मुन्नार केरल के इडुक्की जिले में स्थित है और कुनूर, मैसूर और वायनाड की तरह ही एक सुंदर हिल स्टेशन है। यहां तीन नदियों मधुरपुजहा, नल्लाथन्नी और कुंडाली का संगम है, इसी वजह से इसे मुन्नार कहा जाता है। यह जगह बर्ड वॉचिंग, बोटिंग, गोल्फिंग और ट्रैकिंग के लिए बहुत लोकप्रिय है। अगर आप बैंगलोर या आसपास की जगह से यहां घूमने के लिए आ रहे हैं और आपके पास कम समय है, तो भी आप इस जगह की कई दिलचस्प जगहों की सैर कर सकते हैं। आइए जानें कि यहां के लिए 2 दिन की ट्रिप आप कैसे प्लान कर सकते हैं।

पहला दिन: मुन्नार के चाय बागानों की सैर

tea estates in munnar

एक चीज जो यहां आने वाले हर पर्यटक का दिल खोलकर स्वागत करती है, वो यहां के चाय बागान हैं। मुन्नार में कोलुक्कुमलाई, टाटा टी, सेवनमलाई, पल्लीवसल और फोटो पॉइंट जैसे कुछ लोकप्रिय चाय बागान हैं। मुन्नार से लगभग 2 किमी दूर टाटा टी के नल्लाथन्नी एस्टेट में स्थित, केडीएचपी संग्रहालय विभिन्न प्रकार की प्राचीन वस्तुओं को प्रदर्शित करता है। वहीं, मुन्नार से 35 किमी दूर कोलुक्कुमलाई टी एस्टेट है, जो समुद्र तल से 7000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यह प्लांटेशन दुनिया में सबसे ऊंचा है, जो स्वादिष्ट चाय के लिए भी प्रसिद्ध है। मुन्नार से जीप द्वारा यहां पहुंचने में करीब 52 मिनट का समय लगता है। अगर आप कम समय के लिए मुन्नार आए हैं, तो भी आपको यहां के चाय बागानों में जरूर आने चाहिए।

समय: केडीएचपी चाय बागान में आप सुबह 7 बजे प्रवेश कर सकते हैं। कोलुक्कुमलाई चाय बागान में आप सुबह 9 बजे प्रवेश कर सकते हैं।

एंट्री फीस: केडीएचपी-20 रुपये, कोलुक्कुमलाई- 75 रुपये

ब्लॉसम इंटरनेशनल पार्क

blossom internation park munnar

मुन्नार शहर से करीब 3 किमी दूर है और यह 16 एकड़ से अधिक फैलता है। यह एक शांतिपूर्ण स्थान है जहां एक शांत और आरामदेह स्वभाव चलने का आनंद उठाया जा सकता है जिसमें फूलों और आसपास के हरे पहाड़ की प्रशंसा होती है। पार्क नौकायन, साइकिल चलाना, रोलर स्केटिंग आदि जैसे पर्यटकों के लिए कई गतिविधियों की पेशकश करता है।

समय: पब्लिक छुट्टियों के दौरान भी आप यहां जा सकते हैं। यह पार्क सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक खुलता है।

एंट्री फीस: 10 रुपये

इसे भी पढ़ें :केरल के इन 4 खूबसूरत डेस्टिनेशन्स पर जरूर घूमने जाएं

दूसरा दिन: मट्टुपेट्टी डैम

mattupetty dam munnar

मट्टुपेट्टी मुन्नार से 13 किलोमीटर दूर सुर समुद्र तल से 1700 मीटर ऊपर मट्टुपेट्टी यहां स्थित एक और खूबसूरत स्थल है। जब आप मुन्नार की यात्रा पर हों तो आप मट्टुपेट्टी अवश्य आएं। जिला पर्यटन संवर्धन परिषद (डीटीपीसी), इडुक्की नौका विहार की सुविधा प्रदान करता है। आप यहां स्पीड लॉन्च, स्लो स्पीड बोट और मोटर बोट किराए पर ले सकते हैं। मट्टुपेट्टी और उसके आसपास के शोला वन भी ट्रैकिंग के लिए आदर्श स्थल हैं।

समय: सुबह 9 बजे से शाम पांच बजे तक

एंट्री फीस: 300 रुपये

एराविकुलम राष्ट्रीय पार्क

erravikulam national park

यह पार्क मुन्‍नार के समीप स्थित है जो भारत के नंबर वन जैव विविध क्षेत्रों के रूप में लिस्टेड है। इसे फॉरेस्ट और वाइल्डलाइफ डिपार्टमेंट द्वारा मैनेज किया जाता है। 1975 में एराविकुलम को वन्यजीव अभयारण्य घोषित किया गया और फिर 1978 में इसे राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा दिया गया। यह अद्भुत माउंटेन गोट नीलगिरि तहर का घर है। नीलगिरि तहर के अलावा, इस पार्क में मैमल्स की लगभग 26 विभिन्न प्रजातियां पाई जाती हैं।

समय: सुबह 7 से शाम 4 बजे तक

एंट्री फीस: 15 रुपये

इसे भी पढ़ें :जानिए केरल से जुड़े कुछ ऐसे फैक्ट्स, जिससे अब तक अनजान हैं आप

फन फॉरेस्ट एडवेंचर पार्क

fun forest adventure park munnar

मुन्नार का आकर्षक पहाड़ी परिदृश्य इसे एडवेंचर लवर्स के बीच लोकप्रिय बनाता है। रॉक क्लाइम्बिंग और रैपलिंग बेहद रोमांचकारी गतिविधियां हैं, जो आपको यहां एक प्रोफेशनल मार्गदर्शक के अंडर उपलब्ध होंगी। नेशनल एडवेंचर फाउंडेशन मुन्नार में अन्य एडवेंचर स्पोर्ट्स के साथ-साथ रॉक क्लाइम्बिंग और रैपलिंग जैसी एक्टिविटी का आयोजन करता है।

समय: सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे

एंट्री फीस: 600 रुपये

Recommended Video

कैसे पहुंचें?

how to reach munnar

फ्लाइट से: कोचीन एयरपोर्ट मुन्नार का करीबी एयरपोर्ट है। मुंबई से मुन्नार पहुंचने के लिए फ्लाइट बेस्ट ऑप्शन है। मुंबई से आप कोचीन पहुंच सकते हैं और यहां से आपके पास कई ऑप्शन हैं। बेंगलुरु से भी कोचीन की फ्लाइट आसानी से मिल जाएगी। कोचीन एयरपोर्ट से मुन्नार 3 घंटे में पहुंचा जा सकता है।

ट्रेन से: कोच्चि का एर्नाकुलम जंक्शन रेलवे स्टेशन मुन्नार से करीब 130 किमी दूर है। यहां के लिए भारत के ज्यादातर शहर से आसानी से ट्रेन मिल जाएगी। रेलवे स्टेशन के बाहर मुन्नार तक के लिए टैक्सी की सुविधा है।

अब आप अपनी मुन्नार की ट्रिप को बिना किसी मुश्किल के प्लान कर सकेंगे। उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। ट्रेवल से जुड़े ऐसे अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

Image Credit: wikipedia, keralatourism, thrillophilia & freepik