• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

पूर्वोत्तर-भारत की खूबसूरत वादियों में बसी द्ज़ूकू घाटी के बारे में जानें

भारत की अद्भुत और खूबसूरत जगहों में से एक है द्ज़ूकू घाटी। अगर आपको नहीं है इसके बारे में कोई जानकारी, तो आइए जानते हैं।
author-profile
Next
Article
about dzuko valley

पूर्वोत्तर-भारत अपनी अलौकिक सुंदरता के कारण सिर्फ हिंदुस्तान में ही नहीं बल्कि विश्व स्तर पर भी प्रसिद्ध है। पूर्वोत्तर-भारत की खूबसूरत पहाड़ियों के बीच में ऐसी कई अद्भुत जगहें हैं जहां घूमने के लिए हर साल लाखों देशी और विदेशी सैलानी पहुंचते हैं। इन्हीं खूबसूरत पहाड़ियों के बीच में मौजूद है द्ज़ूकू घाटी, जो जुकोऊ या फिर जुकू घाटी के नाम से भी प्रसिद्ध है।

कई अलौकिक कथाओं के लिए प्रसिद्ध द्ज़ूकू घाटी उन लोगों को ज्यादा आकर्षित करती है जिन्हें सिर्फ वादियों से प्यार रहता है। पूर्वोत्तर-भारत के हिमालय की गोद में मौजूद जुकोऊ घाटी के बारे में अगर आप नहीं जानते हैं, तो इस लेख को आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए क्योंकि, इस लेख में हम आपको द्ज़ूकू घाटी या जुकोऊ वैली के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां आप भी घूमने ज़रूर जाना चाहेंगे, तो आइए जानते हैं।

द्ज़ूकू घाटी के इतिहास के बारे में

history about dzuko valley inside

द्ज़ूकू घाटी का इतिहास बेहद ही दिलचस्प है। इस घाटी को लेकर लोगों का कहना है कि इसका इतिहास 4-5 सौ साल प्राचीन नहीं है बल्कि हजारों साल प्राचीन है। ऐसा माना जाता है कि इस घाटी में प्राचीन काल में हिममानव रहते थे। प्राचीन काल में पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भी इस वैली को हिममानव या आदिमानव का निवास स्थल माना जाता था। हालांकि, अब यह स्थान पर्यटक स्थल का एक बेहतरीन केंद्र बना चुका है और पूर्व भारत के लोगों के लिए यह स्थान किसी स्वर्ग से कम नहीं है।

इसे भी पढ़ें: 3 दिन सिलीगुड़ी घूमने का ट्रिप प्लान कर रहे हैं, तो इन जगहों को करें एक्सप्लोर

कहां है द्ज़ूकू घाटी?  

history about dzuko valley inside

द्ज़ूकू घाटी या जुकोऊ वैली पूर्व-भारत के नागालैंड और मणिपुर के राज्यों के सीमावर्ती क्षेत्र में मौजूद है। समुद्र तल से लगभग 2 हज़ार से भी अधिक मीटर की ऊंचाई पर मौजूद जुकोऊ वैली अपने प्राकृतिक वातावरण और प्राणी-वनस्पति विविधता के लिए प्रसिद्ध है। कहा जाता है कि जो फूल यहां खिलते हैं, वो भारत के किसी अन्य हिस्से में नहीं मिलते हैं। (पार्वती घाटी) परिवार, दोस्त और पार्टनर के साथ घूमने के लिए सबसे बेहतरीन जगहों में से एक मानी जाती है द्ज़ूकू घाटी। 

द्ज़ूकू घाटी में क्या है खास?

history about dzuko valley nagaland isnide

इस वैली की खूबसूरती मौसमी फूलों की सुन्दरता, पेड़-पौधे और ऊंचे-ऊंचे पहाड़ है। कहते हैं कि पूर्व-भारत की ये एक ऐसी जगह है जहां जाने के बाद लगभग हर कोई एक कवि बन जाता है। ये घाटी सबसे अधिक ट्रैकिंग के लिए भी प्रसिद्ध है। कहा जाता है कि नागालैंड के विस्वेमा गांव की पहाड़ियों से होते हुए यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है। बर्ड्स वाचर्स के लिए भी ये जगह किसी जन्नत से कम नहीं है। यहां ऊंचे-नीचे हरे पहाड़, नीला आसमान और बीच में शीशे सी नदी का नजारा किसी जन्नत से कम नहीं लगता है। (जोशीमठ की वादियों में घूमने पहुंचे)

Recommended Video

कैसे पहुंचे?

history about dzuko valley inside

अगर आप द्ज़ूकू घाटी घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं, तो यहां आप आसानी से पहुंच सकते हैं। यहां जाने के लिए सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन दीमापुर रेलवे स्टेशन है, जहां से आप टैक्सी, बस या कैब लेकर घूमने के लिए जा सकते हैं। इसके अलावा आप दार्जिलिंग या कोलकाता से होते हुए भी यहां घूमने के लिए पहुंच सकते हैं। अगर आप हवाई यात्रा के माध्यम से पहुंचना चाहते हैं, तो आप दीमापुर हवाई अड्डा पहुंचकर यहां से लोकल टैक्सी या कैब लेकर घूमने के लिए जा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: आइए जानते हैं भारत के कुछ सबसे सस्ते हिल स्टेशन्स के बारे में

घूमने का समय अच्छा समय 

वैसे तो आप यहां घूमने के लिए किसी भी समय में जा सकते हैं। लेकिन, जूकू घाटी में घूमने का सबसे अच्छा समय सर्दियों के मौसम को माना जाता है। फ़रवरी के आसपास इस घाटी में एक नहीं बल्कि हजारों किस्म से फूल आपको देखने को मिल सकते हैं। (मंडी हिल स्टेशन) आपकी जानकारी के लिए बता दें कि द्ज़ूकू घाटी घूमने के लिए इनर लाइन परमिट लेने की ज़रूरत होती है। इसके लिए आप दीमापुर, कोलकाता और गुवाहाटी या कोहिमा गवर्नमेंट ऑफीस से परमिट ले सकते हैं।

रुकने के लिए जगह 

history about dzuko valley nagaland inside

यहां रुकने के लिए एक से एक बेहतरीन जगहे हैं। यहां आप खुद से टेंट लगाकर रुक सकते हैं। अगर आप किसी होटल में रुकना चाहते हैं, तो होटल जाप्फू, राज़्हु प्रु, अराडूरा इन और होटल कैपिटल जैसी जगह आप आसानी से रूक सकते हैं। आपको बता दें कि इन होटलों में आप एक से एक बेहतरीन स्थानीय व्यंजन से लेकर विदेशी भोजन का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@carrypro.in,lostwithpurpose.com)

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।