अगर आप खुद को स्वस्थ बनाए रखना चाहती हैं और कई तरह की बीमारियों से खुद को सुरक्षित रखना चाहती हैं तो आपको कोकम का सेवन आज से ही शुरू कर देना चाहिए। यह फल बदलते हुए मौसम में खाने पर विशेष रूप से शरीर के लिए उपयोगी साबित होता है। कोकुम ज्यादातर भारत के पश्चिमी घाट में पाया जाता है। यह गुजरात, महाराष्ट्र और दक्षिण भारत के तटीय इलाकों में बनने वाले फूड आइटम्स में खास तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। कोकुम मीठा नहीं होता है। इसका स्वाद नमकीन और क्रेनबेरी जैसा होता है और इसमें कई हेल्थ बेनिफिट्स होते हैं। कोकम कच्चा खाया जा सकता है और इसका जूस भी बनाकर पिया जा सकता है। सुखाए गए कोकम का फूड आइटम्स में इस्तेमाल भी किया जाता है। कोकम को मसाले और औषधि, दोनों ही तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे कैंसर की रोकथाम करने में मदद मिलती है और यह दिमाग को भी स्वस्थ रखता है। खाने के साथ यह शरबत में भी इस्तेमाल किया जाता है। आइए जानते हैं कि यह किस तरह से शरीर के लिए फायदेमंद है-

एंटीफंगल और एंटीऑक्सिडेंट गुण

health benefits of kokum better for heart

कोकम का सेवन करने से इनफेक्शंस को रोकने में मदद मिलती है। इसमें एंटीफंगल और एंटीऑक्सिडेंट गुण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। यह फल फूड आइटम्स को लंबे समय तक सुरक्षित भी बनाकर रखता है, इसलिए इसका इस्तेमाल प्रिजर्वेटिव के तौर पर भी किया जाता है।

इसे जरूर पढ़ें: आंखों की रोशनी और बालों की चमक बढ़ाने के साथ इन 5 समस्याओं का रामबाण इलाज है गाय का पुराना घी

पौष्टिकता से भरपूर

कोकम में एसेंशियल न्यूट्रिएंट्स और विटामिन्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यह मेलिक एसिड, सिट्रिक एसिड और कार्बोहाइड्रेट्स का खजाना है। इसमें विटामिन बी, एस्कोरबिक एसिड, मैंगनीज, पोटैशियम, डाइटरी फाइबर और गार्सिनोल जैसे तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर को सेहतमंद बनाए रखने में मदद करते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: नीम का पानी है रामबाण, रोजाना पीने से दूर होती हैं ये 6 बीमारियां

प्रेग्नेंसी में फायदेमंद

health benefits of kokum in pregnancy

प्रेगनेंसी के दौरान इस फल का सेवन फायदेमंद है। कोकम का सेवन करने से nausea और vomiting आदि में राहत मिलती है और महिलाएं ऊर्जा से भरपूर महसूस करती हैं। 

डाइजेशन के लिए बेहतरीन

कोकम उन लोगों के लिए काफी फायदेमंद है, जिनकी पाचन शक्ति कमजोर है। यह शरीर की डाइजेशन की प्रक्रिया को बेहतर बनाता है। साथ ही जिन महिलाओं को कब्ज या डिसेंट्री जैसी समस्या रहती है, उन्हें भी इसके सेवन से फायदा मिलता है। 

Recommended Video

कोकम के सेवन से पाएं यंग लुक

कोकम खाने से त्वचा को लंबे समय तक यंग बनाए रखने मैं मदद मिलती है। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट्स त्वचा के साथ बालों का टेक्सचर बेहतर बनाए रखने में मदद करते हैं। इससे डैमेज होने वाले सेल्स को रिपेयर करने में मदद मिलती है, जिससे बाल और त्वचा, दोनों बेहतर नजर आते हैं।

वेट लॉस में भी फायदेमंद

health benefits of kokum weight loss

कोकम से वजन काबू में रखने में मदद मिलती है। इसमें पाया जाने वाला  Hydroxy-citric acid लंबे समय तक पेट भरे होने का अहसास देता है, जिससे कैलोरी इनटेक को घटाने में मदद मिलती है। कोकम से शरीर के एक्स्ट्रा फैट को बर्न करने में भी मदद मिलती है। यह मेटाबॉलिजम्स को भी बेहतर बनाता है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से आसानी से वेट लॉस किया जा सकता है।

आयुर्वेदिक औषधि

कोकम को रूमेटाइड अर्थराइटिस के दर्द में राहत देने के लिहाज से भी असरदार माना जाता है। जिन महिलाओं को फ्रेश होने में परेशानी होती है, उनके लिए भी यह आयुर्वेद में लाभदायक माना गया है। इसके अलावा इसे कान के इन्फेक्शन, पीरियड्स में देरी, आंखों से जुड़ी समस्या और इन्फ्लेमेटरी समस्याओं के लिए अच्छी आयुर्वेदिक औषधि माना जाता है।

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखता है कोकम

कोकम में सैच्युरेटेड फैट नहीं होते हैं और यह लो कैलोरी होता है, इसीलिए इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल पर काबू रखने मैं मदद मिलती है। यह दिल के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है। 

कूलिंग प्रॉपर्टीज

कोकम में शरीर को कुदरती तौर पर ठंडा रखने वाले गुण भी पाए जाते हैं। यह शरीर को तरोताजा करने के साथ एनर्जी भी देता है। इससे डिहाइड्रेशन और स्ट्रोक से बचाव करने में भी मदद मिलती है।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

जानी मानी डाइटीशियन शिखा महाजन का कहना है, 

कोकम पौष्टिक तत्वों से भरपूर है। यह डाइजेशन के लिए अच्छा है। यह एक miracle फूड है। इसमें anti-inflammatory, anti-bacterial और anti-fungul गुण पाए जाते हैं। यह त्वचा को लंबे समय तक यंग बनाए रखने में मदद करता है, साथ ही यह वजन और कोलेस्ट्रॉल को भी काबू में रखता है। यह फल piles, dysentery, flatulence, शरीर में दर्द और दिल की समस्याओं में भी लाभदायक है। इसका सेवन शर्बत के तौर पर भी किया जाता है। हालांकि जिन्हें स्किन इरिटेशन होती है, उन्हें कोकम बटर से परहेज करना चाहिए खासतौर पर गर्मियों में, क्योंकि इससे उनकी समस्या बढ़ सकती है। 
Image Courtesy: shathayu, pexels, /img3.goodfon.com, sanat, amazon