अगर आप 138 किस्म के गुलाब के फूल एक साथ देखना चाहती हैं तो आप 6 फरवरी को मुगल गार्डन जा सकती हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 4 फरवरी को शुभारंभ करेंगे लेकिन पब्लिक के लिए 6 फरवरी को खुलेगा। यह गार्डन करीब 13 एकड़ एरिया में फैला हुआ है। मुगल गार्डन में ब्रिटिश और मुगल स्टाइल में झरने और अन्य कलाकृतियों का निर्माण किया गया है। 

 भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉक्टर राजेन्द्र प्रसाद ने इस गार्डन को आम जनता के लिए खोलने का आदेश दिया था। तभी से हर साल फरवरी से लेकर मार्च मिड तक यह गार्डन देश के आम लोगों के लिए खोला जाता है। अगर आप इस बार मुगल गार्डन देखने जाने का प्लान बना रही हैं तो जरूर जान लें ये बातें। 

mughal garden information

मुगल गार्डन बुकिंग 

मुगल गार्डन देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग जाते हैं इसलिए इस बार एंट्री की ऑनलाइन व्यवस्था होने जा रही है। आप घर बैठे उस वक्त का स्लॉट ऑनलाइन बुक करा सकती हैं जब आप वहां पहुंचेंगी। अब आप जानिए आपको क्या करना होगा। इसके लिए आपको rashtrapatisachivalaya.gov.in पर जाकर Plan your visit टैब पर क्लिक करना होगा। इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जहां से आप ऑनलाइन बुकिंग करा सकती हैं। बुकिंग होने के बाद आपके पास एक एसएमएस आ जाएगा। 

इसे जरूर पढ़े: दुबई में है दुनिया का सबसे बड़ा नैचुरल फ्लावर गार्डेन

मुगल गार्डन टाइम और फीस 

मुगल गार्डन को घूमने के लिए किसी भी तरह का शुल्क नहीं देना होता है। यहां एंट्री फ्री होती है। मुगल गार्डन सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक आम पब्लिक के लिए खुला रहता है। सोमवार को यह गार्डन साफ-सफाई और मेंटेनेंस के लिए बंद रहता है। 

mughal garden information

नजदीक मेट्रो स्टेशन और पार्किंग 

मुगल गार्डन के लिए एंट्री राष्ट्रपति भवन के गेट नंबर 35 से होती है। मुगल गार्डन के लिए सबसे नजदीकी मेट्रो स्टेशन का नाम सेंट्रल सेक्रेटरिएट है। इस मेट्रो स्टेशन पर पहुंचकर आपको मुगल गार्डन जाने के लिए रेल भवन की तरफ से बाहर निकलना होगा और इससे आपको राष्ट्रपति भवन का गेट नंबर 35 पास पड़ेगा। 

इसे जरूर पढ़े: सर्दियों में जयपुर ये 7 जगहें देखने जरूर जाएं

mughal garden information

इन बातों का रखें ध्यान 

मुगल गार्डन में एंट्री करते टाइम कुछ बातों का ध्यान रखें। कैमरा, रेडियो, छाता, पानी बोतल, फास्ट फूड और बड़े हैंडबैग के साथ आप मुगल गार्डन में एंट्री नहीं ले पाएंगी। ये सामान आपसे लेकर बाहर ही रख दिया जाएगा।

मुगल गार्डन की खासियत 

मुगल गार्डन में देखने लायक है मुगल कालीन विरासत और कला। साथ ही करीब 13 एकड़ में फैला यह पार्क 175 मीटर चौड़ा है। जो चार भागों में बांटा गया है। यहां करीब 3000 से ज्यादा फूलों के पौधे हैं जिनमें करीब 135 प्रकार के सिर्फ गुलाब हैं। हर्बल गार्डन है जहां आपको अश्वगंधा, ब्राह्मी, लैमन-ग्रास, पांच प्रकार की मिंट, खुशबूदार ऑयल के पेड़-पौधे दिख जाएंगे। म्यूजिकल गार्डन जहां संगीत के साथ फव्वारे चलते हैं। बोंसाई गार्डन यहां देखने को मिलेंगी 50 प्रकार की बोंसाई पौधों की किस्में। न्यूट्रिशन गार्डन यहां आपको आम-संतरे और तरह-तरह की स्वास्थ्यप्रद फल-सब्जियों के पेड़- पौधे देखने को मिल जाएंगे। 

 

Loading...
Loading...