सर्दियों के मौसम में शरीर को सेहतमंद बनाए रखने के लिए ड्राई फ्रूट्स का इस्तेमाल भरपूर मात्रा में करना आवश्यक होता है। ऐसे ही ड्राई फ्रूट्स में से एक है सूखा आलू बुखारा। सूखे आलू बुखारा को पोषक तत्वों का पावरहाउस माना जाता है और उन्हें अपने दैनिक आहार में शामिल करना आपको कई तरह के स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकता है। इसके स्वास्थ्य सम्बन्धी लाभ हैं -

  • आंखों की दृष्टि तेज करे 
  • एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर 
  • ह्रदय को स्वस्थ रखे 
  • कब्ज से राहत दिलाए
  • ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव करे 

आंखों की दृष्टि तेज करे

eye sight 

आलू बुखारा विटामिन ए का एक बड़ा स्रोत है और विटामिन ए एक विटामिन जो स्वस्थ दृष्टि के लिए आवश्यक है। जिन लोगों में विटामिन ए की कमी होती है उन्हें रतौंधी, शुष्क आंखें, धब्बेदार अध:पतन और मोतियाबिंद होने का खतरा होता है। इसलिए आंखों की दृष्टि तेज करने के लिए अपनी डाइट में आलू बुखारा को जरूर शामिल करें। 

इसे जरूर पढ़ें: तो इसलिए भारतीयों के खान-पान में जरूरी विटामिन्‍स की रहती है कमी, आप रहें सावधान

एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर

pruins benefits 

सूखा आलू बुखारा ड्राई फ्रूट्स की तरह काम करता है। इसमें मैंगनीज, आयरन (आयरन की कमी से होने वाली बीमारियां) और फेनोलिक्स जैसे तत्व होते हैं जो एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं और कोशिका झिल्ली को मुक्त कट्टरपंथी क्षति से बचाने में मदद करते हैं। सर्दियों में सूखे आलू बुखारा की अपनी नियमित की डाइट में शामिल करना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। 

ह्रदय को स्वस्थ रखे 

healthy heart

आलू बुखारा में पोटेशियम की उच्च मात्रा होती है। इसमें महत्वपूर्ण खनिज तत्व मौजूद होते हैं जो पूरे शरीर में दिल और तंत्रिका प्रतिक्रिया के समुचित कार्य को सुनिश्चित करते हैं। पोटेशियम के दैनिक सेवन से रक्तचाप कम होता है और चक्कर आना, हृदय रोग, दिल का दौरा और स्ट्रोक जैसी समस्याओं का खतरा कम होता है। आपको आपने हृदय को स्वस्थ रखने के लिए किसी को भी आलू बुखारा के स्वास्थ्य लाभों की अनदेखी नहीं करनी चाहिए।

Recommended Video

कब्ज से राहत दिलाए

constipation relief 

आलू बुखारा एक साथ एक लोकप्रिय पाचन उपाय के रूप में वर्षों से जाना जाता है। जब भी कब्ज या पाचन प्रक्रिया की बात आती है तब आलू बुखारा का सेवन अत्यंत लाभकारी साबित होता है। आलू बुखारा भोजन को ठीक से पचाने, कब्ज से राहत दिलाने और मल त्याग करने की प्रक्रिया में मुख्य भूमिका निभाता है। आलू बुखारा में भरपूर मात्रा में फाइबर और सोर्बिटोल जैसे तत्व पाए जाते हैं इसलिए या पाचन प्रक्रिया को सुचारु रूप से चलाने में सहायक है। 

ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव करे

osteoporosis relief 

आलू बुखरा की 100 ग्राम की मात्रा दैनिक आवश्यकता को पूरा करती है और इसमें मौजूद पोटेशियम हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं । एक रिसर्च के अनुसार आलू बुखारा महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या को कम करने में सहायक होता है। यह हड्डियों की सूजन को कम करता है इसलिए इसका इस्तेमाल गठिया रोग से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है। 

इसे जरूर पढ़ें: सर्दियों के लिए रामबाण है रागी, डाइट में जरूर करें शामिल

आलू बुखारा का सेवन करना पूरी तरह से स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है, लेकिनं यदि आपको स्वास्थ्य संबंधी कोई अन्य समस्याएं हैं तो इसके सेवन से पहले विशेषज्ञ या चिकित्सक की सलाह अवश्य ले लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik