एक तरफ आजकल लॉकडाउन में कई लोगों का सहारा इंटरनेट बना हुआ है तो दूसरी तरफ हैकिंग से जुड़े मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं। आजकल हैकर्स उन यूज़र्स पर हमला कर रहे हैं जो इस समय इंटरनेट का सबसे अधिक उपयोग कर रहे हैं। कभी किसी का डाटा चोरी, कभी अकाउंट हैक तो कभी बैंक का पासवर्ड और पिन चोरी हो जाता है।

ऐसे में यह सवाल उठता है कि इंटरनेट पर अपने आपको और सोशल मीडिया एकाउंट्स को कैसे हैकर्स से सुरक्षित रखा जाएं। तो आज हम आपके इसी सवाल के उत्तर में कुछ इंटरनेट सेफ्टी पॉइंट्स बताने जा रहे हैं जिसका ध्यान आप रखेंगे तो कभी भी इन दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

1-ऑपरेटिंग सिस्टम

Stay Safe While Using Internet

सबसे पहले तो आप लैपटॉप और कंप्यूटर में से ऐसे ऑपरेटिंग सिस्टम को हटा दें जो किसी काम का नहीं है। अपने सिस्टम में सिर्फ वही सॉफ्टवेयर रखें जो लैपटॉप या कंप्यूटर खरीदते समय आपको मिला है। कभी-कभी क्या होता है कि सिस्टम में जो अतिरिक्त सॉफ्टवेयर डालते हैं वो पाइरेटेड कॉपी होता है जो मुसीबत में डाल सकता है। जितना हो सके उतना ओरिजनल ऑपरेटिंग सॉफ्टवेयर ही सिस्टम में रखें।

इसे भी पढ़ें: इंटरनेट पर बच्चे की एक्टिविटी को ट्रैक करने के लिए यूज करें यह ऐप और बन जाएं स्मार्ट मॉम

2-ऐड और ब्राउजिंग कुकीज़ को करें ब्लॉक 

internet security inside

अगर सिस्टम की डाटा को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको ब्राउजिंग कुकीज़ को ब्लॉक करना चाहिए। अगर आपने कभी ध्यान दिया होगा तो जैसे ही आप किसी साइट को खोलते हैं तो ढेरों सारी ऐड उस पेज पर दिखाई देने लगती है, ये ऐड और कुकीज़ अन्य साइट्स को आपकी जानकारी दे सकते हैं, इससे आपकी प्राइवेसी कभी भी खतरे में पड़ सकती है। (सोशल मिडिया परअपने रिलेशन को सिक्योर)

3-पब्लिक वाई-फाई को बोले नो 

Stay Safe While Using Internet inside

अमूमन देखने में आता है कि लोगों को पब्लिक वाई-वाई नेटवर्क्स मिले नहीं कि अपना सिस्टम कनेक्ट कर लेते हैं। बल्कि ऐसा करने से बचना चाहिए। अगर आप ये गलती करते हैं तो आप कभी भी सिस्टम हैकिंग के शिकार हो सकते हैं क्यूंकि ये ओपन नेटवर्क वाई-फाई होता है। (ऐसे करे वॉट्सएप अकाउंट प्रोटेक्ट)  

Recommended Video

  

4-डिलीट करें ब्राउजिंग हिस्ट्री 

stay safe in internet security inside

आप जब भी किसी अन्य सिस्टम या मोबाइल में लॉग-इन करें तो इस्तेमाल करने के बाद हमेशा ब्राउजिंग हिस्ट्री को डिलीट कर दें। यह देखने में आता है कि लोग ऐसा नहीं करते और बाद में मालूम चलता है कि उनकी निजी जानकारी चोरी हो गई है या फिर लिक हो गई है। तो अगली बार आप कोई अन्य सिस्टम इस्तेमाल करें तो ब्राउजिंग हिस्ट्री ज़रूर डिलीट करें। (महिलाओं की सोशल मीडिया पोस्ट रही सबसे चर्चित)

5-ध्यान रखें यूआरएल का 

stay safe in internet security inside

जब भी आप किसी वेबसाइट को खोलते हैं तो आपको उस पेज की यूआरएल पर ज़रूर ध्यान देना चाहिए। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक सुरक्षित साइट्स पेज के यूआरएल की शुरुआत हमेशा https से होती है। आपको जिस वेबसाइट की शुरुआत https से नहीं दिखाई दे तो उस पेज को खोलने से बचना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: बच्चों की इंटरनेट सर्फिंग को इस तरह बनाएं सुरक्षित


6-मेल या मैसेजेस को करें इग्नोर 

आपने देखा होगा कि हमेशा अनावश्यक मेल और मैसेजेस आते रहते हैं कि इस मेल या मैसेजेस का रिप्लाई दीजिये और जीतिए एक लाख, दो लाख रुपए, या फिर लोन या लॉटरी जीतने के लिए यहां क्लिक करें। ऐसे मेल या मैसेजेस को हमेशा इग्नोर करना चाहिए। साथ ही पासवर्ड पर भी आपको ध्यान देना चाहिए। पासवर्ड में कैपिटल लेटर, स्मॉल लेटर के साथ स्पेशल कैरेक्टर और नंबर को ज़रूर शामिल करना चाहिए।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें, और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit:(@komando.com,akm-img-a-in.tosshub.com)