Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    जानिए गुजरात के सोमनाथ मंदिर से जुड़े कुछ अमेजिंग फैक्ट्स

    सोमनाथ मंदिर से जुड़े ऐसे कई फैक्ट्स हैं, जिसके बारे में लोग कम ही जानते हैं। 
    author-profile
    • Mitali Jain
    • Editorial
    Updated at - 2022-12-22,19:27 IST
    Next
    Article
    somnath temple facts in hindi

    शिव के 12 ज्योतिर्लिंग मंदिरों में से एक सोमनाथ मंदिर एक बेहद ही पवित्र और महत्वपूर्ण मंदिर माना जाता है। यह मंदिर वास्तुकला में भी बेहद विशिष्ट है। देवी-देवताओं की मूर्तिंयों के साथ-साथ मंदिर में की कई बेहतरीन नक्काशी यकीनन देखने लायक है। यह एक ऐसा मंदिर हैं, जिसे देखने के लिए लोग दूर-दूर से यहां पर आते हैं।

    कहा जाता है कि इस पौराणिक मंदिर को इतिहास में कई बार तोड़ा गया था, लेकिन हर बार इस मंदिर का पुनर्निर्माण किया गया। यह एक ऐसा मंदिर है, जो स्वयं में ना केवल एक समृद्ध इतिहास समेटे हुए है, बल्कि इससे जुड़े ऐसे कई तथ्य हैं, जो बेहद ही रोचक हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको सोमनाथ मंदिर से जुड़े कुछ अमेजिंग फैक्ट्स के बारे में बता रहे हैं-

    चन्द्र देव से है गहरा नाता

    Somnath Temple Amazing Facts

    यह एक बेहद ही प्राचीन मंदिर है, जिसका कनेक्शन चन्द्र देव से भी है। किंवदंती है कि मंदिर की प्रारंभिक संरचना सबसे पहले चंद्रमा भगवान द्वारा बनाई गई थी जिन्होंने सोने से मंदिर का निर्माण किया था। सूर्य देव ने इसके निर्माण में चांदी का प्रयोग किया था, जबकि भगवान कृष्ण ने इसे बनाने में चंदन की लकड़ी का योगदान किया था।

    इस स्थान से संबंधित चंद्रमा के देवता सोम के बारे में एक पौराणिक कथा है। कहा जाता है कि चंद्रमा के देवता सोम को किसी ने श्राप दिया था। उसके कारण चंद्रमा के देवता ने अपना तेज खो दिया। जिसके बाद उन्हें बताया गया कि यदि वे सरस्वती नदी में स्नान करेंगे, तो उन्हें अपनी चमक वापस मिल जाएगी। फिर, उन्होंने सरस्वती नदी में स्नान किया और अपनी चमक को पुनः प्राप्त किया। 

    बेहद प्राचीन है यह मंदिर

    facts about somnath temple

    आपको जानकर शायद हैरानी हो, लेकिन यह मंदिर इतना पुराना है, जिसके बारे में शायद आप सोच भी नहीं सकते हैं। स्वामी गजानंद सरस्वती के अनुसार, पहला मंदिर 7,99,25,105 साल पहले बनाया गया था। इतना ही नहीं, इस मंदिर पर कई बार आक्रमण हुआ और इसे नष्ट करने का प्रयास किया गया।

    इस मंदिर को 15 से अधिक बार विनाश का सामना करना पड़ा। यह मंदिर 1024 में महमूद गजनी, 1296 में खिलजी की सेना, 1375 में मुजफ्फर शाह, 1451 में महमूद बेगड़ा और 1665 में औरंगजेब के हाथों नष्ट हो गया था। लेकिन फिर भी हर बार इस मंदिर का पुनः निर्माण करवाया गया।(द्वारकाधीश मंदिर से जुड़े रोचक तथ्य)

    इसे भी पढ़ें-कानपुर का ये अनोखा मंदिर हर साल बताता है मानसून का हाल, जानें इसके बारे में

    मंदिर में स्थित है बेहद खास मणि

    Amazing Facts of somnath temple

    ऐसा कहा जाता है कि प्रसिद्ध स्यमंतक मणि शिवलिंग के खोखलेपन के भीतर सोमनाथ मंदिर में सुरक्षित रूप से छिपा हुआ है। और यह भगवान कृष्ण से जुड़ा है। कहा जाता है कि इस पत्थर में सोना पैदा करने की क्षमता है और इसमें कीमिया और रेडियोधर्मी गुण हैं, जो इसके जमीन के ऊपर तैरने का कारण है।

    यह भी माना जाता है कि भगवान कृष्ण ने इस मंदिर में अपनी लीला समाप्त की और स्वर्ग चले गए।(कितना जानते हैं मीनाक्षी अम्मन मंदिर के बारे में?)

    बदल जाएगा मंदिर का नाम

    some interesting facts about somnath temple

    स्कंद पुराण के अनुसार, हर बार जब दुनिया का पुनर्निर्माण होगा तो सोमनाथ मंदिर का नाम बदल जाएगा। ऐसा माना जाता है कि जब भगवान ब्रह्मा हाल ही में समाप्त होने के बाद एक नई दुनिया का निर्माण करेंगे, तो सोमनाथ को प्राण नाथ मंदिर का नाम प्राप्त होगा।  

    इसे भी पढ़ें-श्री विरुपाक्ष शिव मंदिर: भारत के सबसे प्राचीन और विशाल मंदिरों में से एक

    तो आपको सोमनाथ मंदिर से जुड़ी ये रोचक जानकारी कैसी लगी? हमें अवश्य बताइएगा। साथ ही, इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय भी आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

    अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

    Image Credit- gujarattourism

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।