ज्यादातर घरों में खाना बनाने के लिए गैस का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि कई बार यह लोगों के लिए खतरनाक साबित भी हुई है। इसलिए अक्सर ऐसा कहा जाता है कि जब भी गैस लीक होने की समस्या दिखे तो नजरअंदाज बिल्कुल ना करें। गैस लीक होने की स्थिति को नजरअंदाज करने से एक बड़ी दुर्घटना हो सकती है। हालांकि, जब हम कनेक्शन लेते हैं तो कुकिंग गैस से जुड़ी सभी जानकारियां हमें दी जाती हैं। ऐसे में गैस लीक या फिर इससे जुड़ी अन्य समस्याएं होने पर सावधानियों को जरूर बरतें।

कई बार हमें गैस लीक होने की जानकारी नहीं होती है, जिसकी वजह से गैस न सिर्फ जल्दी खत्म हो जाती है बल्कि बड़ी दुर्घटना होने की भी संभावना रहती है। इसलिए समय-समय पर गैस को जरूर चेक करें, अगर आपको लगता है कि किसी तरह की समस्या है तो पैनिक ना हों, बल्कि यहां बताई गई बातों का ध्यान रखें।

गैस लीक होने पर इन बातों का ध्यान रखें

cooking gas leak

  • गैस के आसपास कुछ चीजें जैसे लाइटर, माचिस, ऑयल आदि नहीं रखना चाहिए। इससे आग लगने की संभावना हो सकती है। 
  • खाना बनाने के बाद गैस सिलेंडर को बंद कर देना चाहिए। इसके अलावा गैस चूल्हे को भी बंद रखें। कई लोग खाना बनाने के बाद गैस बंद कर देते हैं, लेकिन रेगुलेटर को ऑफ करना भूले जाते हैं।
  • अगर आपको गैस लीक होने पर गंध आ रही है तो घबराएं नहीं बल्कि सबसे पहले घर के दरवाजे और खिड़कियों को खोल कर रख दें। इस दौरान इलेक्ट्रिक फैन या फिर एग्जॉस्ट फैन ऑन न करें। इलेक्ट्रिक फैन या फिर एग्जॉस्ट फैन (एग्जॉस्ट फैन की सफाई) ऑन कर देने से गैस की गंध पूरे कमरे में फैल जाएगी, जिससे सांस लेने में दिक्कत आ सकती है।
  • अगर सांस लेते वक्त गंध अंदर चली गई है तो बाहर खुली हवा में जाकर फ्रेश हवा इनहेल करें। इसके अलावा आंखों में खुजली हो रही है तो तुरंत ठंडे पानी से धोएं। वहीं गैस लीक होते वक्त अपने मुंह पर एक कपड़ा जरूर रखें, ताकि सांस लेने में परेशानी ना हो।
  • घर में हीटर, अगरबत्ती जैसी चीजें जल रही हैं तो उसे तुरंत बुझा दें। वहीं बच्चों को ऐसी स्थिति में बाहर कर दें, ताकि उन्हें किसी तरह की समस्या ना हो। जितना जल्दी हो सके टेक्नीशियन को तुरंत बुलाकर चेक करवाएं।

रेगुलेटर और पाइप भी करें चेक

check regulator

यह जरूरी नहीं गैस लीकेज सिलेंडर से हो, कई बार इसकी वजह रेगुलेटर और पाइप भी हो सकते हैं। समय-समय पर सिलेंडर और रेगुलेटर की जांच करवाने के अलावा हर दो साल में गैस चूल्हे को भी चेक करवाएं। वहीं हर पांच साल में रबर ट्यूब चेंज कर दें, हालांकि, आजकल मार्केट में कई तरह के पाइप उपलब्ध हैं। इसलिए कोशिश करें कि प्रमाणित रबर ट्यूब ही इस्तेमाल करें। वहीं रेगुलेटर (रेगुलेटर से गैस पाइप निकालने का तरीका) भी प्रमाणित होना चाहिए, यह लंबे वक्त तक इस्तेमाल किया जा सकता है। लोकल रेगुलेटर जल्द खराब होने की संभावना रहती है, इससे गैस भी लीक हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: किचन की लकड़ी की अलमारियों को साफ करने के आसान उपाय

 

सिलेंडर में आग लग जाए तो करें ये काम

gas cylinder leakage

जब भी गैस लीक होने पर सिलेंडर(कैसे पता लगाए कि सिलेंडर होने वाला है खाली) में आग लग जाए तो घबराएं नहीं बल्कि एक चादर और मोटा टॉवल तुरंत पानी में भिगोएं और सिलेंडर से लपेट दें। इससे आग तुरंत बुझ जाएगी। इसके अलावा इन दिनों कई ऐसे इक्विपमेंट मार्केट में मौजूद है, जिसका इस्तेमाल आप आग बुझाने के लिए कर सकते हैं। आप चाहें तो फायर एक्सटिंग्विशर का भी उपयोग कर सकती हैं।

अगर आपके घर में कभी गैस लीक होने की स्थिति पैदा हो तो यहां बताए गए टिप्स को जरूर फॉलो करें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हर जिंदगी से जुड़ी रहें।