क्‍या आपको कमल ककड़ी पसंद है?
लेकिन साफ करने में परेशानी होती है?
और इसे काटना तो आपके लिए किसी मुसीबत की तरह लगता है?
पोषक तत्‍वों से भरपूर होने के बावजूद आप इसे खा नहीं पाती हैंं।
जी हां इस पौष्टिक सब्‍जी को ज्‍यादातर लोग खाना चाहते हैं लेकिन सिर्फ इसलिए इसे खाने से बचते हैं क्‍योंकि इसमें फंसी मिट्टी के कारण इसे साफ करना और काटना बहुत मुश्किल होता है। अगर आप भी ऐसी ही महिलाओं में से एक हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको कमल ककड़ी को साफ करने और काटने के आसान तरीके के बारे में बता रहे हैं।  

कोरोना वायरस महामारी के दौरान हम में से अधिकांश ने किचन में काफी समय बिताया है और महसूस किया है कि खाना बनाना इतना आसान नहीं है जितना की ज्‍यादातर लोगों को लगता था। एक डिश को तैयार करने के लिए इसे पकाना ही नहीं बल्कि सब्जियों को खरीदना, साफ करना और काटना भी होता है और यह बात इस समय के दौरान समझ में आया कि कुछ सब्जियां को साफ और काटने में बहुत समय लगता है। इसलिए कुछ दिनों पहले हमने आपको कटहल को काटने और साफ करने के तरीके के बारे में बताया था। लेकिन कुछ और भी सब्जियां हैं जिन्‍हें आपको बनाने के लिए बहुत ज्‍यादा मेहनत करनी होती है और ऐसी ही एक सब्‍जी कमल ककड़ी है। इसे भारतीय व्यंजनों में करी और कोफ्ता सहित विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाने के लिए उपयोग किया जाता है ।

कमल ककड़ी को पोषक तत्‍वों का पावरहाउस कहा जाता है क्‍योंकि यह विटामिन सी से भरपूर होता है जो शरीर के विभिन्‍न कार्यो के लिए जरूरी होता है, पोटेशियम ब्‍लड शुगर के लेवल को विनियमित करने के लिए जिम्‍मेदार है, विटामिन बी तनाव और चिड़चिड़ापन को कम करने के लिए अच्छा है और आहार फाइबर जो आपको अधिक समय तक भरपूर रखता है। यह वाटर रिटेंशन को रोकने में मदद करता है जो कई लोग पोटेशियम की उपस्थिति के कारण अनुभव करते हैं जो शरीर में अतिरिक्त सोडियम को अवशोषित करता है।

इसे जरूर पढ़ें: ये फूड्स ताजा ही नहीं बल्कि, बासी होने के बाद भी लगती है और भी टेस्टी

फायदेमंद है कमल ककड़ी

lotus stem cleaning tips inside

कमल ककड़ी में पायरोडॉक्सीन अच्छी मात्रा में होता है। स्ट्रेस के मरीजों को कमल ककड़ी अधिक से अधिक खानी चाहिए। इसके सेवन से तनाव कम करने में मदद मिलती है। कमल ककड़ी के सेवन से शरीर में रेड ब्‍लड सेल्‍स की मात्रा बढ़ जाती है। इससे लो हीमोग्लोबिन की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है। जो महिलाएं अपना फैट कम करना चाहती हैं, उन्हें कमल ककड़ी को अपने भोजन में जरूर शामिल करना चाहिए। इसमें पोषक तत्व बहुत अधिक होते हैं और कैलोरी बहुत कम होती है। इस कारण यह हमारे शरीर को जरूरी एनर्जी देती है लेकिन फैट नहीं बढ़ने देती।  

Recommended Video

कमल ककड़ी साफ करने और काटने का तरीका?

lotus stem cleaning tips inside

  • कमल ककड़ी को दोनों साइड से किनारे से काट लें। 
  • फिर पिलर की मदद से स्‍टेम को साफ करें। 
  • सुनिश्चित करें कि सारे छिलके अच्‍छे से साफ हो जाएं। 
  • एक बार ऐसा हो जाने के बाद इसे अच्छी तरह से धो लें। 
  • इसमें छिद्रों के अंदर भी पानी से अच्‍छी तरह से साफ करें।
  • अब कमल ककड़ी को तिरछा काटें। 
  • ऐसा इसलिए क्‍योंकि इस सब्‍जी का तना हेयरी होता है और इसे सीधे तरीके से काटना कठिन हो जाता है। 
  • सीधा काटने से इसका पकाना भी मुश्किल हो जाता है। 
  • यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है कि आप सब्जी को कैसे काटना चाहते हैं - बारीक या बड़े टुकड़ों में।
  • अगर आपको इतना करने के बावजूद टुकड़ों के अंदर गंदगी दिखाई दे रही है तो इसे एक टूथपिक से साफ करें। 
  • आप चाहें तो एक कॉटन बड या टुकड़ों को गर्म पानी में भिगोकर इसे साफ कर सकती हैं।  
  • पानी को गर्म करें और कमल ककड़ी को इसमें थोड़ी देर के लिए भिगोकर रख दें। 
  • लेकिन कमल ककड़ी के अंदर का भूरा दिखने वाला रंग गंदगी नहीं होता है। यह एक तरह से कमल का तना है। 

कमल ककड़ी को तलकर या उबालकर सब्‍जी या कोफ्ते के रूप में बनाया जा सकता है। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image credit: Freepik.com