जम्मू-कश्मीर को धरती का जन्नत कहा जाता है। यह अपनी खूबसूरती के साथ-साथ अपनी बेहद खास संस्कृति, व्यंजनों और धार्मिक स्थलों के लिए जाना जाता है। इन सब चीजों के साथ-साथ कश्मीर अपने प्राचीन मंदिरों और खूबसूरत स्मारकों के लिए भी प्रसिद्ध है। अवंतीपोरा भी जम्मू-कश्मीर का एक ऐसा पर्यटन स्थल है जो अपनी बेमिसाल खूबसूरती के साथ-साथ अपनी धार्मिक मान्यताओं के लिए भी जाना जाता है।

जम्मू की खूबसूरती का लुत्फ लेने के लिए हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक यहां आते हैं लेकिन, बेहद कम लोग ही जानते हैं अवंतीपोरा के बारे में। अवंतीपोरा पुलवामा जिले में स्थित है। इस लेख के जरिए हम आपको अवंतीपोरा के बारे में बताने वाले हैं जो अपनी बेमिसाल खूबसूरती के साथ-साथ अपनी धार्मिक महत्व के लिए भी जाना जाता है। आइए जानते हैं यहां घूमने वाली कुछ शानदार जगहों के बारे में-

अवंती स्वामी मंदिर

Awanti Swami Mandir Awantipora

अवंती स्वामी मंदिर श्रीनगर से 28 किलोमीटर दूर अनंतनाग जिले में स्थित है। यह बेहद खूबसूरत मंदिर झेलम नदी के किनारे बना हुआ है। ऐतिहासिक रूप से यह माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण जम्मू कश्मीर के शासक उत्पल वंश के पहले राजा, अवंती वर्मन ने 855 से 883 AD में करवाया था। इस मंदिर में भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। माना जाता है कि अवंतीपोरा में यह दूसरा मंदिर है। इससे पहले यहां भगवान शिव का भी मंदिर है जो अवंतीश्वर मंदिर के नाम से जाना जाता है। अवंतीश्वर मंदिर अवंती स्वामी मंदिर से कुछ दूर पर ही स्थित है। इन दोनों मंदिरों के बीच में एक बेहद खूबसूरत झील भी है जो तुलियन झील के नाम से जानी जाती है। इस मंदिर को यूनानी वास्तुशैली से बनवाया गया है। प्राकृतिक आपदा के कारण यह मंदिर जमीन के नीचे दफन हो गया था लेकिन, अंग्रेजों द्वारा 18 वीं सदी में खुदाई करने पर इस मंदिर के अवशेष मिले। मंदिर के कुछ कीमती अवशेषों को श्रीनगर के श्री प्रताप म्यूजियम में रखा गया है। यह बेहद खूबसूरत प्राचीन मंदिर आज भी अपनी धरोहर को लिए इतिहास की गवाही दे रहा है। इस मंदिर में एक सभागृह में चार और मूर्तियां स्थापित हैं। मूर्ति से पहले मंडप और चार स्‍तंभ भी हैं। आज भी कई लोग बड़ी आस्था के साथ इस मंदिर में पूजा अर्चना करते हैं।

इसे ज़रूर पढ़ें- क्या आप जानते हैं तमिलनाडु के इन रहस्यमय स्थानों के बारे में

तुलियन झील  

Tulian Lake

आपको बता दें कि तुलियन झील एक बेहद खूबसूरत झील है जो पुलवामा और अनंतनाग जिले के बीच में पड़ती है। इस झील की खास बात यह है कि यह समुद्र तल से 3,684 मीटर स्थित है। इतनी ऊंचाई पर होने के कारण और ठंड ज्यादा होने के कारण यहां सर्दियों के मौसम में पानी जम जाता है। गर्मियों के मौसम में भी इस झील में आपको बर्फ के टुकड़े देखने को मिल जाएंगे। आसपास में झील के किनारे आपको देवदार के जंगलों और घास युक्त मैदान भी मिल जाएंगे। यहां आपको दो हिमालय पर्वत पीर पंजाल और जांस्कर श्रृंखलाएं भी मिला जाएंगी। इस स्थान पर आपको कश्मीर की असली खूबसूरती के दीदार करने का मौका मिलेगा।

अवंतीश्वर मंदिर

Religious Shrine in Jammu

यह मंदिर अवंती स्वामी मंदिर से कुछ दूर पर ही स्थित है। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर का भी निर्माण उत्पल वंश के पहले राजा, अवंती वर्मन द्वारा 855 से 833 AD के बीच में ही करवाया गया था। प्राकृतिक आपदा के कारण यह मंदिर भी जमीन के नीचे दब गया था, लेकिन 18 वी सदी में अंग्रेजों द्वारा करवाई गई खुदाई में यह मंदिर मिला। इस मंदिर को भी यूनानी वास्तुशैली से बनवाया गया है। इस मंदिर पर ठीक से ना ध्यान देने के कारण यह विलुप्त होने की कगार पर है। यहां के कई लोकल लोगों का यह मंदिर आस्था का केंद्र है और यहां सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु भगवान शिव के शिवलिंग पर जल और दूध चढ़ाने आते हैं। इस मंदिर के अंदर की दीवारों पर आपको बेहद खास कला देखने को मिलेगी जिससे आपका मन खुशी से झूम उठेगा।

इसे ज़रूर पढ़ें- जानें क्यों है खास ओडिशा का मयूरभंज शहर 

Recommended Video

अवंतीपोरा के पास श्रीनगर में घूम सकती हैं इन जगहों पर

Dal Lake

जम्मू कश्मीर के अवंतीपोरा से 28 किलोमीटर दूर है। श्रीनगर में कई ऐसी जगह है जहां आप कुदरत की बेजोड़ खूबसूरती का नजारा ले सकती हैं। हर साल लाखों की संख्या में सैलानी श्रीनगर की डल झील को देखने आते हैं। इस झील के आसपास हिमालय के नजारों को देखकर आप मंत्रमुग्ध हो जाएंगी। इसके अलावा आप मुगल गार्डन, शालीमार बाग़, वुलर झील, प्रसिद्ध जामिया मस्जिद आदि के भी दर्शन कर सकती है।

अवंतीपोरा आने का सही समय

अगर आप जम्मू कश्मीर घूमने का प्लान बना रही हैं तो अवंतीपोरा आपके लिए बेहद अच्छा ऑप्शन हो सकता है। अगर आप भी इस जगह आना चाहती तो अप्रैल से नवंबर के बीच में अपना प्लान बना सकती हैं। इस दौरान यहां 25 डिग्री सेल्सियस तक तापमान रहता है जो घूमने के लिए बेहद अच्छा है।

आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ जुड़ी रहें।

(Image Credit: Wikipedia, Shutterstock)