• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

कहीं आप भी गलत ढंग से तो नहीं धो रही हैं दालें?

दाल को कैसे धोना चाहिए, कितनी बार धोना चाहिए और बनाने से पहले क्यों भिगोना चाहिए, ये बातें जानना आपके लिए बहुत जरूरी है। 
author-profile
Published -27 Jul 2022, 12:01 ISTUpdated -27 Jul 2022, 12:01 IST
Next
Article
how to wash pulses at home

दाल हमारे खाने को पूरा करती हैं और हमारे शरीर को भरपूर पोषण देती हैं, इसलिए इन्हें आहार में शामिल करने की सलाह दी जाती है। हर कोई अपने हिसाब से दाल बनाता है, लेकिन क्या आपको पता है कि उन्हें धोने, भिगोने और बनाने का अपना अलग तरीका है। कई सारी महिलाएं कुछ दालों को बहुत ज्यादा धोए बिना ही बना लेती हैं।

आज हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे कि आपको सही ढंग से दाल कैसे धोनी चाहिए। इसी के साथ आपको उन्हें बनाने से पहले कितनी देर पहले भिगोना है, यह भी बताएंगे। चलिए जान लें दालों को ठीक से धोने का तरीका क्या है?

दालों को साफ करने का तरीका

अगर आपकी दालें पैकेट में बंद हैं और उनमें कीड़े लग रहे हैं, तो उन्हें कुछ देर के लिए तेज धूप में रख दें। इससे कीड़े मर जाएंगे और आप उन्हें साफ करके धोकर उपयोग कर सकती हैं। आप दाल के पैकेट को 24-48 घंटे के लिए फ्रिज में रख सकते हैं। इससे भी कीड़े मर जाते हैं, जिन्हें दाल से निकालना आपके लिए आसान होगा। 

इसे भी पढ़ें : चावल के कीड़े और कंकड़ निकालने का आसान तरीका

how to clean and wash pulses at home

पीली दालों को धोने का तरीका

पीली दालें वो होती हैं, जिन्हें बनाना बहुत ज्यादा मुश्किल नहीं है। इन्हें अगर आप पानी में न भिगोएं तो यह जल्दी बन जाती हैं। अब दालों के प्रोसेस होने का तरीका लगभग एक ही होता है। अरहर, लाल मसूर, पीले दले चने जैसी दालों को धोना भी बहुत आसान है। पीली दालों को धोने के लिए आपको ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं होती। 

  • अरहर, मसूर जैसी दालों से पहले कंकड़ या अन्य गंदगी निकाल लें। 
  • इसके बाद उन्हें साफ पानी से कम से कम 3-4 बार धोएं। 
  • अगर आप उन्हें भिगोकर बनाना चाहती हैं तो उन्हें सिर्फ 20-30 मिनट भिगोएं। ऐसे में दाल में सीटी लगाना बहुत आसान होगा (दाल का पराठा रेसिपी)। 
  • अगर भिगोकर दाल नहीं बनाना चाहती, तो उसका पानी अच्छे से निकाल लें। 

मोटी दालों को धोने का तरीका

मोटी दालें जैसे राजमा, छोले, चने जैसी दालों को अच्छी तरह से धोना चाहिए। इन्हें भिगोने की जरूरत भी ज्यादा पड़ती है। इन्हें एक रात पहले या बनाने से 5-6 घंटे पहले गर्म पानी में भिगोकर बनाना पड़ता है। ऐसा नहीं है कि इसे धोने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। इन्हें कैसे धोना और भिगोना चाहिए,चलिए जानते हैं। 

  • दालों को पहले अच्छी तरह साफ कर लें।
  • इसके बाद इन दालों को साफ पानी से कम से कम 5-6 बार धोएं। दालों को दोनों हाथों से मसलकर धोना चाहिए।
  • इसके बाद इन दालों को भिगोने के लिए पहले गर्म पानी करें और फिर उन्हें भिगोकर बनाएं। 
ways to wash pulses at home
 

किस दाल को कितनी देर भिगोएं

  • फलियों वाली दालों को कम से कम 6 घंटे के लिए भिगोना चाहिए। 
  • मूंग, मसूर, उड़द और तुवर जैसी साबुत दालों को 4-6 घंटे  भिगोकर रखना चाहिए।
  • राजमा, चने और छोले जैसी मोती दालों को कम से कम 12 घंटे भिगोकर रखना चाहिए (उड़द की दाल में ऐसे लगाएं तड़का)।

अब आप भी दालों को सही ढंग से साफ करके और धोकर बनाएं। जिन्हें भिगोने की जरूरत पड़े उन्हें जरूर भिगोएं। हमें उम्मीद है ये टिप्स आपके काम आएंगे। अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसे लाइक करें और आगे शेयर करने में हमारी मदद जरूर करें। इसी तरह के रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

Image Credit : Freepik & Shopify

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।