बनने में परेशानी आ रही हैं तो फर्टिलिटी बढ़ाने वाले इन योगासन को रोजाना कुछ देर जरूर करें।  
author-profile
Published -12 Jul 2022, 13:25 ISTUpdated -12 Jul 2022, 15:55 IST
Next
Article
yoga to conceive fast by expert

Verified by Himalayan Siddha, Akshar

फर्टिलिटी बढ़ाने और गर्भधारण की संभावना बढ़ाने के लिए तनाव और चिंता से दूर रहना चाहिए। योग मूड को बेहतर बनाने और भावनाओं को नियंत्रित करने का सरल तरीका है। योग के अभ्यास से ब्रेन डोपामाइन, ऑक्सीटोसिन, सेरोटोनिन और एंडोर्फिन जैसे केमिकल्‍स को छोड़ने में सक्षम बनता है। ये तनाव और चिंता को कमकरते हैं और सरलता से गर्भधारण करने में हमारी मदद करते हैं। यह आसन वैज्ञानिक अनुसंधान पर आधारित हैं जो गर्भाधान पर लाभकारी प्रभाव के लिए जाने जाते हैं। साथ ही इन योगासन की सबसे अच्‍छी बात यह है कि इसके बारे में हमें योग मास्टर, स्पिरिचुअल गुरु और लाइफस्टाइल कोच, ग्रैंड मास्टर अक्षर जी बता रहे हैं।

चक्रासन

  • इसे करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं।
  • पैरों को घुटनों पर मोड़ें और सुनिश्चित करें कि पैर फर्श पर मजबूती से टिके हुए हो। 
  • हथेलियों को आकाश की ओर रखते हुए बाहों को कोहनियों से मोड़ें। 
  • बाहों को कंधों पर घुमाएं और हथेलियों को सिर के दोनों ओर फर्श पर रखें।
  • सांस लेते हुए, हथेलियों और पैरों पर दबाव डालें और पूरे शरीर को एक आर्च बनाने के लिए ऊपर उठाएं।
  • गर्दन को आराम दें और सिर को धीरे से पीछे गिरने दें।

वज्रासन

Vajrasana for health

  • इसे करने के लिए एड़ियों के बल बैठ जाएं।
  • पैर की उंगलियों को बाहर रखें।
  • हथेलियों को घुटनों पर ऊपर की ओर रखें।
  • पीठ को सीधा करें और आगे देखें।
  • इस आसन में कुछ देर रुके।

पश्चिमोत्तानासन

  • इसे दंडासन से शुरू करें।
  • सुनिश्चित करें कि घुटने थोड़े मुड़े हुए हो। 
  • बांहों को ऊपर की ओर फैलाएं और रीढ़ को सीधा रखें।
  • सांस छोड़ें और पेट की हवा को खाली करें।
  • सांस छोड़ते हुए, कूल्हे पर आगे की ओर झुकें और ऊपरी शरीर को निचले शरीर पर रखें।
  • बाहों को नीचे करें और पैर की उंगलियों को पकड़ें।
  • घुटनों को नाक से छूने की कोशिश करें। 
  • आसन में कुछ देर रुकें।

बद्ध कोणासन

Baddha Konasana

  • इस योग की शुरुआत दंडासन से करें।
  • पैरों को मोड़ें और तलवों को एक साथ लाएं।
  • एड़ी को पेल्विक के करीब खींचे।
  • धीरे से घुटनों को नीचे करें।
  • पेट से खाली हवा खाली करें। 
  • ऊपरी शरीर को आगे की ओर झुकाएं और माथे को फर्श पर रखें।

धनुरासन

  • इस योग की पेट के बल लेटकर शुरुआत करें।
  • घुटनों को मोड़ें और टखनों को हाथों से पकड़ें।
  • पैरों और बांहों को जितना हो सके ऊपर उठाएं।
  • ऊपर की ओर देखें और कुछ देर के लिए इस आसन में बनी रहें। 
 

Recommended Video

इन योगासनों के साथ सांस लेने की तकनीक जैसे ब्रह्मरी प्राणायाम और कपालभाति प्राणायाम तकनीक का भी अभ्यास कर सकती हैं। ब्रह्मरी प्राणायाम सांस लेने की एक ऐसी विधि है जहां सांस छोड़ते हुए मधुमक्खी के जैसे शोर किया जाता है। साथ ही कपालभाती को धौंकनी के रूप में भी जाना जाता है, यह बलपूर्वक सांस छोड़ने की प्रक्रिया है जो स्वचालित सांस के साथ अंतः स्थापित होती है। योनि मुद्रा और प्राण मुद्रा जैसी कुछ मुद्राओं का भी अभ्यास कर सकती हैं।

आप भी इन योगासन को करके अपनी फर्टिलिटी के चांसेज को बढ़ा सकती हैं। योग से जुड़ी ऐसी ही जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Image Credit: Shutterstock

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।