जब भी बात बेली फैट की आती है, तो अक्सर हम इसे कम करने का कोई आसान तरीका खोजते हैं। पेट का फैट कम करना बहुत मुश्किल होता है और इसके लिए कई लोग घंटों जिम में पसीना बहाते हैं। पर अगर बात हाउसवाइफ्स की आए तो उनके पास इतना समय नहीं होता कि वो बेली फैट के लिए इतना कुछ कर लें। अगर आप भी उनमें से एक हैं जिनके पास एक्सरसाइज के लिए समय नहीं है तो क्यों न ऐसा तरीका अपनाया जाए जिससे कुछ ही समय में बेली फैट के साथ-साथ हिप्स और थाई फैट पर भी असर पड़े।

वैसे तो अक्सर कोर एक्सरसाइज की बात करते हुए स्क्वैट्स, लंजेस, प्लैंक आदि के बारे में बताया जा रहा है, लेकिन हम आपको बताते हैं कुछ ऐसी एक्सरसाइज जिससे बेली फैट पर तो असर पड़ेगा ही साथ ही लोअर बॉडी की फुल टोनिंग भी होगी। इस एक्सरसाइज को करने में शुरुआत में शायद आपको थोड़ी मेहनत लगे, लेकिन कुछ ही दिनों में ये बहुत अच्छा असर दिखाने लगेगा।

जिस एक्सरसाइज के बारे में हम बात करने जा रहे हैं वो है 'Bird-Dog Crunch' जिसे कई लोग सिंगल लेग-हैंड रेज़ भी कहते हैं। अब हो सकता है कि इसकी तस्वीर देखकर आपको लगे कि ये बहुत मुश्किल है, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। एक बार अगर आप इसकी आदत डाल लें तो ये एक्सरसाइज बहुत ही अच्छी हो सकती है।

इसे जरूर पढ़ें- 7 Minute Exercise Routine: हाथों और पेट के लटकते हुए फैट से हैं परेशान, तो ये फिटनेस रूटीन आएगा आपके काम

क्या है सबसे बड़ा फायदा?

बर्ड-डॉग क्रंच एक्सरासइज का सबसे बड़ा फायदा ये है कि इसमें सभी कोर मसल्स को एक साथ काम करने के लिए ट्रेन किया जाता है।

belly fat exercise bird dog

किन मसल्स पर करती है बर्ड-डॉग एक्सरसाइज काम?

कोर मसल्स- लोअर बेली और थाई की मसल्स पर ये एक्सरसाइज काम करती है। 6 पैक एब्स वर्कआउट के साथ-साथ ये स्पाइनल कॉर्ड के लिए भी लाभकारी है। 

ग्लूट्स- Glutes मसल्स पर भी ये एक्सरसाइज काम करती है। हिप्स और हिप एक्सटेंशन पर भी इस एक्सरसाइज का असर होता है।

शोल्डर- कंधों से जुड़े मसल्स पर भी ये एक्सरसाइज काम करती है।

क्योंकि इसमें हम हाथ और पैर साथ में चला रहे होते हैं इसलिए ये एक्सरसाइज हमारे शरीर के कई हिस्सों पर एक साथ काम कर रही होती है। इससे पॉश्चर सही होता है। साथ ही साथ, बेली फैट भी कम होता है और कंधों के आस-पास जमा फैट में भी कमी आती है। अगर आपके हिप्स और थाई में ज्यादा समस्या है तो उसे भी ये एक्सरसाइज ठीक करती है।

Recommended Video

कैसे करनी है ये एक्सरसाइज-

1. सबसे पहले आपको घुटनों और हाथों के पंजों के बल जमीन पर बैलेंस होना है। इसे एनिमल पोज़ कहा जाता है। ये वैसे ही बनाना है जैसे घुटनों के बल चलने के लिए पोज़ बनाया जाता है।

2. आपके घुटने हिप्स से 90 डिग्री एंगल में होने चाहिए और हाथों के पंजे कंधों से 90 डिग्री एंगल में होने चाहिए। पीठ को सीधा रखना है।

3. अब अपने राइट हैंड को आगे बढ़ाएं और उसी के साथ अपने लेफ्ट पैर को पीछे की ओर ले जाएं।

4. इस पोजीशन में 5 सेकंड तक रहने की कोशिश करें। इसके बाद हाथ और पैर दोनों वापस ले आएं और अब लेफ्ट हैंड और राइट पैर के साथ ऐसा ही करें।

5. इस एक्सरसाइज को आप पहले 1 -1 मिनट दोनों साइड से करने की कोशिश करें। अगर बिलकुल बैलेंस नहीं बना पा रही हैं तो इसे 30-30 सेंकड के लिए करें।

धीरे-धीरे इस एक्सरसाइज की ड्यूरेशन बढ़ाएं। आप चाहें तो इसे थोड़ा और कठिन बनाने के लिए अपने घुटने और कोहनी को टच भी कर सकते हैं। यानि राइट पैर और लेफ्ट हैंड की कोहनी को टच करें और फिर पैर और हाथ पहले वाली पोजीशन में ले जाएं।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by jessredden (@jessredden1) onMar 22, 2020 at 1:58am PDT



इसे जरूर पढ़ें- मोज़ों की मदद से करें फुल बॉडी एक्सरसाइज, यास्मीन कराचीवाला ने शेयर की टिप्स

अगर एक बार में नहीं कर पा रही हैं ये एक्सरसाइज-

कई बार ऐसा होता है कि हमारे मसल्स बहुत ज्यादा स्टिफ होते हैं। कोई डेली रूटीन एक्सरसाइज न करने के कारण हमारी बॉडी सही से काम नहीं करती है। ऐसे में आप इस एक्सरसाइज को थोड़ा आसान बना सकती हैं। इसे करते समय पहले हाथ उठाएं फिर पैर। दोनों एक साथ न उठाएं। जब इसकी प्रैक्टिस हो जाए तब एक साथ हाथ और पैर उठाएं।

क्योंकि इस एक्सरसाइज के लिए किसी भी तरह के इक्विपमेंट या मशीन की जरूरत नहीं होती है इसलिए ये किफायती भी है। आप इस एक्सरसाइज को जरूर करें और अपना एक्सपीरियंस हमसे हरजिंदगी के फेसबुक पेज पर शेयर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

All Image Credit: Freepik