अक्सर हम देखते हैं कि सिंपल खाना हमारी हेल्थ के लिए सबसे अच्छा होता है, और यह बात नट्स विशेष रूप से अखरोट के मामले में भी सच साबित होती है। नई रिसर्च से भी इस बात का पता चला है कि 1 अखरोट रोजाना खाना हार्ट डिजीज से बचाने के लिए काफी है। साथ ही नट्स या नट्स ऑयल खाने के सिर्फ चार घंटे बाद, डॉक्टरों ने कोलेस्ट्रॉल के लेवल और ब्लड वेसेल्स में फ्लेक्सिबिलिटी में एक बड़ा सुधार देखा। इसके अलावा, रेगलुर इसे खाने से आपको हेल्थ के प्रति स्थायी सुरक्षा मिलती है।

क्या कहती है रिसर्च

यह रिसर्च अपने प्रकार की पहली है, जिसमें अखरोट के सटीक हिस्से की पहचान की गई जो सबसे शक्तिशाली हेल्थ बेनिफिट्स देती है। 3 चम्मच अखरोट का तेल या 51 मिलीलीटर लेने से 4 घंटे के भीतर आपके ब्लड वेसेल्स में सुधार होता है। पेन स्टेट यूनिवर्सिटी में पोषण के प्रोफेसर डॉक्टलर पेनी क्रिस एटरटन ने कहा, ''केवल 1 हफ्ते में सिर्फ 4 दिनों के लिए अखरोट या अखरोट के तेल का सेवन करके आप दिल की बीमारी के खतरे को कम कर सकती हैं।" आइए रोजाना अखरोट खाने के ऐसे ही कुछ चमत्काररी फायदों के बारे में जानते हैं।

Read more: एंटी-एजिंग क्रीम के लिए 1000 रुपये को खर्चाना जब घर में कर सकती हैं 50 रुपये में तैयार

यूनिक और पॉवरफूल एंटीऑक्सीडेंट्स

एंटीऑक्सीडेंट आपकी हेल्थ के लिए बेहद जरूरी हैं, क्योंकि यह माना जाता है कि ये फ्री रेडिकल्स का मुकाबला कर एजिंग प्रोसेस को कम करता है। अखरोट में कई यूनिक और पॉवरफूल एंटीऑक्सीडेंट होते हैं।

walnut for healthy life inside

लंबे और हेल्दी जीवन का वरदान

हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि हफ्ते में तीन बार अखरोट खाने से आप लंबा और हेल्दी जीवन जी सकती हैं। अखरोट के बहुत सारे हेल्थ बेनिफिट्स है, जिसमें कैंसर, कार्डियोवैस्कुलर डिजीज और मौत के कारण बनने वाली गंभीर बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

ब्रेन के लिए अखरोट

अखरोट आपके ब्रेन हेल्थ के लिए भी बहुत अच्छा होता है। जी हां बॉडी में ओमेगा-3 फैटी एसिड के कम होने से आपको डिप्रेशन घेरने लगता है और संज्ञानात्मक कार्य में गिरावट आने लगती है। और इस बात को ध्यान में रखते हुए कि अखरोट एएलए (ओमेगा 3) से भरपूर होता है, इसमें कोई संदेह नहीं है कि अखरोट ब्रेन हेल्थ को बढ़ावा देता है।

walnut for healthy life inside

बालों के लिए फायदेमंद

अखरोट बालों के लिए भी बहुत अच्छा फूड है। ऐसा इसलिए क्योंकि अखरोट में बायोटीन (विटामिन बी 7) होता है जो बालों को मजबूत, झड़ने से रोकने और कुछ हद तक बालों के विकास में सुधार करने में हेल्प करता है।

डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए अच्छा

हमें अपने आंतों को सही तरीके से काम करने के लिए फाइबर की जरूरत होती है। आमतौर पर प्रोटीन के सामान्य स्रोत, जैसे मीट और डेयरी उत्पादों में फाइबर की कमी होती है। रेगुलर अखरोट खाने से आपका डाइजेशन मजबूत होता है और आपके आंतों को ठीक तरह से काम करने में हेल्प मिलती है।

एजिंग होती है स्लो

अखरोट में मौजूद विटामिन बी के कारण यह आपकी स्किन के लिए बहुत अच्छा होता है। विटामिन बी तनाव को दूर करने में बहुत मददगार होता है। तनाव कम होने से आपकी स्किन अच्छी रहती है और एजिंग प्रोसेस स्लो होता है। अखरोट में बी-विटामिन के अलावा विटामिन ई, एक नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट, तनाव के कारण होने वाले फ्री रेडिकल्स से लड़ने में हेल्प करता है।

healthy ageing walnuts

डायबिटीज के जोखिम को करता है कम

हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के शोधकर्ताओं का कहना हैं कि जिन महिलाओं ने हर हफ्ते कम से कम पांच बार 30 ग्राम नट्स खाएं, उनमें नट्स ना खाने वाली या बहुत कभी-कभी नट्स खाने वाली महिलाओं की तुलना में टाइप 2 डायबिटीज का जोखिम लगभग 30 प्रतिशत कम पाया गया। नट्स में मोनो और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट इंसुलिन संवेदनशीलता के लिए अच्छे होते हैं।

Read more: ये '2 चीजें' जवानी में खाएं और बुढ़ापे में फायदा पाएं

गर्भवती महिलाओं और बोन हेल्‍थ के लिए अच्छा

शोधकर्ताओं का कहना हैं कि अखरोट में पाए जाने वाले फैटी एसिड गर्भवती महिला के होने वाले बच्चे में फूड एलर्जी विकसित होने की संभावना को कम करता है। सााथ ही अखरोट में ईएफए बोन हेल्थ के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। जी हां यह कैल्शियम अवशोषण और जमावट को बढ़ावा देता है, और यूरीन में कैल्शियम विसर्जन को कम करता हैं।

walnut for healthy life inside

इसमें अलावा अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में होता है जो सूजन को कम करने में हेल्प करता है। इसके अलावा इसमें हेल्दी अनसेचुरेटेड फैट होता है। अगर आप मछली नहीं खाती हैं तो इसे अपनी डाइट में शामिल करें। साथ ही इसमें मौजूद मैग्नींज पीएमएस के लक्षणों को कम करता है। तो देर किस बात कि आप भी अपनी डाइट में अखरोट को शामिल करें और अगर आप रोजाना अखरोट नहीं खाना चाहती हैं तो हफ्ते में 3 बार इसे खाने से भी आपको भरपूर फायदे मिल सकते है।

  • Pooja Sinha
  • Her Zindagi Editorial